Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

लक्ष्य का पीछा करते हुए विराट कोहली के टॉप-5 शतक

Modified 30 Oct 2016, 17:37 IST
Advertisement

कुछ दिन पहले विराट कोहली ने क्रिकेट की पुरानी कहावत " Catches win Matches" का एक उदाहरण पेश किया । इस कैच रॉस टेलर ने तब ड्रॉप की जब कोहली सिर्फ 6 रन पर थे, जिसके चलते न्यूज़ीलैंड को मैच गंवाना पड़ा । दिल्ली के इस दिलेर बल्लेबाज़ ने नाबाद रहते हुए 154 रन की पारी खेली और कप्तान धोनी के साथ तीसरे विकेट के लिए 151 रन जोड़े फिर मनीष पांडे के साथ 97 रन की  साझेदारी की जिमसे पांडे ने  नाबाद रहते हुए 28 रन बनाए । कोहली ने अभी तक 174 वनडे खेले हैं, जो काफी होते हैं हालांकि उन्हें अभी महान खिलाड़ियों से कंपेयर नहीं किया जा सकता । बावजूद इसके कि वो इस लीग में शुमार हो चुके हैं।कोहली ने 166 पारियों में 52.90 की आश्चर्यचकित कर देने वाली औसत और 90.49 के स्ट्राइक रेट से 7460 रन बनाए हैं। और अगर औसत और स्ट्राइक रेट से आप प्रभावित न हों तो कोहली के खाते में 26 शतक भी हैं जिसका मतलब की कोहली हर छठी पारी में शतक बनाते हैं।  और तो और महान सचिन तेंदुलकर भी ये कारनामा नहीं कर सके जिनके नाम पर  542 पारियों में 49 शतक दर्ज हैं। ये सिर्फ इतना ही नहीं है जो कोहली को इस दौर की रन मशीन बनाता है बल्कि ये इनके दूसरी पारी के आंकड़े भी हैं।
इनके बारे में काफी कुछ कहा और लिखा जा चुका है और हर भारतीय जानता है कि निसंदेह ही कोहली भारत के सर्वश्रेष्ठ मैच फिनिशर हैं और धोनी ही उनको इस मामले में टक्कर दे सकते हैं। कोहली ने दूसरी पारी में 63.78 की लाजवाब औसत और 16 शतकों की मदद से 4656 रन बनाए हैं। आईए हम कोहली की 5 बेस्ट शतकीय पारियों पर नजर डालते हैं जिसमें से कई तो बेहद विस्फोटक और हिला देने वाली पारी हैं। #1  183(148) Vs पाकिस्तान ,ढाका , 2012

अभी तक की सबसे शानदार पारी , जो भारत के बाहर पूरे दबाव में और वो भी चिर प्रतिद्वंदी पाकिस्तान के खिलाफ एशिया कप में आई। पाकिस्तान ने ओपनर्स के बीच हुई 224 रनों की साझेदारी की बदौलत भारत को जीत के लिए 330 रन का लक्ष्य दिया। भारत के लिए लक्ष्य का पीछा करते हुए शुरुआत अच्छी नहीं रही और गंभीर दूसरी ही गेंद पर आउट हो गए। सचिन की 48 गेंद पर 53 रन की तेज़ तरार पारी ने मदद जरूर की और कोहली के साथ मिलकर 133 रन की साझेदारी की।  कोहली ने फिर साझेदारी के सिलसिले को रोहित शर्मा के साथ आगे बढ़ाया और दोनों ने तीसरे विकेट के लिए 172 रन जोड़े । जिसमें रोहित ने सिर्फ 82 के स्ट्राइक रेट से 68 रन बनाए। बावजूद इसके टीम इंडिया इस लक्ष्य को  सिर्फ  57.5 ओवर्स में ही हासिल करने में सफल रही लेकिन ये कोहली की पारी की वजय से हुआ जिन्होंने 22 चौके और 1 छक्का जड़ा वो भी 123.64 की स्ट्राइक रेट के साथ । कोहली ने भारत को कभी दबाव में नहीं आने दिया हालांकि भारत को 25 ओवर में 169 रन , 20 ओवर में 143 रन और आखिरी 10 ओवर में 83 रन चाहिए थे।
1 / 5 NEXT
Published 30 Oct 2016, 17:37 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now
❤️ Favorites Edit