Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

5 घरेलू खिलाड़ी जो बना सकते हैं ऑस्ट्रेलियाई टेस्ट टीम में जगह

SENIOR ANALYST
Modified 18 Nov 2016, 23:30 IST
Advertisement

ऑस्ट्रेलियाई टेस्ट टीम इन दिनों बुरे दौर से गुजर रही है । यहां तक कि टीम के कोच डेरेन लैहमन ने यहां तक कह दिया है कि ऑस्ट्रेलियाई टीम में डेविड वॉर्नर, स्टीव स्मिथ, मिचेल स्टॉर्क और जोश होजलवुड के अलावा किसी और खिलाड़ी  जगह नहीं पक्की है । इसका मतलब ये है कि 13 में से 9 खिलाड़ियों को 24 तारीख से एडिलेड में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ शुरु हो रहे एडिलेड मैच से पहले ड्रॉप किया जा सकता है । ऑस्ट्रेलिया पहले ही सीरीज हार चुका है, लेकिन उससे भी ज्यादा चिंता की बात ये है कि ऑस्ट्रेलियाई टीम अपने आखिरी के 5 टेस्ट और 5 वन-डे हार चुकी है । दूसरे टेस्ट मैच के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में ऑस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीव स्मिथ ने तो हद ही कर दी , स्मिथ ने कहा कि " अगर ईमानदारी से कहूं तो मैं यहां बैठकर काफी शर्मिंदा महसूस कर रहा हूं' एक वक्त था जब कंगारुओं की टीम भारत, इंग्लैंड और दक्षिण अफ्रीका को टेस्ट रैंकिंग में कड़ी टक्कर दे रही थी, लेकिन अब उनकी हालत बहुत ही खराब है, अब तो एक ड्रॉ और एक जीत भी उनके लिए बड़ी बात है । सीरीज से पहले जो बातें की जा रहीं थी उस पर पूरी तरह से विराम लग गया है । ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों के कंधे झुके हुए हैं और होबार्ट टेस्ट के बाद कप्तान स्टीव स्मिथ के चेहरे पर चिंता साफ देखी जा सकती थी | ऑस्ट्रेलियाई टीम के लिए ये बेहद ही चिंता का विषय है और इसी में उलझी हुई है कि नए सिरे से कैसे शुरुआत की जाए । लेकिन एक बात तो तय है कि ऑस्ट्रेलिया को अब नए चेहरों की जरुरत है, नाथन लायन, पीटर नेविल और एडम वोग्स के खराब फॉर्म को देखते हुए ये और भी जरुरी हो जाता है । हालांकि उन्होंने होबॉर्ट टेस्ट में 2 नए खिलाड़ियों को मौका जरुर दिया, लेकिन वे सभी अपनी छाप छोड़ने में नाकाम रहे । ऐसे में ऑस्ट्रेलियाई चयनकर्ताओं को चाहिए कि वो शेफील्ड शील्ड में शानदार प्रदर्शन करने वाले युवा खिलाड़ियों पर ध्यान दे, जिनके बारे में काफी कुछ कहा जा रहा है, लेकिन अभी तक चयनकर्ताओं का ध्यान उनकी तरफ गया नहीं है । आपको हम बताते हैं 5 ऐसे ही खिलाड़ियों के बारे में जो बना सकते हैं ऑस्ट्रेलिया के नेशनल टीम में जगह :


5. कुर्टिस पैटर्सन-

Sheffield Shield - QLD v NSW: Day 1

2011 की शेफील्ड शील्ड में कुर्टिस पैटर्सन डेब्यू मैच में ही शतक जड़ने वाले सबसे युवा खिलाड़ी बने । उन्होंने न्यू साउथ वेल्स की तरफ से खेलते हुए वेस्टर्न ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ नाबाद 157 रनों की पारी खेली । हालांकि इसके बाद उनका फॉर्म उतना अच्छा नहीं रहा, लेकिन 2015-16 का सीजन पैटर्सन के लिए बहुत ही शानदार रहा । उन्होंने इस सीजन में 737 रन बनाए और अपनी टीम की तरफ से सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी रहे, वहीं ओवरऑल छठे नंबर पर रहे । 32 प्रथम श्रेणी मैचो में 42. 5 की औसत से पैटर्सन के नाम 2171 रन हैं और इस समय ऑस्ट्रेलियाई टीम के मिडिल ऑर्डर के खराब फॉर्म को देखते हुए वो संजीवनी साबित हो सकते हैं । पैटर्सन की उम्र अभी महज 23 साल है और अगर उन्हें पूरा मौका दिया जाए तो वो ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट को लंबे समय तक सेवा दे सकते हैं ।
1 / 5 NEXT
Published 18 Nov 2016, 23:30 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now
❤️ Favorites Edit