Create
Notifications

वनडे के 5 ऐसे रिकॉर्ड्स जो साल 2018 में टूट गए

शारिक़ुल होदा Shariqul Hoda
visit

क्रिकेट अब वैसा खेल नहीं रह गया, जैसा कि पहले हुआ करता था, इस खेल में लगातार बदलाव देखने को मिलते हैं। छोटी बाउंड्री, भारी बल्ले और ज़्यादा फ़िट खिलाड़ी आज दिखाई देते हैं। इसी वजह आज वर्ल्ड रिकॉर्ड तोड़ना पहले के मुक़ाबले ज़्यादा आसान है। बल्लेबाज़ का फ़िटनेस लेवल और गेंदबाज़ों का हुनर पहले के मुक़ाबले कहीं ज़्यादा है। हमने फ़िलहाल 2018 के सफ़र को आधा ही तय किया है लेकिन इस दौरान कई पुराने रिकॉर्ड्स टूटे और कई नए रिकॉर्ड्स बनाए गए। हम यहां ऐसे 5 रिकॉर्ड्स के बारे में बात करेंगे जो इस साल टूटे हैं।

#5 द्विपक्षीय वनडे सीरीज़ में सबसे ज़्यादा रन – विराट कोहली

इस साल के शुरुआत में हुई भारत बनाम दक्षिण अफ़्रीका वनडे सीरीज़ कप्तान विराट कोहली के लिए काफी अच्छी रही। उन्होंने 6 पारियों में 186 की औसत से 558 रन बनाए थे, इस दौरान उन्होंने 3 शतक। वो पहले ऐसे बल्लेबाज़ बने, जिन्होंने द्विपक्षीय सीरीज़ में 500 रन के आंकड़े को पार किया। इससे पहले रोहित शर्मा ने साल 2014 में ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ द्विपक्षीय सीरीज़ में ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ 491 रन बनाए थे। ये बात दिलचस्प है कि साल 2018 से पहले कोहली ने दक्षिण अफ़्रीकी में वनडे में एक भी शतक नहीं लगाया था। 29 साल के इस धाकड़ खिलाड़ी के लिए ये 3 शतक बेहद यादगार था। पूरी सीरीज़ में विराट कोहली हावी रहे और उन्होंने अपने कप्तानी में भारत को ये सीरीज़ 5-1 से जिताई।

#4 वनडे में एक ही गेंदबाज़ द्वारा दिए गए सबसे ज़्यादा रन- कारा मरे

ऐसा हमेशा नहीं होता कि किसी के रिकॉर्ड उसकी महानता को ही साबित करते हैं, कई बार ऐसे रिकॉर्ड भी बन जाते है जिसे वो खिलाड़ी कभी नहीं याद रखना चाहेंगे। इस साल भी कुछ ऐसा ही हुआ, एक मैच में न्यूज़ीलैंड की महिला क्रिकेट टीम ने आयरलैंड के ख़िलाफ़ वनडे का सबसे बड़ा स्कोर बनाया। इस दौरान आयरिश गेंदबाज़ कारा मरे ने 10 ओवर के अपने स्पेल में 119 रन दिए जो वनडे में सबसे ज़्यादा रन देने का रिकॉर्ड है। दिलचस्प बात ये है कि ये कारा का डेब्यू वनडे मैच था। कारा ने न्यूज़ीलैंड की मिक लुईस का रिकॉर्ड तोड़ा है। लुईस ने साल 2006 में दक्षिण अफ़्रीका के ख़िलाफ़ जोहान्सबर्ग में 113 रन लुटाए थे।

#3 वनडे मैच में महिला टीम का सबसे बड़ा स्कोर- न्यूज़ीलैंड

न्यूज़ीलैंड की महिला क्रिकेट टीम ने 8 जून 2018 को इतिहास रचा था। कीवी टीम ने आयरलैंड के ख़िलाफ़ 50 ओवर में 4 विकेट खोकर 490 रन बनाए। ये वनडे क्रिकेट इतिहास का अब तक का सबसे बड़ा स्कोर है। महिला कीवी टीम ने अपना ही 455 रन का रिकॉर्ड को तोड़ा, जो उन्होंने 21 साल पहले पाकिस्तान के ख़िलाफ़ बनाया था। न्य़ूज़ीलैंड की कप्तान सूज़ी बेट्स मैच की स्टार रहीं और उन्होंने 94 गेंदों में 151 रन की पारी खेली थीं।

#2 वनडे में पहले विकेट के लिए सबसे बड़ी साझेदारी –फखर ज़मान और इमाम-उल-हक

पाकिस्तान के सलामी बल्लेबाज फखर ज़मान ने जून 2017 में वनडे मे डेब्यू किया था, तब से लेकर अब तक वो लगातार सुर्ख़ियों में बने हुए हैं। 20 जुलाई 2018 को फखर ज़मान और इमाम-उल-हक़ ने पहले विकेट के लिए सबसे बड़ी साझेदारी करने का विश्व रिकॉर्ड बनाया। इन दोनों बल्लेबाज़ों ने मिलकर पहले विकेट के लिए 304 रन जोड़े। ये पहले विकेट के लिए पहली 300 से ज़्यादा रन की साझेदारी है। फख़र और इमाम ने मिलकर श्रीलंका के उपल थारंगा और सनथ जयसूर्या के 286 रन की साझेदारी का रिकॉर्ड तोड़ा, जो उन्होंने 12 साल पहले इंग्लैंड के ख़िलाफ़ लीड्स में बनाया था।

#1 पुरुष वनडे में टीम का सबसे बड़ा स्कोर – इंग्लैंड

साल 2015 के आईसीसी वर्ल्ड कप में इंग्लैंड का प्रदर्शन बेहद खराब रहा थ ग्रुप स्टेज में ही टूर्नामेंट से बाहर हो गई थी। इसके बाद इयोन मॉर्गन की इंग्लिश टीम ने अपने खेल में ज़बरदस्त सुधार किया और वनडे की टॉप टीम बन गई। 19 जून 2018 को नॉटिंघम में इंग्लैंड ने चमत्कारिक रिकॉर्ड बनाया। इंग्लैंड पहली ऐसी टीम बनी जिसने वनडे में 450 रन के आंकड़े को पार किया। साल 2016 में उसी मैदान में इंग्लैंड ने पाकिस्तान के ख़िलाफ़ 444 रन का स्कोर खड़ा किया था। इस साल ऑस्ट्रेलियाई टीम इंग्लैंड का शिकार बनी। बैर्स्टो ने 92 गेंदों पर 139 रन की पारी खेली और एलेक्स हेल्स ने 92 गेंदों में 147 रन बनाए। रॉय और कप्तान मॉर्गन ने अर्धशतक लगाए, इन बल्लेबाज़ों की बदौलत इंग्लिश टीम ने 6 विकेट खोकर 481 रन बनाए।

लेखक- प्रसाद मेदांती

अनुवादक- शारिक़ुल होदा

Edited by Staff Editor
Article image

Go to article
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now