Create
Notifications

चेन्नई टेस्ट से पहले अभ्यास नहीं कर पा रही हैं दोनों टीमें, क्या मैच पर अभी भी खतरा बरक़रार है?

EXPERT COLUMNIST
Modified 21 Sep 2018
चेन्नई में आए 'वरदा' चक्रवात के कारण भारत और इंग्लैंड के बीच होने पांचवें टेस्ट मैच पर भी संकट के बादला छा गए हैं। गौरतलब है कि 16-20 दिसम्बर तक चेन्नई के चेपक (एमए चिदंबरम) स्टेडियम में भारत और इंग्लैंड के बीच टेस्ट सीरीज का पांचवां और आखिरी टेस्ट खेला जाएगा। लेकिन इस चक्रवात के बाद दोनों टीमें मैच से पहले अभ्यास नहीं कर पा रही हैं और अब मैच में सिर्फ दो दिन बाकी है। वैसे तो इस चक्रवात से काफी जगहों की स्थिति काफी खराब हुई है लेकिन तमिलनाडु क्रिकेट एसोसिएशन के अधिकारीयों के मुताबिक मैदान के आउटफील्ड और पिच को कोई नुकसान नहीं पहुंचा है। हालांकि साईटस्क्रीन, फ्लडलाइट्स और मैदान के एयर कंडीशनरों को नुकसान पहुंचा है। वैसे तो पिच को कोई नुकसान नहीं पहुंचा लेकिन प्रैक्टिस ग्राउंड तूफ़ान के बाद अभी तक तैयार नहीं हो पाए हैं और इसी वजह से दोनों टीम अभ्यास नहीं कर पा रही हैं। इस बात की जानकारी बीसीसीआई को भी दे दी गई है। तमिलनाडु क्रिकेट एसोसिएशन के सचिव कासी विश्वनाथन ने कहा कि अगर दोनों टीमों ने मांग की तो हम एसआरएमसी क्रिकेट सेंटर के इंडोर नेट्स पर अभ्यास करवाने की कोशिश कर सकते हैं। सोमवार को चेन्नई में बहुत ही खतरनाक चक्रवात आया था जिससे कि काफी हानि पहुंची है। वरदा के बाद चेन्नई की हालत इस कदर खराब हो गई है कि तमिलनाडु के मुख्यमंत्री ओ पनीरसेल्वम ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अपील की है कि वो राष्ट्रीय आपदा कोष से इसके लिए 1000 करोड़ की राशि मुहैया करवाएं ताकि शहर को वापस पहले जैसी स्थिति में लाया जा सके। भारतीय टीम फिलहाल इस सीरीज में 3-0 से आगे चल रही है और चेन्नई टेस्ट में जीत हासिल कर वो 4-0 से टेस्ट सीरीज जीतन चाहेंगी। वहीं दूसरी तरफ इंग्लैंड की टीम अपनी प्रतिष्ठा के लिए खेलेगी। वैसे चेन्नई की पिच भी स्पिन के मददगार हो सकती है और ऐसे में इंग्लिश बल्लेबाजों को एक बार फिर से मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है।
Published 14 Dec 2016
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now