Create
Notifications

IPL इतिहास के 5 यादगार सुपर ओवर

Modified 01 Apr 2017

साल 2003 में ईसीबी ने जब से टी-20 क्रिकेट का इजाद किया है। तब से इस प्रारूप ने क्रिकेट को सबसे रोमांचक बना दिया है। आईपीएल की सफलता इस बात की सबसे बड़ी गवाह है। खेल का ये प्रारूप कम समय में दर्शकों का सबसे ज्यादा मनोरंजन करता है। इसके अलावा आईपीएल के हरेक मुकाबले का एक विजेता होता है। चाहे वह सुपर ओवर से ही क्यों न हो। आईपीएल का दसवां सीजन जल्द ही शुरू होने वाला है। उससे पहले आइये जानते हैं कि इस रोमांचक लीग के उन 5 मैचों के बारे जब विजेता सुपर ओवर से चुना गया। सुपर ओवर के नियम: - सुपर ओवर तब होता है, जब मैच टाई हो जाता है। सुपर ओवर में मैच में पहले बल्लेबाज़ी करने वाली टीम बाद में बल्लेबाज़ी करती है। सुपर ओवर प्रत्येक टीम में तीन बल्लेबाज़ होते हैं, मतलब दो विकेट गिरते ही टीम ऑलआउट हो जाती है। सुपर ओवर में शामिल होने वाला खिलाड़ी या फिर बल्लेबाज़ी कर सकता है या गेंदबाजी। सुपर ओवर मुकाबला भी टाई रहा तो, -मुख्य मुकाबले+सुपर ओवर में सबसे ज्यादा चौके लगाने वाली टीम विजेता बनती है। -मुख्य मुकाबले में सबसे ज्यादा चौके लगाने वाली टीम विजेता बनती है। अगर मुख्य मुकाबला वर्षबाधित रहा तो सुपर ओवर की आखिरी गेंद पर अतिरिक्त रन को शामिल करते हुए सबसे ज्यादा रन बनाने वाली टीम को विजेता माना जायेगा। सनराइजर्स हैदराबाद बनाम आरसीबी, 2013 आईपीएल 2013 में क्रिस गेल ने 66 गेंदों में 175 रन की पारी खेली थी। इसके अलावा राजस्थान रॉयल्स के तीन खिलाड़ी स्पॉट फिक्सिंग में फंस गये थे। फाइनल मुंबई और चेन्नई के बीच हुआ था। जहां पहली बार मुंबई ने खिताबी जीत दर्ज की थी। साथ ही सचिन ने आईपीएल को अलविदा कह दिया था। इस सीजन में दो सुपर ओवर के मुकाबले भी हुए थे। हैरानी की बात ये भी है कि आरसीबी इन दोनों मुकाबलों में शामिल थी। यहाँ हम आपको पहले मैच के बारे में बता रहे, जो एसआरएच और आरसीबी के बीच हुआ था। जिसमें दोनों टीमों ने 130 रन बनाये थे। सुपर ओवर में विनय कुमार गेंदबाज़ थे और तिसारा परेरा और कैमरून वाइट बल्लेबाज़ थे। 20 रन बनाकर एसआरएच ने मुंबई को 21 रन का लक्ष्य दिया। साथ ही डेल स्टेन को गेंद थमाई। वहीं आरसीबी ने गेल और विराट को बल्लेबाज़ के रूप चुना।












































सुपर ओवर SRH RCB
गेंद 1 नोबॉल(1 +1) 1   2
गेंद 2 1 1
गेंद 3 1 4
गेंद 4 6 1
गेंद 5 6 6
गेंद 6 2 1
कुल 20 15
सुपर ओवर के इस मुकाबले में घरेलू टीम एसआरएच को फायदा मिला। वाइट ने विनय कुमार के ओवर में छक्के लगाये। नो बॉल में भी एसआरएच को दो अतिरिक्त रन मिले थे। जवाब में डेल स्टेन की दो बेहतरीन यॉर्कर ने आरसीबी के बल्लेबाजों को लक्ष्य तक पहुँचने से रोक दिया। इस सुपर ओवर से दोनों टीमों को एक सबक मिला कि ऐसे अहम मौके पर हमें अतिरिक्त रन नहीं देने चाहिए। साथ ही लेंथ गेंद से भी गेंदबाज़ को बचना चाहिए।
1 / 5 NEXT
Published 01 Apr 2017
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now