सुरेश रैना ने उनके और एम एस धोनी के 15 अगस्त के दिन संन्यास लेने का कारण बताया

Nitesh
सुरेश रैना और एम एस धोनी
सुरेश रैना और एम एस धोनी

भारतीय टीम के पूर्व कप्तान एम एस धोनी और दिग्गज क्रिकेटर सुरेश रैना ने 15 अगस्त की रात एकसाथ अपने संन्यास का ऐलान कर दिया। पहले एम एस धोनी ने संन्यास लिया और उसके कुछ देर बाद सुरेश रैना ने भी रिटायरमेंट की घोषणा कर दी। सुरेश रैना ने अब अपने और धोनी के संन्यास से जुड़ा एक अहम खुलासा किया है। रैना ने बताया कि 15 अगस्त के दिन ही उन्होंने और धोनी ने क्यों संन्यास लेने का फैसला किया।

दैनिक जागरण के साथ खास बातचीत में सुरेश रैना ने कहा " मुझे पता था कि एम एस धोनी चेन्नई पहुंचकर अपने संन्यास का ऐलान करने वाले हैं। इसलिए मैं पहले से ही तैयार था। मैं, पियूष चावला, कर्ण शर्मा और दीपक चाहर 14 अगस्त को चार्टड प्लेन से रांची पहुंचे थे। वहां से माही भाई और मोनू सिंह हमारे साथ हो लिए।"

ये भी पढ़ें: सुरेश रैना ने संन्यास के एक दिन बाद अधिकारिक तौर पर बीसीसीआई को अपने फैसले की दी जानकारी

सुरेश रैना ने बताया कि 15 अगस्त के दिन संन्यास का ऐलान क्यों किया

सुरेश रैना ने आगे कहा " एम एस धोनी की जर्सी का नंबर 7 है और मेरी जर्सी का नंबर 3 है। 15 अगस्त को भारत की आजादी के 73 साल पूरे हुए और इसी वजह से हमने इसी दिन संन्यास लेने का फैसला किया। इससे बेहतर दिन रिटायरमेंट का और कोई नहीं हो सकता था।"

रैना ने कहा " रिटायरमेंट का ऐलान करने के बाद हम आपस में गले लगकर खूब रोए। मैंने, पियूष, अंबाती रायडू, केदार जाधव और कर्ण शर्मा ने एकसाथ बैठकर अपने करियर और रिलेशनशिप के बारे में बात की। हमने रात में पार्टी भी की।"

सुरेश रैना ने कहा कि अब उनके ऊपर से दबाव हट गया है। इसलिए अब वो आईपीएल में खुलकर खेलेंगे। इस सीजन हमें रैना के बल्ले से खूब चौके-छक्के देखने को मिल सकते हैं।

सुरेश रैना ने एक इंस्टाग्राम पोस्ट के जरिए अपने संन्यास का ऐलान किया था। उन्होंने कहा था " माही भाई आपके साथ खेलना काफी शानदार रहा। काफी गर्व के साथ इस सफर में मैं भी आपके साथ जुड़ता हूं। थैंक्यू इंडिया, जय हिंद।"

ये भी पढ़ें: एम एस धोनी का कोई फेयरवेल मैच नहीं होगा - राजीव शुक्ला

Quick Links

App download animated image Get the free App now