Create
Notifications

सबसे ज्यादा टेस्ट और वनडे में अंपायरिंग करने वाले टॉप 5 अंपायर

ANALYST
Modified 30 Jul 2018
क्रिकेट के खेल में फैसला देने के लिए अंपायर की भूमिका काफी अहम मानी जाती है। क्रिकेट के नियमों के मुताबिक अंपायरों के पास मैदान पर निर्णय लेने का अधिकतम अधिकार है। क्रिकेट के खेल में शुरुआत में दो अंपायर हुआ करते थे और फिर तीसरे अंपायर को 90 के दशक में पेश किया गया। बिना अंपायर के क्रिकेट के खेल की कल्पना भी नहीं की जा सकती है। अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने साल 2002 में टेस्ट और वनडे इंटरनेशनल के लिए आईसीसी अंपायरों के एलिट पैनल की स्थापना की थी। शुरुआत में यह पैनल आठ अंपायरों के साथ शुरू हुआ और फिर विस्तार होते-होते अब इसका आंकड़ा 12 पहुंच चुका है। साइमन टौफेल, अशोका डी सिल्वा, श्रीनिवास वेंकटराघवन, डेव ऑर्चर्ड, डेविड शेफर्ड, इयान गुल्ड, कुमार धर्मसेना, नाइजल लोंग और रसेल टिफिन कुछ सबसे मशहूर अंपायरों में से हैं जो ओडीआई और टेस्ट में अब तक कार्यरत हैं। आइए यहां जानते हैं शीर्ष पांच अंपायरों के बारे में जिन्होंने अधिकांश टेस्ट और ओडीआई में अंपायरिंग की है। #5 डेरिल हार्पर- 269 (174 वनडे, 95 टेस्ट) डेरिल हार्पर 2002 में स्थापित आईसीसी पैनल के आठ सदस्यों में से एक थे। 1951 में पैदा हुए इस ऑस्ट्रेलियाई ने 1994 में अंतर्राष्ट्रीय खेल में अपनी पहली उपस्थिति दर्ज की। इसके बाद उन्होंने 1998 में एक टेस्ट मैच के साथ ही अपनी अंपायरिंग की शुरुआत की। हार्पर 1994 से 2011 तक अंतर्राष्ट्रीय अंपायर थे और अपने करियर में उन्होंने 174 वनडे इंटरनेशनल और 95 टेस्ट मिलाकर कुल 269 मैचों में अंपायरिंग की। साल 2003 के विश्वकप में सेमीफाइनल में भी उन्होंने अंपायरिंग की। हालांकि वेस्टइंडीज दौरे के दौरान भारतीय टीम के जरिए आलोचना किए जाने के बाद साल 2011 में डेरिल हार्पर ने अपने अंतरराष्ट्रीय अंपायरिंग करियर से संन्यास ले लिया। हालांकि उनका करियर सही तरीक से खत्म नहीं हुआ लेकिन फिर भी हार्पर एक शानदार अंपायर के तौर पर जाने जाते हैं।
1 / 5 NEXT
Published 30 Jul 2018
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now