दक्षिण अफ़्रीका के ख़िलाफ़ टेस्ट टीम में किसको मिलेगी जगह और कौन होगा बाहर?

अगले साल शुरू में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेले जाने वाली तीन टेस्ट मैचों की सीरीज के लिए भारतीय टीम का एलान श्रीलंका के खिलाफ खेले जाने वाले दिल्ली टेस्ट के दौरान होगा। टीम इंडिया के लिए अग्नि परीक्षा माने जाने वाले इस दौरे के लिए सम्भावित टीम कैसी हो सकती है, कौन-कौन से खिलाड़ियों का चयन टीम में किया जा सकता है, इस पर सभी की निगाहें होंगी। दक्षिण अफ्रीका दौरे के लिए 17 सदस्यीय भारतीय टीम चुने जाने की सम्भावना है। बल्लेबाजी में सम्भावना यही है कि शिखर धवन, मुरली विजय और के एल राहुल ही ओपनर के तौर पर टीम में बने रहेंगे। मध्य क्रम में चेतेश्वर पुजारा, कप्तान विराट कोहली, अजिंक्य रहाणे और रोहित शर्मा भी टीम में अपनी जगह बरकरार रखने में सफल रहेंगे। श्रीलंका के खिलाफ खेली जा रही वर्तमान टेस्ट सीरीज में विश्राम करने वाले ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या की अफ्रीकी दौरे पर वापसी भी तय है। पांड्या के आने से टीम और भी सन्तुलित होगी, इसके अतिरिक्त बल्लेबाजी में कोई और परिवर्तन होने की सम्भावना नही है, जिसका मतलब हुआ कि युवराज सिंह, सुरेश रैना और गौतम गंभीर को वनडे और टी-20 की ही तरह टेस्ट क्रिकेट में भी अभी टीम से बाहर ही रहना होगा। इनके अलावा टीम में जगह बनाने का सपना देख रहे करुण नायर, मनीष पांडे, केदार जाधव, श्रेयस अय्यर जैसे कई युवा बल्लेबाजों के हिस्से में भी अभी मायूसी आ सकती है। वैसे टीम में ऋद्धिमान साहा का भी बतौर विकेट कीपर चुना जाना तय है। हां, इस दौरे पर एक और विकेटकीपर को भी रिजर्व विकेट कीपर के रूप में चुना जा सकता है। अगर रिजर्व विकेटकीपर चुना जाता है तो इस स्थान के लिए दिनेश कार्तिक का दावा सबसे मजबूत होगा, लेकिन पार्थिव पटेल के दावे को भी पूरी तरह खारिज नहीं किया जा सकता है। वैसे युवा ऋषभ पन्त और संजू सैमसन भी इस स्थान के दावेदार हैं, इससे भी इंकार नहीं किया जा सकता। लेकिन अनुभव को देखते हुए टीम से जुड़े रहने के कारण भी दिनेश कार्तिक के दूसरे विकेट कीपर के तौर पर टीम में चुने जाने की अधिक संभावना है। गेंदबाजी में स्पिन विभाग में ऑलराउंडर आर अश्विन और रविन्द्र जड़ेजा का चयन तय ही है। ऐसी सम्भावना है कि इस बार भारतीय टीम अपनी रणनीति परिवर्तित करते हुए अफ्रीकी दौरे पर तीन स्पिनरों को लेकर जाएगी, यदि ऐसा हुआ तो कुलदीप यादव का भी दक्षिण अफ्रीका जाना तय है। तेज गेंदबाजी में भुवनेश्वर कुमार, मोहम्मद शमी, उमेश यादव और इशांत शर्मा का भी दक्षिण अफ्रीका जाना तय है। श्रीलंका के खिलाफ वर्तमान श्रृंखला में टीम में शामिल किये गए विजय शंकर को भुवनेश्वर कुमार और हार्दिक पांड्या की वापसी के कारण टीम से बाहर ही जाना होगा। यदि चयनकर्ता अफ्रीकी दौरे पर मात्र दो ही स्पिनरों को ले जाने का निर्णय करते हैं या फिर 18 सदस्यों को ले जाने का निर्णय करते हैं, तो फिर एक और तेज गेंदबाज को टीम में शामिल किया जा सकता है। इस स्थान के लिए कई दावेदार होंगे, इनमें युवा तेज गेंदबाज शार्दुल ठाकुर, मोहम्मद सिराज, सिद्धार्थ कौल, अनिकेत चौधरी, सन्दीप शर्मा और आर विनय कुमार शामिल हैं। इनमें से किसी को भी ये अवसर मिल सकता है।

Edited by Staff Editor