Create
Notifications

आईपीएल 2017 की नीलामी से पहले शीर्ष 5 टीमें

सावन गुप्ता
visit

20 फरवरी को आईपीएल 2017 के लिए खिलाड़ियों की नीलामी होगी। इस नीलामी में 750 से ज्यादा खिलाड़ियों की बोली लगेगी। टीमों और खिलाड़ियों को देखें तो आईपीएल का ये 10वां सीजन भी काफी धमाकेदार रहने वाला है। 2008 में इसके पहले संस्करण से लेकर अब तक कई फ्रेंजाइजी टीमें इस टूर्नामेंट में हिस्सा ले चुकी हैं और कई जीत भी चुकी हैं। वहीं कुछ टीमें अब इस टूर्नामेंट का हिस्सा नहीं हैं। आइए आपको बताते हैं इस बार के संस्करण की टॉप 5 टीमें। 5. गुजरात लायंस gujarat-lions-1486817944-800 राजस्थान रॉयल्स और चेन्नई सुपर किंग्स के 2 साल के लिए सस्पेंड होने के बाद गुजरात लायंस टीम बनी। सुरेश रैना को टीम की कमान सौंपी गई और अपने पहले ही टूर्नामेंट में रैना ने बेहतरीन कप्तानी करते हुए टीम को प्ले ऑफ तक पहुंचाया। हालांकि पिछले सीजन में टूर्नामेंट के बीच में आकर गुजरात लायंस की टीम का फॉर्म थोड़ा जाता रहा फिर भी टीम ने अच्छी वापसी की। हालांकि प्लेऑफ में लायंस की टीम अपने दोनों मैच हार गई इसकी वजह से फाइनल तक नहीं पहुंच पाई। पहले मुकाबले में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलुरु ने तो दूसरे मुकाबले में सनराइजर्स हैदराबाद की टीम ने लायंस को हराया। पिछले सीजन के शानदार प्रदर्शन को देखते हुए इस बात की पूरी संभावना है कि रैना इस सीजन में भी टीम की कप्तानी करेंगे। वहीं टीम ने ब्रेंडन मैकलम, ड्वेन ब्रावो और एरोन फिंच जैसे खिलाड़ियों को रिटेन किया है। इसे देखकर लगता है कि टीम की बल्लेबाजी कितनी मजबूत है। 4. सनराइजर्स हैदराबाद sunrisers-hyderabad-1486818138-800 बीसीसीआई ने जब डेक्कन चार्जस हैदराबाद का कांट्रैक्ट खत्म कर दिया तब 2012 में सनराइजर्स हैदराबाद की टीम बनी। 2013 में अपने पहले सीजन में कुमार संगकारा और कैमरन व्हाइट ने टीम की कप्तानी की। हालांकि एलिमिनेटर मुकाबले में सनराइजर्स को राजस्थान रॉयल्स के हाथों 4 विकेट से हार का सामना करना पड़ा। अगले सीजन में शिखर धवन को टीम का कप्तान बनाया गया, लेकिन टीम ग्रुप स्टेज से बाहर नहीं निकल सकी। यही हाल 2015 के सीजन में भी रहा। टीम की कप्तानी ऑस्ट्रेलियाई सलामी बल्लेबाज डेविड वॉर्नर को सौंपी गई लेेकिन टीम जीत नहीं सकी। हालांकि 2016 के सीजन में डेविड वॉर्नर ने आगे बढ़कर टीम को लीड किया। वॉर्नर ने पूरे टूर्नामेंट में बल्ले से काफी अच्छा प्रदर्शन किया और अकेले अपने बलबूते पर टीम को फाइनल में पहुंचाया। फाइनल मुकाबले में सनराइजर्स की टीम ने रायल चैलेंजर्स बैंगलुरु को 8 रन से हराकर आईपीएल का खिताब जीता। इस साल भी टीम ने युवराज सिंह और शिखर धवन जैसे स्टार प्लेयरों को रिटेन किया है। वहीं टीम में डेविड वॉर्नर जैसा धाकड़ बल्लेबाज तो हैं ही। 3. रॉयल चैलेंजर्स बैंगलुरु Royal-Challengers-Bangalore-RCB-celebrate2 एक सीजन को छोड़ दें तो पूरे आईपीएल सीजन में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलुरु की टीम काफी मजबूत मानी जाती रही है। लेकिन टीम अभी भी इस टूर्नामेंट को जीत नहीं सकी है। एक बार नहीं, 2 बार नहीं, बल्कि तीन-तीन बार बैंगलुरु की टीम आईपीएल के फाइनल में पहुंची, लेकिन टीम कभी ट्रॉफी नहीं जीत सकी। आईपीएल का पहला सीजन बैंगलुरु के लिए काफी निराशाजनक रहा। आईपीएल इतिहास के पहले ही मैच में कोलकाता नाइट राइडर्स की तरफ से खेलते हुए विस्फोटक बल्लेबाज ब्रेंडन मैकलम ने आरसीबी के खिलाफ काफी धमाकेदार बल्लेबाजी की। मैकलम ने 158 रनों की तूफानी पारी खेली। जिसकी वजह से टीम बड़े अंतर से मैच हार गई। पहला मैच हारने के बाद टीम कभी वापसी नहीं कर सकी। अगले सीजन में टीम का कप्तान दिग्गज स्पिनर अनिल कुंबले को बनाया गया। आईपीएल का दूसरा संस्करण साउथ अफ्रीका में खेला गया। कुंबले की कप्तानी में आरसीबी की टीम ने काफी अच्छा प्रदर्शन किया और फाइनल तक पहुंची। हालांकि फाइनल मुकाबले में डेक्कन चार्जस की टीम ने उन्हें हरा दिया। फाइनल मुकाबला काफी रोमांचक रहा लेकिन टीम खिताब नहीं जीत पाई। अगले सीजन में टीम ने सेमीफाइनल तक का सफर तय किया। 2011 के सीजन में टीम एक बार फिर से फाइनल में पहुंची लेकिन दुर्भाग्य आरसीबी का साथ नहीं छोड़ रहा था। फाइनल मुकाबले में चेन्नई सुपर किंग्स की टीम ने आरसीबी को हरा दिया। 2011 का सीजन पूरी तरह से गेल के नाम रहा, गेल ने पूरे टूर्नामेंट में धमाकेदार बल्लेबाजी की लेकिन फाइनल मुकाबले में 205 रनों के विशाल लक्ष्य का पीछा करते हुए गेल बिना खाता खोले आउट हो गए। जिसकी वजह से टीम को 58 रनों से हार का सामना करना पड़ा। चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने बड़ी चालाकी से पहले ही ओवर में गेल के सामने स्पिन आक्रमण को लगा दिया। गेल धोनी के इस जाल में फंस गए और टीम को बीच मझधार में छोड़कर चलते बने। गेल का विकेट अश्विन ने लिया था। इसके अगले 3 सीजन में भी कागजों में आरसीबी की टीम काफी मजबूत थी, लेकिन नाम के अनुरुप प्रदर्शन नहीं कर पाई। 2016 के सीजन में विराट कोहली की अगुवाई में टीम ने काफी अच्छा प्रदर्शन किया और फाइनल तक पहुंची। कोहली खुद पूरे सीजन में जबरदस्त फॉर्म में दिखे और 4 शतक लगाया। लेकिन फाइनल दुर्भाग्य ने फिर से आरसीबी का साथ नहीं छोड़ा और रोमांचक मुकाबले में टीम सनराइजर्स हैदराबाद से हार गई। इस साल भी टीम ने अपने प्रमुख खिलाड़ियों डिविलियर्स, क्रिस गेल और कोहली को रिटेन किया है। उम्मीद है इस साल भी कोहली की अगुवाई में आरसीबी की टीम धमाकेदार प्रदर्शन करेगी। 2.मुंबई इंडियंस mumbai-indians पहले 2 सीजन में निराशाजनक प्रदर्शन के बाद मुंबई इंडियंस की टीम ने 2010 के सीजन में लय हासिल कर ली। उस सीजन में टीम ने फाइनल तक का सफर तय किया। हालांकि फाइनल मुकाबले में टीम चेन्नई सुपर किंग्स से हार गई लेकिन मुंबई इंडियंस की टीम ने दिखा दिया कि स्टार खिलाड़ियों से सजी ये टीम अब फॉर्म में आ गई है। अगले 2 सीजन में टीम का प्रदर्शन ठीक-ठाक रहा। लेकिन 2013 के सीजन में रोहित शर्मा की अगुवाई में टीम ने अपना आईपीएल खिताब जीता। फाइनल मुकाबले में मुंबई इंडियंस की टीम ने चेन्नई सुपर किंग्स को हराया। ये टीम फ्रेंचाइजी के लिए किसी बड़े अवॉर्ड से कम नहीं था, क्योंकि इसके लिए उन्होंने काफी मेहनत की थी। उसी साल टीम ने चैंपियंस लीग टी-20 का खिताब भी जीता। इसकी वजह से टीम का आत्मविश्वास काफी बढ़ गया। 2014 में टीम प्लेऑफ तक पहुंची और 2015 के सीजन में एक बार फिर से मुंबई की टीम ने फाइनल में चेन्नई सुपर किंग्स को हराकर अपना दूसरा टाइटल जीता। हालांकि 2016 के सीजन में टीम अंतिम 4 तक पहुंचने में नाकाम रही। इस साल भी टीम ने अंबाती रायडू, जसप्रीत बुमराह, और हार्दिक पांड्या जैसे दिग्गज खिलाड़ियों को टीम में रखा है। वहीं विदेशी खिलाड़ियों में टिम साउदी, जॉस बटलर, मिचेल मैक्लेनघन, किरोन पोलॉर्ड और लसिथ मलिंगा स्टार खिलाड़ियों को रिटेन किया है। 1.कोलकाता नाइट राइडर्स kkr-1486818945-800 अगर आपकी टीम का मालिक शाहरुख खान जैसा दिग्गज स्टार है तो सफलता ज्यादा दिन तक आपसे दूर नही रह सकती। आईपीएल का पहला 3 सीजन कोलकाता नाइट राइडर्स की टीम के लिए काफी कठिनाई भरा रहा। भारत के सबसे सफल कप्तानों में से एक सौरव गांगुली टीम के कप्तान थे, लेकिन भारतीय टीम की तरह वो केकेआर को प्लेऑफ में नहीं पहुंचा सके। लगातार मिल रही असफलताओं के बाद 2011 के सीजन में केकेआर फ्रेंचाइजी ने टीम को पूरी तरह बदल दिया। टीम ने 1.5 मिलियन की भारी भरकम रकम देकर दिल्ली के बल्लेबाज गौतम गंभीर को खरीदा और उन्हें टीम का कप्तान बनाया। उस सीजन में टीम अंतिम चार तक पहुंची। 2012 के सीजन में केकेआर ने धमाकेदार प्रदर्शन करते हुए अपना पहला आईपीएल खिताब जीता। रोमांचक फाइनल मुकाबले में केकेआर की टीम ने शानदार फॉर्म में चल रही चेन्नई सुपर किंग्स को हराकर खिताबी जीत दर्ज की। हालांकि अगले सीजन में टीम लीग स्टेज से ही बाहर हो गई लेकिन 2014 के सीजन में टीम एक बार फिर से फाइनल तक पहुंचने में कामयाब रही। फाइनल मुकाबले में केकेआर का मुकाबला पूरे सीजन में धमाकेदार प्रदर्शन करती आई किंग्स इलेवन पंजाब से था। लेकिन केकेआर की टीम ने किंग्स इलेवन को फाइनल मुकाबले में हरा दिया। पिछले सीजन में टीम प्लेऑफ तक जरुर पहुंची लेकिन सनराइजर्स हैदराबाद से हारकर टूर्नामेंट से बाहर हो गई। इस सीजन में टीम ने अपने उन सभी खिलाड़ियों को अपने पास रखा है जिन्होंने बीते सालों में टीम को नई बुलंदियों तक पहुंचाया है। इस साल भी टीम की कप्तानी गौतम गंभीर करेंगे। उनका साथ रॉबिन उथप्पा, मनीष पांडेय, शाकिब-अल-हसन और सुनील नरेन जैसे खिलाड़ी देंगे। लेखक-देबदूत दास अनुवादक-सावन गुप्ता

Edited by Staff Editor
Article image

Go to article
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now