Create
Notifications

वर्ल्ड कप इतिहास में दिल तोड़ देने वाली 10 घटनाएं

Enter caption
शारिक़ुल होदा Shariqul Hoda

आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप में जो भी टीम या खिलाड़ी हिस्सा लेते हैं उनका बहुत कुछ दांव पर लगा होता है। ये क्रिकेट के खेल का सबसे लोकप्रिय और प्रतिष्ठित टूर्नामेंट है। वर्ल्ड कप इतिहास में कई टीमों ने काफ़ी कामयाबी हासिल की है तो कई टीमों का ट्रॉफ़ी जीतने का ख़्वाब अब तक अधूरा है। कई टीमें काफ़ी मज़बूत रही हैं लेकिन किस्मत ने उनका साथ नहीं दिया है। यहां कई टीम के ख़्वाब पूरे होते हैं तो कई टीम का सपना अधूरा रह जाता है। हम यहां आईसीसी वर्ल्ड कप इतिहास में दिल तोड़ देने वाली 10 घटनाओं का ज़िक्र कर रहे हैं।


#10 बॉब वूल्मर की मौत

Enter caption

बॉब वूल्मर पाकिस्तान के कोच थे और उन्हें क्रिकेट का नामी रणनीतिकार माना जाता था। साल 2007 के वर्ल्ड कप के दौरान उनकी रहस्यमय तरीके से मौत हो गई थी। 18 मार्च 2007 को वर्ल्ड कप के दौरान कोच बॉब वूल्मर किंग्सटन शहर के जमैका पेगासस होटल में अपने कमरे में मृत पाए गए थे। 22 मार्च को जमैका की पुलिस ने हत्या की आशंका जताते हुए इसकी जांच शुरू कर दी। उनकी मौत की असली वजह क्या थी ये अब तक एक रहस्य बना हुआ है। अगर उनका मर्डर हुआ तो क्यों हुआ ? क्या कोच वूल्मर को किसी मैच फ़िक्सिंग की जानकारी थी ? उनकी मौत ने वर्ल्ड कप जैसे बड़े टूर्नामेंट पर एक बदनुमा दाग़ लगा दिया था। जमैका की पुलिस उनकी मौत की गुत्थी सुलझाने में नाकाम रही थी।


#9 इंग्लैंड बनाम पाकिस्तान, 12 मार्च, वर्ल्ड कप 1979

Enter caption

1979 के वर्ल्ड कप के दौरान पाकिस्तान टीम के कप्तान आसिफ़ इक़बाल ग्रुप स्टेज के आख़िरी मैच में अपनी टीम की अगुवाई कर रहे थे। उन्होंने इस मैच में हरफ़नमौला प्रदर्शन किया लेकिन उनकी टीम इंग्लैंड के ख़िलाफ़ महज़ 14 रन से हार गई थी। अगर पाकिस्तान ये मैच जीत गया होता तो वो ग्रुप में टॉप पर होता और सेमीफ़ाइनल में उसका सामना मज़बूत वेस्टइंडीज़ टीम से न हुआ होता। इसका नतीजा ये हुआ कि पाकिस्तान सेमीफ़ाइनल में वेस्टइंडीज से हार गया और पाकिस्तान का अभियान वहीं ख़त्म हो गया।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्टसकीड़ा पर पाएं

#8 वर्ल्ड कप 2007 से टीम इंडिया की जल्द विदाई

वर्ल्ड कप 2007 के दौरान टीम इंडिया से भारतीय क्रिकेट फ़ैंस को काफ़ी उम्मीदें थीं। भारत को एक आसान सा दिखने वाला ग्रुप मिला था। भारत के ग्रुप में श्रीलंका, बांग्लादेश और बरमूडा की टीम थी। बांग्लादेश और बरमूडा की टीम को हराना भारत के लिए मुश्किल नहीं था, वहीं श्रीलंका को टीम इंडिया ने वर्ल्ड कप से ठीक पहले मात दी थी। भारत अपना पहला मैच बांग्लादेश से हार गया, दूसरा मैच टीम इंडिया ने बरमूडा से 257 रन से जीता, लेकिन भारत अपना आख़िरी ग्रुप मैच श्रीलंका से हार गया और वर्ल्ड कप से बाहर हो गया। टीम इंडिया के लिए ये ऐसा ख़ौफ़नाक ख़्वाब था जिसे हर भारतीय दर्शक भूल जाना पसंद करेंगे।


#7 दक्षिण अफ़्रीका बनाम श्रीलंका, वर्ल्ड कप 2003

Enter caption

वर्ल्ड कप 1992 और 1999 में बदकिस्मती झेलने के बाद दक्षिण अफ़्रीका को उम्मीद थी कि वो साल 2003 में अपने घर में बेहतर प्रदर्शन करेंगे। लेकिन इस बार भी किस्मत ने प्रोटियाज़ टीम का साथ नहीं दिया। दक्षिण अफ़्रीका की टीम अपना आख़िरी ग्रुप मैच श्रीलंका के ख़िलाफ़ खेल रही थी। ये मैच दक्षिण अफ़्रीका के लिए जीतना बेहद ज़रूरी था। श्रीलंका ने पहले खेलते हुए 268/9 का स्कोर खड़ा किया, जिसके जवाब में दक्षिण अफ़्रीका ने 45 ओवर में 6 विकेट खोकर 229 रन बनाए, लेकिन बारिश की वजह से इस मैच में डकवर्थ-लुइस नियम लगा और ये मैच टाई हो गया। इसके साथ ही दक्षिण अफ़्रीका अपनी ही सरज़मीं पर वर्ल्ड कप से बाहर हो गया।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्टसकीड़ा पर पाएं

#6 ऑस्ट्रेलिया बनाम वेस्टइंडीज़, वर्ल्ड कप सेमीफ़ाइनल 1996

Enter caption

वर्ल्ड कप 1996 का दूसरा सेमीफ़ाइनल मैच वेस्टइंडीज़ और ऑस्ट्रेलिया के बीच हो रहा था। इस मैच में ऑस्ट्रेलिया ने वेस्टइंडीज़ जैसी मज़बूत टीम को कांटेदार मुक़ाबले में 5 रन से हराया था। ऑस्ट्रेलिया ने पहले खेलते हुए 8 विकेट खोकर 207 रन बनाए थे। जिसके जवाब में कैरिबियाई टीम 202 रन पर ऑल आउट हो गई थी। वेस्टइंडीज़ के लिए इतने आसान से लक्ष्य के सामने इतने कम रन से हारना दुखद था।


#5 भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया, वर्ल्ड कप 2003 फ़ाइनल

Enter caption

टीम इंडिया के लिए ये मैच किसी बुरे ख़्वाब से कम नहीं था। भारतीय टीम को उम्मीद थी कि वो 20 साल बाद वर्ल्ड कप पर कब्ज़ा जमाएगी। सौरव गांगुली ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाज़ी का फ़ैसला किया। ऑस्ट्रेलिया ने पहले खेलते हुए 50 ओवर में 2 विकेट खोकर 359 रन बनाए जिसके जवाब में टीम इंडिया महज़ 234 रन पर ऑल आउट हो गई। कंगारुओं ने ये मैच 125 रन से जीत लिया और तीसरी बार वर्ल्ड कप पर कब्ज़ा जमाया। इस तरह भारत का एक सुंदर सपना टूट गया।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्टसकीड़ा पर पाएं

#4 माइक गेटिंग का रिवर्स स्वीप, वर्ल्ड कप 1987 फ़ाइनल

Enter caption

माइक गेटिंग का रिवर्स स्वीप शॉट वर्ल्ड कप इतिहास में हमेशा चर्चा का विषय रहा है। इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच ईडन गार्डेन में फ़ाइनल मैच हो रहा था। ऑस्ट्रेलिया ने पहले बल्लेबाज़ी करते हुए 50 ओवर में 5 विकेट खोकर 253 रन बनाए थे। जिसके जवाब में इंग्लिश टीम 246 रन ही बना पाई और ऑस्ट्रेलिया ने ये मैच 7 रन से जीत लिया। अगर ने माइक गेटिंग ने इस मैच में ये रिवर्स स्वीप शॉट न खेला होता तो वो आउट नहीं होते और वर्ल्ड कप ट्रॉफ़ी इंग्लैड की झोली में होती।


#3 भारत बनाम श्रीलंका, वर्ल्ड कप 1996 सेमीफ़ाइनल

Enter caption

साल 1996 के वर्ल्ड कप का सेमीफ़ाइनल मैच कोलकाता के ईडन गार्डेन में खेला जा रहा था। टीम इंडिया श्रीलंका के ख़िलाफ़ 252 रन के लक्ष्य का पीछा कर रही थी। इसी क्रम में भारत के 8 विकेट महज़ 120 रन पर गिर गए थे। टीम इंडिया के इस बुरे प्रदर्शन को देखकर स्टेडिम में मौजूद भीड़ आग बबूला हो गई। पहले तो दर्शकों ने मैदान में बोलत फेंकने शुरू किए और स्टैंड में आगजनी की। मैच रेफ़री क्लाइव लॉयड ने मैच को 15 मिनट के लिए रोका, लेकिन इसका कोई असर दर्शकों पर नहीं पड़ा। नतीजा ये हुआ कि डकवर्थ-लुईस नियम के तहत श्रीलंका को जीत दे दी गई और इस तरह करोड़ों भारतीय क्रिकेट फ़ैंस का दिल टूट गया।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्टसकीड़ा पर पाएं

#2 इंग्लैंड बनाम दक्षिण अफ़्रीका, वर्ल्ड कप 1992 सेमीफ़ाइनल

Enter caption

1992 वर्ल्ड कप के दौरान एक दिल तोड़ने वाली घटना घटी थी। सेमीफ़ाइनल मैच इंग्लैंड और दक्षिण अफ़्रीका के बीच खेला जा रहा था। इंग्लैंड ने पहले खेलते हुए 45 ओवर में 252 रन बनाए थे। लक्ष्य का पीछा करते हुए साउथ अफ़्रीका ने रन बनाना शुरु किया। आख़िरी 13 गेंदों में दक्षिण अफ़्रीका को जीत के लिए 22 रन बनाने की ज़रूरत थी, लेकिन तेज़ बारिश की वजह से मैच में डकवर्थ-लुईस नियम (मोस्‍ट प्रोडक्‍टिव ओवर्स नियम) लग गया। दक्षिण अफ़्रीका को अब 1 गेंद में 22 रन बनाने थे जो कि कतई मुमकिन नहीं था। दक्षिण अफ़्रीकी टीम ये मैच हार गई। इस मैच के बाद इस नियम की काफ़ी आलोचना हुई थी।


#1 ऑस्ट्रेलिया बनाम दक्षिण अफ़्रीका, वर्ल्ड कप 1999 सेमीफ़ाइनल

Enter caption

ये वर्ल्ड कप ही नहीं क्रिकेट इतिहास में सबसे बड़ी दिल तोड़ देने वाली घटना था। इस मैच के बाद साउथ अफ़्रीका ने इस बात को बल दिया कि वो एक ‘चोकर’ टीम है। ऑस्ट्रेलिया ने पहले खेलते हुए 213 रन बनाए जिसके जवाब में दक्षिण अफ़्रीका की टीम भी इतने ही रन बना पाई। दक्षिण अफ़्रीका को आख़िरी 3 गेंदों में जीत के लिए 1 रन बनाने थे। स्ट्राइक पर लांस क्लूज़नर थे और दूसरे छोर पर एलन डोनाल्ड खड़े थे। क्लूज़नर ने शॉट लगाकर एक रन लेने की कोशिश की जिसके बाद डोनाल्ड रन आउट हो गए। ये मैच टाई हो गया और पिछले रन रेट के हिसाब से ऑस्ट्रेलियाई टीम फ़ाइनल में पहुंच गई। दक्षिण अफ़्रीका को एक बार फिर बदकस्मती का सामना करना पड़ा।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्टसकीड़ा पर पाएं

Edited by सावन गुप्ता

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...