Create

भारत के 3 सबसे छोटे अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम

वानखेड़े स्टेडियम का नाम भी इस लिस्ट में शामिल है
वानखेड़े स्टेडियम का नाम भी इस लिस्ट में शामिल है
reaction-emoji
निरंजन

क्रिकेट के खेल में मैदान की लम्बाई बड़े और छोटे स्कोर का पैमाना भी तय कर देती है। विश्व क्रिकेट में सबसे छोटे मैदान न्यूजीलैंड में देखने को मिलते हैं। विश्व में न्यूजीलैंड के ईडन पार्क को सबसे छोटा अंतरराष्ट्रीय स्तर का स्टेडियम माना जाता है। बड़े स्टेडियमों में मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड के अलावा इंग्लैंड, वेस्टइंडीज और भारत के कुछ मैदान आते हैं। न्यूजीलैंड के ईडन पार्क के एक तरफ की बाउंड्री महज 55 मीटर की है। भारत में भी कई छोटे स्टेडियम हैं और उन पर नियमित अन्तराल पर अंतरराष्ट्रीय मैचों के अलावा आईपीएल के मुकाबले भी खेले जाते हैं।

वानखेड़े स्टेडियम, मुंबई

वानखेड़े स्टेडियम में 2011 विश्वकप के लिए मरम्मत कार्य कराने के बाद दर्शक क्षमता 33 हजार से थोड़ी ज्यादा रह गई। पहले यह 45 हजार थी। कई अहम मुकाबले समुद्र के किनारे बने इस स्टेडियम में खेले जाते हैं। 2011 विश्वकप का फाइनल भी यहां खेला गया था। आईपीएल में मुंबई इंडियंस का यह घरेलू मैदान है तथा यह दिखने में बेहद खूबसूरत है। बाउंड्री 60 मीटर की है तथा बल्लेबाजों को यहां सही टाइमिंग नहीं होने वाले शॉट पर भी छह रन मिल जाते हैं। सचिन तेंदुलकर ने अपना अंतिम अंतरराष्ट्रीय मुकाबला वेस्टइंडीज के खिलाफ यहीं खेला था।

एम चिन्नास्वामी स्टेडियम, बेंगलुरु

Enter c
एम चिन्नास्वामी स्टेडियम

इस मैदान पर 1970 में काम शुरू हुआ तथा 1972-73 में प्रथम श्रेणी क्रिकेट खेलना आरम्भ हुआ। सामने की सीमा रेखा के अलावा दाएं और बाएं तरफ की बाउंड्री लाइन भी 57 से 58 मीटर की है। आईपीएल में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर का यह घरेलू मैदान है। भारत बारिश होने के बाद खेल शुरू करने में यहां ज्यादा समय नहीं लगता क्योंकि उच्च स्तरीय ड्रेनेज सिस्टम से पानी बहुत जल्दी मैदान से बाहर चला जाता है। लगभग 40 हजार दर्शक एक साथ बैठकर मैच देख सकते हैं। यहां भी बल्लेबाजों को छक्के मारने में मशक्कत नहीं करनी पड़ती।

होल्कर स्टेडियम, इंदौर

Enter ca
होल्कर स्टेडियम

पहले इसे महारानी उषा राजे ट्रस्ट क्रिकेट ग्राउंड के नाम से जाना जाता था लेकिन 2010 में मध्य प्रदेश क्रिकेट संघ ने इसका नाम होल्कर वंशजों के नाम पर रखा। वीरेंदर सहवाग ने वेस्टइंडीज के खिलाफ दिसम्बर 2011 में वन-डे क्रिकेट में दोहरा शतक यहीं लगाया था। आईपीएल में किंग्स इलेवन पंजाब का घरेलू मैदान भी यही है। बाउंड्री लाइन 56 से 57 मीटर की है और बल्लेबाज आसानी से छक्के मारते हैं। एक समय में यहां 30 हजार दर्शक खेल का आनन्द ले सकते हैं।

Edited by Naveen Sharma
reaction-emoji

Comments

Fetching more content...