Create
Notifications

ICC World Cup Qualifier: 2019 वर्ल्ड कप की लड़ाई इस बार होगी और भी मज़ेदार

पुनीत शर्मा

विश्व कप 2019 अब ज्यादा दूर नहीं है, इस बार विश्व कप एक नए रंग रूप में नज़र आएगा। इस बार टीमों की संख्या में कटौती की गई है, इस कटौती का उद्देश्य ये है कि खेल प्रेमियों को विश्व कप के दौरान क़्वालिटी मैच ही देखने को मिलें। इस बार इसमें मात्र 10 टीमें ही दिखाई देंगी, इसमें भाग लेने वाली 8 टीमों के नाम तो तय हो चुके हैं, लेकिन अंतिम दो टीमों के नामों पर मुहर लगना बाक़ी है। नये फॉर्मेट के अनुसार ICC रैंकिंग में 30 सितम्बर 2017 तक टॉप रैंकिंग वाली 7 टीमें और एक मेजबान देश विश्व कप के लिए सीधे क्वालिफाई करेंगे, बाकी दो टीमें क्वालिफायर खेलकर अपनी जगह बनाएंगी। नये फॉर्मेट के अनुसार मेजबान टीम होने के नाते इंग्लैंड सीधे क्वालिफाई कर चुकी है। इंग्लैंड के अलावा टॉप 7 टीमों में शामिल वर्तमान चैम्पियन ऑस्ट्रेलिया, वर्तमान रनर अप न्यूजीलैंड, पूर्व चैम्पियन भारत, पूर्व चैम्पियन पाकिस्तान, पूर्व चैम्पियन श्रीलंका, दक्षिण अफ्रीका और बांग्लादेश की टीमें शामिल हैं। इसमें दो बार की चैम्पियन वेस्टइंडीज टीम का नाम शामिल नहीं है, क्योंकि अपने कमजोर प्रदर्शन के कारण वो टॉप 7 टीमों में अपना स्थान नहीं बना पाई। अंतिम दो टीमें कौन सी होंगी? इसका निर्णय आगामी वर्ल्ड कप क्वालिफायर 2018 टूर्नामेंट द्वारा किया जाएगा। ये प्रतियोगिता 4 मार्च से 25 मार्च के बीच जिम्बाब्बे में खेली जाएगी। इसमें 10 टीमें भाग ले रही हैं। इन 10 टीमों में ICC रैंकिंग की बॉटम 4 टीमें वेस्टइंडीज, अफगानिस्तान, जिम्बाब्बे और आयरलैंड शामिल हैं। इनके अलावा 2015-17 की विश्व क्रिकेट लीग चैंपियन टीमें स्कॉटलैंड, हॉलैंड (नीदरलैंड), पपुआ न्यू गिनी और हांगकांग की टीम भी शामिल हैं। शेष दो टीमें विश्व क्रिकेट लीग डिवीजन 2 की टॉप 2 टीमें नेपाल और यूएई हैं। इन टीमों को दो ग्रुप में बांटा गया है। प्रत्येक ग्रुप की टॉप 3 टीमें अगले राउंड सुपर सिक्स के लिए क्वालिफाई करेंगी। सुपर सिक्स की समाप्ति पर जो दो टीमें अंक तालिका में सबसे उपर रहेंगी, वो फाइनल में तो प्रवेश करेंगी ही, साथ ही इंग्लैंड में होने वाले 2019 विश्व कप के लिए भी अपना टिकट कटा लेंगी। ग्रुप A में वेस्टइंडीज, आयरलैंड, हॉलैंड, पपुआ न्यू गिनी और यूएई की टीमें शामिल हैं। जबकि ग्रुप B में अफगानिस्तान, जिम्बाब्बे, स्कॉटलैंड, हांगकांग और नेपाल की टीमें शामिल हैं। इनमें से वो कौन सी दो टीमें होंगी, जो हमें अगले विश्व कप में खेलती नज़र आ सकती हैं? वेस्टइंडीज, अफगानिस्तान, आयरलैंड, जिम्बाब्बे और स्कॉटलैंड की टीमें इसकी प्रबल दावेदार हैं। सम्भावना तो यही है कि सुपर सिक्स में ग्रुप ए से आयरलैंड औऱ वेस्टइंडीज की टीमें सुपर सिक्स में पहुचेंगी। इस ग्रुप से सुपर सिक्स में पहुंचने वाली तीसरी टीम हॉलैंड या पपुआ न्यू गिनी में से एक हो सकती है। बात करें ग्रुप बी की तो इस ग्रुप से अफगानिस्तान, जिम्बाब्बे और स्कॉटलैंड की टीमों का सुपर सिक्स में जाना लगभग तय है! जहां तक फाइनल में जगह बनाने की बात है, तो अगर कोई उलटफेर नहीं हुआ तो अफगानिस्तान की टीम फाइनल में पहुंचने वाली पहली टीम हो सकती है। दूसरे स्थान के लिए वेस्टइंडीज का दावा मजबूत नज़र आ रहा है, लेकिन आयरलैंड और जिम्बाब्बे के दावे को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता। इनमें से कोई भी वेस्टइंडीज को हैरान कर सकती है। कुल मिलाकर सम्भावना यही है कि दो टेस्ट खेलने वाले देशों के बीच ही फाइनल मैच खेला जाएगा, लेकिन इसके बावजूद भी कम से कम दो टेस्ट खेलने वाले देश वर्ल्ड कप का हिस्सा नहीं बन पाएंगे। क्रिकेट इतिहास में ऐसा पहली बार होगा जब कोई टेस्ट का दर्जा प्राप्त टीम विश्व कप में भाग नहीं ले पाएगी।


Edited by Staff Editor

Comments

Fetching more content...