Create
Notifications

रवि शास्त्री ने भारतीय खिलाड़ियों के साथ अपने संबंध को साझा किया

CONTRIBUTOR
Modified 21 Sep 2018
श्रीलंका के मौजूदा दौरे पर टीम इंडिया का प्रदर्शन अब तक बेहद शानदार रहा है। विराट कोहली की कप्तानी वाली भारतीय टीम ने श्रीलंका को गॉल में खेले गए सीरीज के पहले ही टेस्ट में एकतरफा पराजित कर सभी को चौंका दिया था। इस जीत के बाद टीम इंडिया के मुख्य कोच रवि शास्त्री ने बयान दिया है। उन्होंने भारतीय टीम के साथ अपने संबंध के बारे में बताया है। रवि शास्त्री ने एक प्रेसवार्ता में कहा, "एक कोच और एक खिलाड़ी के बीच अच्छा तालमेल होना चाहिए। उन्हें एक दूसरे के ऊपर भरोसा होना चाहिए। सच्चा संबंध बनाने के लिए आपस में एक दूसरे को समझना बेहद ज़रूरी होता है।"उन्होंने कहा, "मुझे ड्रेसिंग रूम में अपनी टीम के साथ रहकर हमेशा अच्छा महसूस हुआ है। मुझे लगता है, जैसे कि मैं मंदिर या मस्जिद मैं बैठा हूं। ड्रेसिंग रूम में आप टीम के साथ अपने दिल की किसी भी बात को खुलकर साझा कर सकते हैं। मगर आपको अपने साथी खिलाड़ियों पर भरोसा भी होना चाहिए। खिलाड़ियों के साथ मेरा संबंध बहुत अच्छा है।" श्रीलंका के मौजूदा दौरे पर भारतीय टीम का प्रदर्शन अब तक लाजवाब रहा है। फिलहाल रवि शास्त्री के मार्गदर्शन में विराट कोहली वाली टीम इंडिया बेहतरीन क्रिकेट खेल रही है। टीम इंडिया के पूर्व मुख्य कोच अनिल कुंबले के इस्तीफ़े के बाद भारत की यह पहली द्विपक्षीय सीरीज है। अनिल कुंबले के इस्तीफ़े के बाद रवि शास्त्री को भारतीय पुरुष क्रिकेट टीम का मुख्य कोच बनाया गया था। बीसीसीआई की क्रिकेट सलाहकार समिति ने अहम फैसला लेते हुए पूर्व दिग्गज को टीम इंडिया का कोच बनाने का फैसला किया था, जिसके बाद रवि शास्त्री के मार्गदर्शन में भारतीय क्रिकेट टीम की यह पहली सीरीज है। रवि शास्त्री ने 1981 से 1992 के बीच 80 टेस्ट और 150 वन-डे में भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व किया। टीम के शानदार बल्लेबाज होने के साथ-साथ शास्त्री उपयोगी बाएं हाथ के स्पिनर भी थे।
Published 02 Aug 2017
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now