Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

सुरेश रैना ने बताया कि कैसे राहुल द्रविड़ ने कामरान अकमल को आउट करने का प्लान बनाया था

  • सुरेश रैना एक जबरदस्त फील्डर हैं और राहुल द्रविड़ की कप्तानी में उन्होंने काफी खेला है
  • सुरेश रैना ने बताया कि किस तरह से राहुल द्रविड़ ने पूर्वानुमान लगाया था
SENIOR ANALYST
न्यूज़
Modified 27 Jun 2020, 09:33 IST
सुरेश रैना और राहुल द्रविड़
सुरेश रैना और राहुल द्रविड़

भारतीय टीम के दिग्गज खिलाड़ी सुरेश रैना ने पाकिस्तान के खिलाफ एक मैच का जिक्र किया है। उस मैच में राहुल द्रविड़ ने पाकिस्तान के विकेटकीपर बल्लेबाज कामरान अकमल को आउट करने के लिए एक जबरदस्त प्लान बनाया था और वो प्लान काफी सफल भी रहा था।

2006 में भारतीय टीम पाकिस्तान के दौरे पर गई थी और मुल्तान में चौथा वनडे मुकाबला खेला जा रहा था। कामरान अकमल और सलमान बट्ट पाकिस्तान की तरफ से सलामी बल्लेबाजी कर रहे थे और इरफान पठान गेंदबाजी कर रहे थे। पाकिस्तानी टीम बिना किसी नुकसान के 14 रन बना चुकी थी और स्ट्राइक पर कामरान अकमल थे और उसके बाद राहुल द्रविड़ ने सुरेश रैना को ऐसी पोजिशन पर खड़ा किया कि कामरान अकमल वहीं पर कैच दे बैठे।

ये भी पढ़ें: उमर गुल ने विराट कोहली को लेकर दिया बड़ा बयान

सुरेश रैना ने बताया कि किस तरह राहुल द्रविड़ ने जबरदस्त कप्तानी की थी

सुरेश रैना ने एबीपी न्यूज पर कपिल देव को दिए इंटरव्यू में कहा कि मुझे याद है कि मैंने पाकिस्तान के खिलाफ प्वॉइंट पर एक शानदार कैच लिया था। राहुल द्रविड़ हमारे कप्तान थे, इरफान पठान गेंदबाज थे और कामरान अकमल बल्लेबाजी कर रहे थे। उस समय ये नियम था कि कैचिंग फील्डर को 15 गज के अंदर ही रहना होता था। राहुल भाई ने मुझसे पूछा कि क्या तुम प्वॉइंट पर खड़े होगे। मैंने कहा कि हां बताओ कहां खड़ा होना है। उन्होंने कहा वहां जाकर खड़े हो जाओ और कैच लेने के लिए तैयार रहो।

ये भी पढ़ें: कई खिलाड़ियों के कोरोना पॉजिटिव होने के बावजूद पाकिस्तानी टीम करेगी इंग्लैंड का दौरा

सुरेश रैना ने बताया कि जैसे ही इरफान पठान ने अगली गेंद डाली, कामरान अकमल ने उस पर तेजी से प्रहार किया। मैंने गेंद को देखा और वो सीधा मेरे हाथ में आ गई। मुझे जिस चीज ने सबसे ज्यादा प्रभावित किया वो ये था कि राहुल भाई को पता था कि वहां पर कैच आ सकता है और अगली ही गेंद पर वहां कैच आ गया।

सुरेश रैना ने कहा कि मुझे वो कैच इसलिए याद है क्योंकि कप्तान से लेकर गेंदबाज और फील्डर तक सब उसमें शामिल थे। ये फील्डर का काम होता है कि वो कैच के लिए हमेशा तैयार रहे।

Published 27 Jun 2020, 09:33 IST
Advertisement
Fetching more content...
Get the free App now
❤️ Favorites Edit