Create

सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी के नॉक आउट मैचों से पहले टीमों का हुआ कोरोना टेस्ट 

मोटेरा, अहमदाबाद
मोटेरा, अहमदाबाद
निरंजन

सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी (Syed Mushtaq Ali Trophy) के नॉक आउट मैचों के लिए टीमें अहमदाबाद पहुँच गई हैं जहाँ सभी खिलाड़ियों का कोरोना परीक्षण नेगेटिव आया है। टीमें फ़िलहाल क्वारंटीन में हैं और मुकाबले 26 जनवरी से शुरू होंगे। क्वार्टर फाइनल मैचों के बाद सेमीफाइनल टीमों के बारे में पता चलेगा। कोरोना टेस्ट नेगेटिव आना एक राहत की बात कही जा सकती है।

कर्नाटक, पंजाब, तमिलनाडु, हिमाचल प्रदेश, हरियाणा, बड़ौदा, बिहार और राजस्थान के क्वार्टर फाइनल लिए क्वालीफाई कर चुकी हैं। टीमें 20 जनवरी को पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार अहमदाबाद और कार्यक्रम स्थल पर पहुंची, और सभी उनके आगमन पर तुरंत कोविड 19 परीक्षण किया गया।

क्रिकबज ने गुजरात क्रिकेट संघ के हवाले से एक रिपोर्ट में कहा है कि सभी टीमें फ़िलहाल क्वारंटीन प्रक्रिया से गुजर रही हैं। इसके अलावा मोटेरा स्टेडियम का ग्राउंड स्टाफ और मैच अधिकारी भी क्वारंटीन में हैं। नॉक आउट मैचों में फ़िलहाल कुछ दिनों का समय बचा हुआ है। चेतन शर्मा की अध्यक्षता वाली नई चयन समिति भी नॉक आउट मैचों को देखने के लिए आ सकती है। हालांकि सभी चयनकर्ता वहां जाते हैं या नहीं, इसके बारे में कुछ भी स्पष्ट नहीं है।

टूर्नामेंट के क्वार्टर फाइनल मुकाबले 26 जनवरी से शुरू होंगे। पहले दिन दो मैच होंगे। इसके बाद अगले दिन भी इतने ही मुकाबले खेले जाएंगे। इसके बाद सेमी फाइनल मैच होंगे और सबसे अंत में फाइनल मैच होगा। अहमदाबाद में बने नए सरदार पटेल स्टेडियम में फाइनल सहित सभी मैचों का आयोजन किया जाएगा। पहली बार इस मैदान पर प्रोफेशनल क्रिकेट का नजारा देखने को मिलेगा। उसके बाद भारत और इंग्लैंड के बीच टेस्ट मैच भी वहां खेले जाएंगे।

लीग चरण के मुकाबले 10 जनवरी से लेकर 19 जनवरी तक चले थे और मुंबई की टीम इसमें बाहर हो गई जो काफी चौंकाने वाली बात कही जा सकती है। नॉक आउट चरण भी अब देखने लायक होगा।


Edited by निरंजन

Comments

Quick Links

More from Sportskeeda
Fetching more content...