Create
Notifications

'महेंद्र सिंह धोनी जानते हैं कि मुझसे बेस्ट प्रदर्शन कैसे निकालना है'

महेंद्र सिंह धोनी
महेंद्र सिंह धोनी
निरंजन

सफेद गेंद के सेटअप में सबसे बेहतरीन बाएं हाथ के बल्लेबाजों में से एक पूर्व भारतीय ऑलराउंडर सुरेश रैना (Suresh Raina) ने अपने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट करियर के दौरान एमएस धोनी (MS Dhoni) के साथ साझा किए गए विशेष बंधन के बारे में प्रतिक्रिया दी है। रैना ने टीम इंडिया के पूर्व कप्तान धोनी के साथ शानदार तालमेल साझा किया। रैना जहां चेन्नई सुपरकिंग्स (सीएसके) के लिए सबसे सफल बल्लेबाज हैं, वहीं धोनी तीन बार के इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) चैंपियन की प्रेरक शक्ति हैं।

अपने-अपने अंतरराष्ट्रीय करियर के दौरान रैना और धोनी ने कई मौकों पर शानदार पारियां खेल मैच जीतने वाली साझेदारियां बनाकर टीम इंडिया को बचाया। अपने कड़वे-मीठे सफेद गेंद वाले करियर के दौरान टीम इंडिया को गौरव दिलाने के बावजूद रैना को केवल पूर्व कप्तान धोनी के साथ अपनी दोस्ती के कारण भारतीय राष्ट्रीय टीम का हिस्सा होने के लिए आलोचनाओं का सामना करना पड़ा।

सुरेश रैना का बयान

अपने अंतरराष्ट्रीय करियर के दौरान लगातार आलोचनाओं का सामना करते हुए रैना ने अपनी आत्मकथा में धोनी के साथ अपने संबंधों के बारे में विस्तार से बताया। सीएसके के ऑलराउंडर ने कहा कि उन्होंने भारतीय राष्ट्रीय टीम में अपनी जगह बनाने के लिए कड़ी मेहनत की। रैना ने यह भी कहा कि पूर्व कप्तान धोनी जानते हैं कि उनसे सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कैसे प्राप्त किया जाए।

सुरेश रैना
सुरेश रैना

रैना ने अपनी आत्मकथा में लिखा है कि धोनी जानते थे कि मुझसे सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कैसे हासिल किया जाए और मैंने उन पर भरोसा किया। जब लोग भारतीय टीम में मेरे लिए एक स्थान के साथ हमारे संबंध की तुलना करते हैं, तो इससे बहुत दुख होता है। मैंने हमेशा टीम इंडिया में अपना स्थान हासिल करने के लिए कड़ी मेहनत की है, मैंने धोनी का विश्वास और सम्मान अर्जित किया है।

2004 में धोनी के आने की घोषणा के एक साल बाद ही रैना ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में पदार्पण किया। दिलचस्प बात यह है कि जब धोनी ने 15 अगस्त, 2020 को अपने अंतरराष्ट्रीय करियर को अलविदा कहा तो रैना भी इसमें उनके साथ शामिल हो गए और संन्यास का ऐलान कर दिया।


Edited by निरंजन

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...