Create
Notifications

5 बल्लेबाज़ जिन्होंने 30 की उम्र तक वनडे क्रिकेट में बनाए सबसे ज़्यादा शतक

Himanshu Kothari

क्रिकेट के मैदान में कोई खिलाड़ी जितने ज्यादा रन स्कोर करता है उसकी टीम की जीत की संभावनाएं उतनी ही ज्यादा बढ़ जाती है। किसी टीम की जीत में अहम भूमिका निभाना हमेशा से ही खिलाड़ियों के लिए गर्व की बात रही है। वहीं क्रिकेट के खेल में अगर कोई टीम किसी खिलाड़ी के शतक के वजह से जीते तो उस जीत के और उस खिलाड़ी के मायने भी बढ़ जाते हैं। क्रिकेट में कई ऐसे महान बल्लेबाज मौजूद हैं जिन्होंने अपने करियर में काफी शतक लगाए हैं। शतकों के मामले में सबसे आगे रहना भी अपने आप में गर्व की बात होती है। फिलहाल वनडे और टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा शतक लगाने के मामले में भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर सबसे आगे हैं। वनडे क्रिकेट में सचिन तेंदुलकर ने जहां 49 शतक अपने नाम किए हैं तो वहीं टेस्ट क्रिकेट में सचिन तेंदुलकर ने 51 शतक लगाए हैं। एक वक्त था, जब 30 साल की उम्र तक सबसे ज्यादा एकदिवसीय शतक लगाने के मामले में सचिन तेंदुलकर सबसे आगे थे, लेकिन अब ऐसा नहीं है। सचिन तेंदुलकर से आगे बढ़कर अब ये कीर्तिमान एक दूसरे बल्लेबाज ने अपने नाम कर लिया है। आईए जानते हैं उन टॉप 5 खिलाड़ियों के बारे में जिन्होंने 30 साल की उम्र तक वनडे क्रिकेट में सबसे ज्यादा शतक लगाए हैं। (नोट: आकंड़े 18 फरवरी 2018 तक के हैं।)

#5 एबी डीविलियर्स

साउथ अफ्रीकी खिलाड़ी एबी डी विलियर्स इस सूची में पांचवे पायदान पर हैं। अपनी धाकड़ बल्लेबाजी के लिए पहचाने जाने वाले एबी डी विलियर्स ने कई अहम मौकों पर टीम के लिए रन स्कोर करते हुए शतकीय पारियां खेली हैं। 34 वर्षीय एबी डी विलियर्स के नाम एकदिवसीय क्रिकेट में 30 साल की उम्र तक 16 शतक दर्ज थे। साल 2005 में एकदिवसीय क्रिकेट करियर की शुरुआत करने वाले एबी डी विलियर्स वर्तमान में बेहद प्रतिभाशाली क्रिकेटर के रूप में जाने जाते हैं। फिलहाल एबी डी विलियर्स वनडे क्रिकेट में 53 अर्धशतक और 25 शतक जड़ चुके हैं। वहीं एबी डी विलियर्स एकमात्र ऐसे खिलाड़ी हैं जिनके नाम वनडे क्रिकेट में सबसे तेज 50 रन, 100 रन और 150 रन पूरे करने का रिकॉर्ड दर्ज है। साउथ अफ्रीका के लिए 228 वनडे मैच खेलने वाले एबी डी विलियर्स ने अब तक 53.50 की औसत से 9577 रन स्कोर किए हैं।

#4 सौरव गांगुली

भारतीय टीम के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली भी इस लिस्ट में जगह बनाने में कामयाब हो सके हैं। सौरव गांगुली अपने समय के बेहतरीन बल्लेबाजों में गिने जाते थे। कप्तानी के साथ-साथ उनकी बल्लेबाजी ने भी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अपनी छाप छोड़ी है। 30 की उम्र तक सौरव गांगुली ने एकदिवसीय क्रिकेट में 18 शतक लगाए थे। 1992 में अपने एकदिवसीय क्रिकेट करियर की शुरुआत करने वाले सौरव गांगुली ने अपना पहला शतक साल 1997 में श्रीलंका के खिलाफ लगाया। अपने करियर में 'दादा' के नाम से पहचान बनाने वाले सौरव गांगुली ने वनडे क्रिकेट में 72 अर्धशतकों के साथ ही 22 शतक लगाए हैं। इसके अलावा सौरव गांगुली ने अपने वनडे करियर में 311 मैच खेलते हुए 40.73 की औसत से 11363 रन स्कोर किए हैं। सौरव गांगुली ने साल 2007 में क्रिकेट से संन्यास ले लिया था। फिलहाल सौरव गांगुली एकदिवसीय क्रिकेट में सबसे ज्यादा रन स्कोर करने के मामले में आठवें पायदान पर हैं।

#3 क्रिस गेल

वेस्टइंडीज के तूफानी बल्लेबाज क्रिस गेल ने इस लिस्ट में तीसरा स्थान हासिल करने में सफलता हासिल की है। अपनी घातक बल्लेबाजी से तहलका मचाने वाले क्रिस गेल ने 30 की उम्र तक एकदिवसीय करियर में 19 शतक लगा दिए थे। अपने तेजतर्रार शॉट्स के लिए दुनिया भर में पहचान कायम करने वाले क्रिस गेल ने भारत के खिलाफ अपने वनडे करियर की शुरुआत साल 1999 में की थी। फिलहाल एकदिवसीय क्रिकेट में क्रिस गेल 22 शतक लगा चुके हैं। इंडियन प्रीमियर लीग में क्रिस गेल टॉप स्कोरर के तौर पर पहचान बनाए हुए हैं तो वहीं क्रिस गेल ऐसे पहले खिलाड़ी हैं जिन्होंने क्रिकेट के तीनो फॉर्मेट में शतक लगाए हों। जनवरी 2018 तक क्रिस गेल वेस्टइंडीज के लिए 275 मैच खेल चुके हैं और इसके साथ ही 37.09 की औसत से 9420 रन स्कोर कर चुके हैं।

#2 सचिन तेंदुलकर

क्रिकेट में सबसे ज्यादा शतक लगाने का रिकॉर्ड रखने वाले सचिन तेंदुलकर इस लिस्ट में दूसरे पायदान पर हैं। क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर का करियर रिकॉर्ड से भरा हुआ है। जब सचिन तेंदुलकर 30 साल की उम्र तक पहुंचे थे तो वे वनडे करियर में 34 शतक लगा चुके थे। कुछ समय पहले तक सचिन तेंदुलकर 30 साल की उम्र में सबसे ज्यादा एकदिवसीय शतक लगाने के मामले में टॉप पर थे, लेकिन समय बदलते देर नहीं लगती है। हालांकि, साल 2012 में एकदिवसीय मैचों से संन्यास लेने वाले सचिन तेंदुलकर टेस्ट और एकदिवसीय क्रिकेट में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज हैं। वहीं सचिन तेंदुलकर क्रिकेट इतिहास में एकमात्र ऐसे बल्लेबाज हैं जिनके नाम अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 100 शतक लगाने का रिकॉर्ड दर्ज है। सचिन तेंदुलकर ने अपने एकदिवसीय करियर में भारत के लिए 463 मैच खेले हैं। इस दौरान उन्होंने 44.83 की औसत से 18426 रन स्कोर किए हैं।

#1 विराट कोहली

भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने 30 साल की उम्र से पहले सबसे ज्यादा एकदिवसीय शतक लगाने की लिस्ट में सचिन तेंदुलकर को पीछे छोड़ते हुए पहला स्थान हासिल किया है। इस लिस्ट में विराट कोहली एकमात्र ऐसे खिलाड़ी हैं जो अभी 30 साल के हुए भी नहीं है। 30 साल की उम्र से पहले ही विराट कोहली एकदिवसीय क्रिकेट में 35 शतक लगा चुके हैं। विराट कोहली 5 नवंबर 2018 को 30 साल की उम्र पूरी करेंगे। तब तक उनके शतकों में इजाफा भी देखने तो मिल सकता है। अपनी शानदार बल्लेबाजी से विश्व क्रिकेट में अपनी छाप छोड़ने वाले विराट कोहली वर्तमान में दुनिया के बेहतरीन बल्लेबाज हैं। अपनी शानदार बल्लेबाजी तकनीक और क्षमता के बूते विराट कोहली हम मैच में रन मशीन की तरह रन स्कोर किए जा रहे हैं। इसके साथ ही विराट कोहली भारतीय टीम के हर मैच में जीत हासिल करने के सूत्रधार भी बन रहे हैं। वर्तमान में विराट कोहली भारतीय बल्लेबाजी क्रम में सबसे अहम बल्लेबाज हैं। विराट कोहली ने अपना पहला एकदिवसीय शतक साल 2009 में श्रीलंका के खिलाफ ईडन गार्डन के मैदान पर लगाया था। फिलहाल विराट कोहली भारत के लिए 208 एकदिवसीय मैच खेल चुके हैं और 58.11 की औसत से बल्लेबाजी करते हुए 9588 रन स्कोर कर चुके हैं। विराट कोहली का एकदिवसीय क्रिकेट में सर्वाधिक व्यक्तिगत स्कोर 183 रन है जो कि उनके बल्ले से पाकिस्तान के खिलाफ साल 2012 में एशिया कप में आया था। बहरहाल, विराट कोहली को अभी 30 साल का होने में कुछ समय बाकी है। उनकी वर्तमान फॉर्म और फिटनेस को देखते हुए इस बात की उम्मीद की जा सकती है 30 साल की उम्र को पूरा करने तक विराट कोहली एकदिवसीय क्रिकेट में कुछ शतक और लगा देंगे। लेखक: उदय जारिया अनुवादक: हिमांशु कोठारी

Edited by Staff Editor

Comments

Fetching more content...