Create
Notifications

"भारत पांच गेंदबाजों के संयोजन के साथ अब मैदान पर नहीं उतर सकता"

भारतीय गेंदबाजों का बहुत ही साधारण प्रदर्शन रहा
भारतीय गेंदबाजों का बहुत ही साधारण प्रदर्शन रहा
Prashant Kumar
visit

आईसीसी टी20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup) 2021 में भारतीय टीम (Indian Cricket Team) की बहुत ही खराब शुरुआत हुयी और टीम को अपने पहले ही मैच में बुरी तरह से पाकिस्तान के हाथों हार का सामना करना पड़ा। इस मैच में मिली हार के बाद भारत की कई कमजोरियां उजागर हुईं और उन्हीं में से एक मैदान पर पांच गेंदबाजों के संयोजन के साथ उतरने की रणनीति भी है। पाकिस्तान के खिलाफ भारत ने पांच गेंदबाज ही खिलाये और टीम को छठवें गेंदबाजी की कमी खली। पूर्व भारतीय खिलाड़ी आकाश चोपड़ा का भी मानना है कि पांच गेंदबाजों के साथ उतरने की रणनीति कारगर नहीं है और भारत को हार्दिक की जगह शार्दुल को छठवें गेंदबाज के तौर पर खिलाने की सलाह दी है।

पाकिस्तान के खिलाफ भारत का कोई भी गेंदबाज सफलता हासिल नहीं कर पाया और खराब गेंदबाजी का फायदा पाकिस्तानी ओपनर्स ने उठाया। बाबर आज़म और मोहम्मद रिज़वान ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए भारत के खिलाफ एक रिकॉर्ड साझेदारी करते हुए अपनी टीम को 10 विकेट से जीत दिलाई।

अपने यूट्यूब चैनल पर आकाश चोपड़ा ने कहा,

अब आप इस 5-गेंदबाज संयोजन के साथ मैदान पर कदम नहीं रख सकते। अब आपके सामने दो विकल्प होंगे। आप तय कर सकते हैं कि आपको छठा गेंदबाज चाहिए और हार्दिक की जगह शार्दुल को मौका दें, ईमानदारी से जो एक आदर्श रिप्लेंसमेंट नहीं है। आप हार्दिक को पसंद करते हैं या नहीं, इससे कोई फर्क नहीं पड़ता। अगर वह नहीं खेलता है तो इसका मतलब यह होगा कि जडेजा को छठे नंबर पर खेलना होगा और शार्दुल को सातवें नंबर पर खेलना होगा जो आदर्श संयोजन नहीं है। मैं इस चीज के पक्ष में नहीं हूं।

आप इन पांच गेंदबाजों के साथ मैदान में नहीं उतर सकते - आकाश चोपड़ा

भारत ने पाकिस्तान के खिलाफ भुवनेश्वर, शमी, बुमराह, जडेजा और वरुण चक्रवर्ती को पांच गेंदबाज के रूप में खिलाया था और यह सभी सफलता हासिल करने में नाकाम रहे। आकाश चोपड़ा का मानना है कि यह पांच गेंदबाज आप एक साथ नहीं खिला सकते। उन्होंने अपनी बात को समझाते हुए कहा,

मैं आपको पांच गेंदबाजों के साथ खेलने के लिए कहूंगा लेकिन ये पांच एक साथ नहीं हो सकते। ऐसा इसलिए है क्योंकि भुवनेश्वर कुमार पहले की तरह नहीं दिख रहे हैं; शमी का प्रदर्शन भी टी20 में कभी अच्छा और कभी खराब रहता है, आप देखिए उनके आंकड़े और अच्छे दिन भी होते हैं और कुछ आम दिन भी; रविंद्र जडेजा शायद आपके चार ओवर के गेंदबाज हैं लेकिन वह विकेट लेने वाले नहीं हैं। वह राहुल चाहर या चहल की तरह विकेट टेकिंग गेंदबाज नहीं हैं। वह एक ऐसा गेंदबाज है, जो रन रोक सकता, वह बल्लेबाजी कर सकता है और एक शानदार फील्डर है। वरुण चक्रवर्ती ने कुछ ही अंतरराष्ट्रीय मैच खेले हैं तो चलिए उन्हें कुछ और समय देते हैं। लेकिन जब आप पांच गेंदबाजों के साथ खेल रहे हों, तो उन पांचों में से प्रत्येक को इतना अच्छा होना चाहिए कि उनका कभी खराब दिन ना हो। इन गेंदबाजों के साथ आप बुरे दिन की उम्मीद नहीं कर सकते। इसलिए मुझे लगता है कि आप इन पांच गेंदबाजों को एक साथ नहीं खिला सकते।

Edited by Prashant Kumar
Article image

Go to article

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now