स्टीव स्मिथ ने टीम चयन में पक्षपात के आरोपों को नकारा

ऑस्ट्रेलियाई टीम के कप्तान स्टीव स्मिथ ने इस बात को सिरे से नकार दिया है कि एशेज श्रृंखला से पहले वो अपने पसंदीदा खिलाड़ियों को ही टीम में चुन रहे हैं। उन्होंने टीम चयन में पक्षपात के आरोपों को पूरी तरह से नकार दिया है। गौरतलब है कि शेफील्ड शील्ड के पहले मैच में स्टीव स्मिथ ने एड कोवन की जगह डेनियल ह्यूज को टीम में शामिल किया था। इसके बाद उन पर टीम चयन में पक्षपात का आरोप लगा था। हालांकि अब स्मिथ ने इससे पूरी तरह से इनकार किया है। स्टीव स्मिथ ने अपने ऊपर लगाए गए आरोपों पर कहा कि मैं चयनकर्ता नहीं हूं लेकिन चयनकर्ताओं से बात करके मैं अपनी राय जरुर रखता हूं। ये आरोप पूरी तरह से बकवास हैं कि मैं अपने पसंदीदा खिलाड़ियों को ही चुन रहा हूं। मैं इस बात से बिल्कुल भी इत्तेफाक नहीं रखता। स्मिथ ने आगे कहा कि ' लोगों को जो पसंद है वे कुछ भी कह सकते हैं। मैंने इस बारे में पढ़ा लेकिन इससे मुझे कोई दिक्कत नहीं है। गौरतलब है इससे पहले भी ऑस्ट्रेलियाई टीम के पूर्व तेज गेंदबाज रॉडनी हॉग ने भी स्टीव स्मिथ पर पक्षपात का आरोप लगाया था। उन्होंने हाल ही में भारत के खिलाफ एकदिवसीय श्रृंखला में कुछ खिलाड़ियों के चयन पर सवाल उठाए थे। उनका कहना था कि स्मिथ योग्य खिलाड़ियों को ना चुनकर अपने करीबी खिलाड़ियों को टीम में जगह दे रहे हैं। हॉग ने कहा कि था कि वे अपने करीबी लोगों को चुन रहे हैं। हमें एकदम बिना किसी पक्षपात के टीम का चयन करना चाहिए। उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के भारत दौरे के दौरान कहा था कि हम अभी अच्छी क्रिकेट नहीं खेल रहे हैं और मुझे लगता है कि स्टीव स्मिथ अपने तरीके से टीम को चला रहे हैं। गौरतलब है ऑस्ट्रेलियाई टीम भारत से 4-1 से एकदिवसीय श्रृंखला हार गई थी। अब इंग्लैंड के खिलाफ 23 नवंबर से एशेज सीरीज शुरु होनी है। ऐसे में इस अहम श्रृंखला से पहले एक बार फिर से स्मिथ पर ये आरोप लगा है।

Edited by Staff Editor