Create

वानखेड़े स्टेडियम में 3 ब्लॉक दिलीप वेंगसरकर के नाम किए जाएंगे

दिलीप वेंगसरकर
दिलीप वेंगसरकर

भारतीय टीम के पूर्व दिग्गज बल्लेबाज दिलीप वेंगसरकर को लेकर महाराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन ने बड़ा फैसला लिया है। दिलीप वेंगसरकर के नाम वानेखड़े स्टेडियम में 3 ब्लॉक करने का फैसला किया है। इससे पहले एम एस धोनी के नाम वानखेड़े स्टेडियम में एक सीट करने का फैसला किया गया था अब दिलीप वेंगसरकर के सम्मान में ये प्रपोजल दिया गया है।

दिलीप वेंगसरकर के नाम 3 ब्लॉक करने का प्रपोजल इस महीने की शुरुआत में अपेक्स काउंसिल के मेंबर नदीम मेमन ने दिया था। मंगलवार को हुई मीटिंग में इस प्रपोजल को स्वीकार कर लिया गया। वहीं अपेक्स काउंसिल के एक और सदस्य अजिंक्य नाइक ने एम एस धोनी के नाम पर वानखेड़े स्टेडियम में एक सीट करने का प्रपोजल दिया था। उन्होंने कहा था कि एम एस धोनी के 2011 वर्ल्ड कप विनिंग का छक्का जहां पर गिरा था वही सीट उनके नाम पर होगी।

ये भी पढ़ें: रिकी पोंटिंग ने रविचंद्रन अश्विन को दी चेतावनी, कहा जब तक मैं दिल्ली कैपिटल्स का कोच हूं मांकडिंग नहीं होना चाहिए

महाराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन ने दिलीप वेंगसरकर को अपनी म्यूजियम कमेटी का भी हिस्सा बनाया है। इसमें पूर्व एमसीए प्रेसिडेंट रवि सावंत, बीसीसीआई के पूर्व अधिकारी रत्नाकर शेट्टी, एमसीए के चीफ एग्जीक्यूटिव ऑफिसर सीएस नाइक, बीसीसीआई के पूर्व मीडिया मैनेजर देवेंद्र प्रभुदेसाई, एक्स कमेटी मेंबर नवीन शेट्टी और सीनियर जर्नलिस्ट क्लेटोन मुरजेलो शामिल हैं।

दिलीप वेंगसरकर ने भारतीय टीम के लिए 116 टेस्ट और 129 वनडे मैच खेले

आपको बता दें कि दिलीप वेंगसरकर ने अपने करियर में भारतीय टीम के लिए 116 टेस्ट और 129 वनडे मुकाबले खेले। 1976 से 1992 के दौरान खेले गए इन मैचों में दिलीप वेंगसरकर ने 6868 और 3508 रन बनाए। कर्नल के नाम से मशहूर दिलीप वेंगसकर ने लंदन के लॉर्ड्स क्रिकेट ग्राउंड में लगातार 3 टेस्ट शतक जड़े थे। वो इस मैदान में 3 शतक बनाने वाले इकलौते विदेशी खिलाड़ी हैं।

दिलीप वेंगसरकर इसके अलावा 2006 से 2008 तक भारतीय टीम के मुख्य चयनकर्ता भी रहे। विराट कोहली का चयन उन्होंने ही किया था। इसके अलावा दिलीप वेंगसरकर 2001 से 2017 तक मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन के वाइस प्रेसिडेंट भी रहे।

ये भी पढ़ें: 3 ऐसे खिलाड़ी जिनका चयन इस बार उनकी आईपीएल टीमों को काफी महंगा पड़ सकता है

Quick Links

Edited by सावन गुप्ता
Be the first one to comment