Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

T10 League 2018: नॉर्दर्न वॉरियर्स ने पख्तूंस को हराकर ख़िताब पर कब्ज़ा किया, बंगाल टाइगर्स तीसरे स्थान पर रही

FEATURED WRITER
न्यूज़
Published 03 Dec 2018, 10:17 IST
03 Dec 2018, 10:17 IST

Enter caption

यूएई के शारजाह में खेल गए दूसरे टी10 टूर्नामेंट के फाइनल में नॉर्दर्न वॉरियर्स ने पख्तूंस को 22 रनों से हराकर खिताब पर कब्ज़ा किया। डैरेन सैमी की कप्तानी वाली नॉर्दर्न वॉरियर्स ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 140/3 का स्कोर बनाया, जिसके जवाब में शहीद अफरीदी की पख्तूंस 10 ओवर में 118/7 का स्कोर ही बना सकी। रोवमन पॉवेल को 25 गेंदों में 61 रनों की धुआंधार पारी के लिए मैन ऑफ़ द मैच और टूर्नामेंट में 18 विकेट लेने वाले नॉर्दर्न वॉरियर्स के हार्डस विलजोन को मैन ऑफ़ द टूर्नामेंट चुना गया।

टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए नॉर्दर्न वॉरियर्स ने 10 ओवर में 140/3 का विशाल स्कोर खड़ा किया। रोवमन पॉवेल के नाबाद 61 रनों के अलावा आंद्रे रसेल ने 12 गेंदों में 38, निकोलस पूरन ने 10 गेंदों में 18 और डैरेन सैमी ने 9 गेंदों में 14 रनों की नाबाद पारी खेली। लेंडल सिमंस सिर्फ पांच रन बना सके। पख्तूंस के शाहिद अफरीदी, मोहम्मद इरफ़ान और शरफुद्दीन अशरफ ने एक-एक विकेट लिया।

लक्ष्य के जवाब में सिर्फ आंद्रे फ्लेचर (18 गेंद 37) और शफ़ीक़ुल्लाह (16 गेंद 26) ही 20 रनों से ज्यादा का योगदान दे सके और बाकी बल्लेबाजों के फ्लॉप होने से टीम जीत से काफी दूर रह गई। शाहिद अफरीदी ने सात गेंदों में 17 रन बनाये, लेकिन उनके आउट होने के बाद मैच एकतरफा हो चुका था। नॉर्दर्न वॉरियर्स की तरफ से हार्डस विलजोन और क्रिस ग्रीन ने दो-दो और आंद्रे रसेल एवं रवि बोपारा ने एक-एक विकेट लिया।

तीसरे स्थान के लिए हुए मुकाबले में बंगाल टाइगर्स ने मराठा अरेबियंस को 6 विकेट से हराया। मराठा अरेबियंस ने पहले बल्लेबाजी करते हुए एडम लाइथ (24 गेंद 52) और हज़रतुल्लाह ज़ज़ाई (15 गेंद 39) की तेज़ पारियों की बदौलत 121/6 का स्कोर बनाया, जिसके जवाब में मैन ऑफ़ द मैच शरफेन रदरफोर्ड (21 गेंद 46) और मुहम्मद उस्मान (9 गेंद 28) की तेज़पारियों की बदौलत बंगाल टाइगर्स ने पांच गेंद शेष रहते लक्ष्य हासिल कर लिया और तीसरे स्थान पर रहे।

नॉर्दर्न वॉरियर्स के निकोलस पूरन ने नौ मैचों में सबसे ज्यादा 324 रन बनाये, वहीं वॉरियर्स के ही हार्ड्स विलजोन ने नौ मैचों में सबसे ज्यादा 18 विकेट लिए। एक पारी में सर्वाधिक स्कोर का रिकॉर्ड मराठा अरेबियंस के एलेक्स हेल्स (32 गेंद 87*) ने बनाया, वहीं पारी में सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी का रिकॉर्ड सिंधीज के प्रवीण ताम्बे (5/15) के नाम रहा, जिसमें हैट्रिक भी शामिल था।

निकोलस पूरन ने सबसे ज्यादा 33 छक्के लगाए। पंजाबी लेजेंड्स के हसन खान ने एक पारी में दो बार चार विकेट लेने का रिकॉर्ड बनाया।

नॉर्दर्न वॉरियर्स ने एक पारी में सर्वाधिक स्कोर का रिकॉर्ड भी अपने नाम किया, जब उन्होंने पंजाबी लेजेंड्स के खिलाफ 183/2 का स्कोर बनाया। सबसे बड़ी साझेदारी का रिकॉर्ड भी नॉर्दर्न वॉरियर्स के निकोलस पूरन और लेंडल सिमंस के नाम रहा, जब उन्होंने लेजेंड्स के खिलाफ पहले विकेट के लिए 107 रन जोड़े।


क्रिकेट की ब्रेकिंग न्यूज़ और ताज़ा ख़बरों के लिए यहां क्लिक करें

Modified 20 Dec 2019, 20:10 IST
Advertisement
Advertisement
Fetching more content...