5 टीमें जिन्होंने टेस्ट मैचों में भारत को ज़्यादा बार हराया है

टेस्ट क्रिकेट सही मायनों में किसी खिलाड़ी की क्षमता का सही आंकलन करता है। पांच दिन चलने वाला यह मैच हर दिन अच्छा खेलने वाली टीम ही जीतती है। हालाँकि टी-20 जैसे सबसे छोटे प्रारूप के आ जाने से इसकी लोकप्रियता कम हुई है। टेस्ट में टीम इंडिया इस समय दुनिया में नंबर 1 है और उन्होंने पिछली 11 में से 10 श्रृंखलाए जीतकर यह दर्जा हासिल किया है। शीर्ष पर पहुंचने के लिए, उन्होंने श्रीलंका, बांग्लादेश, न्यूजीलैंड, वेस्टइंडीज, अफगानिस्तान, इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण अफ्रीका को हराया है। लेकिन ऐसे रिकार्ड के बाद भी कई ऐसी टीमें हैं जिन्होंने दोनों के बीच हुए मुकाबले में टीम इंडिया को ज़्यादा बार हराया है। तो आइये ऐसी पांच टीमों पर नज़र डालें जिन्होंने यह कारनामा किया है:

इंग्लैंड

इंग्लैंड और भारत में हमेशा से क्रिकेट के मैदान पर कड़ी प्रतिद्वंद्विता देखने को मिली है। वनडे, टी 20 या टेस्ट, दोनों टीमें हर कीमत पर जीतना चाहती हैं। 1986 में भारत की लॉर्ड्स में ऐतिहासिक जीत हो या 2013 में वानखेड़े में इंग्लैंड के हाथों भारत की शर्मनाक हार, दोनों टीमों के पास कई ऐसी यादें हैं। वास्तव में, टेस्ट क्रिकेट में टीम इंडिया की पहली विरोधी टीम इंग्लैंड ही थी। यह मैच टीम इंडिया की हार के साथ समाप्त हुआ था। 1932 में लॉर्ड्स में खेले गए इस मैच में इंग्लैंड ने भारत को 158 रनों से मात दी थी । भारत-इंग्लैंड के बीच खेले गए मैचों की बात करें तो दोनों टीमों के बीच हुए 117 मैचों में, भारत ने सिर्फ 25 जीते हैं और 43 हारे हैं जबकि बाकी के 49 मैच ड्रा पर समाप्त हुए हैं। ऐसे में जबकि टीम इंडिया इंग्लैंड दौरे पर हैं और उसे इंग्लैंड के खिलाफ 5 टेस्ट खेलने हैं, यह देखना दिलचस्प होगा कि क्या टीम इंडिया हार-जीत के इस अंतर को कम कर पायेगी।

वेस्टइंडीज

भारत और वेस्टइंडीज कुल 94 टेस्ट मैचों में एक दूसरे से भिड़े हैं। इसमें 18 मैचों में भारतीय टीम विजयी रही है और 30 में वेस्टइंडीज़ ने जीत दर्ज की है। जबकि बाकी 46 मैच ड्रा रहे हैं। हालाँकि व्रतमान समय में दोनों की रैंकिंग में बहुत फर्क है। वेस्टइंडीज वह जगह है जहां महान भारतीय बल्लेबाज सुनील गावस्कर ने अपने क्रिकेट करियर की शुरुआत की थी। 2000 से पहले भारत ने वेस्टइंडीज़ को केवल एक ही बार हराया है। 1971 में सुनील गावस्कर ने इस टेस्ट सीरीज़ से अपने क्रिकेट करियर का आगाज़ किया था। 5 मैचों की इस सीरीज़ में उन्होंने कुल 774 रन बनाए थे और भारत को यह सीरीज़ 1-0 से जिताने में अहम भूमिका निभाई थी। भारत और वेस्टइंडीज के कुछ महान क्रिकेटरों में सर विव रिचर्ड्स, क्लाइव लॉयड, गैरी सोबर्स, मोहिंदर अमरनाथ, कपिल देव से लेकर ब्रायन लारा, राहुल द्रविड़, और माइकल होल्डिंग, ने दोनों टीमों के बीच हुए मुकाबलों में कई रिकार्ड बनाए हैं।

दक्षिण अफ्रीका

दक्षिण अफ्रीका एकमात्र ऐसा देश है जिससे भारत ने कभी भी टेस्ट श्रृंखला नहीं जीती है। जी हां, दोनों टीमों के बीच कुल 36 मुकाबलों में भारत ने 11 जीते हैं और 15 में उसे हार मिली है जबकि 10 ड्रा रहे हैं। सालों से दक्षिण अफ्रीका और भारत के कई रोमांचक मुकाबले हुए हैं। हाल ही में भारत के दक्षिण अफ्रीका दौरे पर भी भारत ने 2-1 से टेस्ट सीरीज़ गंवा दी थी। इन दोनों देशों के बीच हालिया श्रृंखला में दक्षिण अफ्रीका ने पहले दो मैच जीते थे और भारत को सिर्फ आखिरी टेस्ट में जीत मिली, जिससे यह श्रृंखला दक्षिण अफ्रीका ने 2-1 से अपने नाम कर ली और टेस्ट रैंकिंग में पहले नंबर पर होने के बावजूद एक बार फिर भारतीय टीम दक्षिण अफ्रीका से टेस्ट श्रृंखला जीतने में नाकाम रही।

पाकिस्तान

भारत और पाकिस्तान के बीच सालों से चली आ रही प्रतिद्वंद्विता से हम सब भली-भांति परिचित हैं। क्रिकेट जगत में इन दोनों के बीच होने वाले मुकाबले का इतंज़ार दोनों देशों के लोग बड़ी बेसब्री से करते हैं। जब इन दोनों देशों के बीच मैच होता है, दोनों टीमों के खिलाड़ी हर हाल में जीतने का प्रयास करते हैं। पिछले कुछ वर्षों में भारत और पाकिस्तान में कुछ यादगार टेस्ट मैच खेले गए हैं। कराची में इमरान खान की विनाशकारी गेंदबाज़ी हो या मुल्तान में वीरेंद्र सहवाग की ट्रिपल सेंचुरी, दोनों टीमों के खिलाड़ियों ने कई रिकॉर्ड कायम किये हैं। हालाँकि, अब दोनों टीमें के बीच राजनीतिक तनाव के कारण बहुत कम मैच होते हैं। दोनों टीमों के टेस्ट रिकॉर्ड की बात करें तो भारत और पाकिस्तान ने कुल 59 टेस्ट मैच खेले हैं। इसमें टीम इंडिया ने सिर्फ 9 में से जीत हासिल की है जबकि पाकिस्तान ने 12 मैचों में जीत दर्ज की है। हालाँकि, यह अंतर कुछ ज़्यादा नहीं है लेकिन फिर भी भारतीय क्रिकेट प्रशंसक यह तथ्य जानकर जानकर मायूस ज़रूर होंगे। भारत के महान क्रिकेटर कपिल देव पाकिस्तान के खिलाफ खेलना पसंद करते थे। भारत और पाकिस्तान के बीच उन्होंने जितने भी टेस्ट मैच खेले हैं, अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया है। कपिल देव पाकिस्तान के खिलाफ 99 विकेट लेकर भारत के सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज़ हैं। लेखक: संचित ग्रोवर अनुवादक: आशीष कुमार

App download animated image Get the free App now