Create
Notifications

IPL 2018: इंडियन प्रीमियर लीग में इस बार डेब्यू करने वाले खिलाड़ियों की एकादश

Himanshu Kothari

समय-समय पर, हम आंकड़ों, उम्र, खेल, परिस्थितियों, विपक्ष, देश आदि के विषय पर सर्वश्रेष्ठ ग्यारह का विश्लेषण करते हैं। लेकिन बहुत कम ही नए क्रिकेटरों का विश्लेषण होता है। यहां उन 11 खिलाड़ियों के बारे में बताया जा रहा है जिन्होंने अभी तक अपने आईपीएल करियर की शुरुआत नहीं की है। यहां विदेशी खिलाड़ियों को क्रिकेट के सबसे छोटे फॉर्मेट में उनके प्रदर्शन के आधार पर चुना गया है जबकि घरेलू दावेदारों को हाल की टी20 फॉर्म, सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी 2017/18 में किए गए उनके प्रदर्शन के आधार पर चुना गया है। वहीं अंडर -19 विश्व कप में शानदार प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ियों को भी इस सूची में शामिल किया गया है।

#1 एविन लुईस (बल्लेबाज़)

पिछले साल की नीलामी में एविन लुईस बिना बिके ही रह गए थे। त्रिनिदाद में जन्मे, बाएं हाथ के बल्लेबाज एविन लुईस क्रिस गेल से बहुत अलग नहीं हैं। लुईस भी अपनी विस्फोटक बल्लेबाजी के लिए जाने जाते हैं। कैरिबियन प्रीमियर लीग में खेलते हुए लुईस ने विस्फोटक बल्लेबाजी करते हुए 32 गेंदों का सामना करते हुए 97 रनों की जानदार पारी को अंजाम दिया था। भारत के खिलाफ लुईस ने फ्लोरिडा और सबिना पार्क खेलते हुए दो टी20 सैंकड़े जड़ दिए थे। जिसके कारण उन्हें इस सीजन में आईपीएल में एंट्री मिल गई और मुंबई इंडियंस ने लुईस को 3.8 करोड़ रुपए अपने साथ जोड़ा।

#2 डी'आर्सी शॉर्ट (बल्लेबाज)

न्यूजीलैंड के खिलाफ त्रिकोणीय सीरीज के फाइनल में मैच में डी'आर्सी शॉर्ट ने मैच जिताऊ अर्धशतकीय पारी खेली थी। होबार्ट हरिकेंस के शीर्ष क्रम के बल्लेबाज शॉर्ट तब सुर्खियों में आए जब उन्होंने बिग बैश लीग के डेब्यू मैच में ही सिडनी सिक्सर्स के खिलाफ धमाकेदार बल्लेबाजी की थी और विरोधी गेंदबाजी आक्रमण को तहस नहस करके रख दिया था। इस मैच में उन्होंने 8 चौके और 3 छक्के लगाते हुए सभी को प्रभावित कर दिया था। शॉर्ट एक ऑलराउंडर हैं, बाएं हाथ के सलामी बल्लेबाज और धीमी गति से बाएं हाथ के गेंदबाज के तौर पर शॉर्ट अपने टीम के लिए काफी फायदेमंद साबित होते हैं। इस सीजन के बीबीएल में शॉर्ट प्रमुख रन-स्कोरर हैं। आईपीएल के इस सीजन के लिए राजस्थान रॉयल्स ने उनको 4 करोड़ रुपये में अपने साथ शामिल किया है।

#3 शुबमन गिल (बल्लेबाज़)

हाल ही में खत्म हुए आईसीसी अंडर-19 विश्व कप में भारतीय टीम की ओर से शुबमन गिल ने शानदार बल्लेबाजी की। इसकी बदौलत शुबमन गिल अंडर-19 विश्व कप के 'मैन ऑफ द टूर्नामेंट' भी रहे। अब इस सीजन के आईपीएल के लिए कोलकाता नाइट राइडर्स ने शुबमन गिल को 1.8 करोड़ रुपये में अपने साथ शामिल किया है। उम्मीद है कि आईपीएल में भी शुबमन गिल विश्व कप के प्रदर्शन को दोहराने में कामयाब रहेंगे।

# 4 ध्रुव शोरे (बल्लेबाज)

सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी जीतने में ध्रुव शोरे का दिल्ली के लिए महत्वपूर्ण योगदान रहा। दिल्ली में जन्मे क्रिकेटर ध्रुव शोरे एक दाएं हाथ के बल्लेबाज हैं जिन्होंने अपना फर्स्ट क्लास डेब्यू कुछ सीजन पहले ही किया है। 2017/18 सत्र में विदर्भ के खिलाफ फाइनल में शतकीय पारी खेलने के साथ ही ध्रुव शोरे सुर्खियों में आ गए थे। सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में ध्रुव शोरे की बल्लेबाजी औसत सबसे ज्यादा 60.60 रही और ऋषभ पंत के बाद दिल्ली के लिए 300+ रन बनाने वाले दूसरे बल्लेबाज रहे। चेन्नई सुपर किंग्स ने ध्रुव शोरे को 20 लाख रुपये की बेस प्राइस पर अपने साथ जोड़ा है।

#5 रिकी भुई (बल्लेबाज)

भोपाल में जन्मे रिकी भुई संयुक्त अरब अमीरात में खेले गए अंडर-19 विश्व कप 2016 में भारतीय टीम का हिस्सा थे। जहां भारत अपने खिताब का बचाव करने में नाकाम रहा था। हालांकि रिकी भुई का विश्व कप में प्रदर्शन शानदार रहा था। वहीं अब सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में भी रिकी भुई का प्रदर्शन अच्छा रहा। जिसके चलते इस 21 वर्षीय खिलाड़ी को सनराइजर्स हैदराबाद ने 20 लाख रुपये में अपने साथ शामिल किया है।

#6 प्रशांत चोपड़ा (विकेटकीपर-बल्लेबाज)

हिमाचल प्रदेश के कप्तान प्रशांत चोपड़ा को राजस्थान रॉयल्स ने सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में उनके अच्छे प्रदर्शन के चलते 20 लाख रुपये में अपने साथ जोड़ा है। 25 वर्षीय प्रशांत साल 2012 में खेले गए अंडर-19 विश्व कप जीतने वाली भारतीय टीम का हिस्सा थे। इसके बाद हिमाचल प्रदेश ने उन्हें अपने साथ जोड़ लिया और तब से वो हिमाचल प्रदेश की बल्लेबाजी लाइन-अप के मुख्य खिलाड़ी बने हुए हैं। इसके अलावा, वह एक सामयिक विकेटकीपर भी है। जिसके चलते आईपीएल में उनके खेलने की संभावनाए और भी बढ़ गई हैं।

#7 कृष्णप्पा गोथम (ऑलराउंडर)

आईपीएल की नीलामी के बाद कृष्णप्पा गोथम ने काफी सुर्खियां बटोरी। कृष्णप्पा गोथम इस सीजन में हिस्सा लेने वाले सबसे महंगे अनपेक्षित स्पिनर के रूप में सामने आए। राजस्थान रॉयल्स ने उन्हें 6.2 करोड़ रुपये में खरीदा है। कर्नाटक की घरेलू टीम की ओर से खेलने वाले 29 वर्षीय गोथम टी20 विशेषज्ञ के तौर पर देखे जाते हैं। गेंद और बल्ले दोनों से शानदार खेल दिखाने में गोथम माहिर हैं। पिछले साल मुंबई इंडियंस ने उन पर 2 करोड़ रुपए खर्च किए थे। जो कि उनके बेस प्राइज से 20 गुना ज्यादा था।

#8 कमलेश नागरकोटी (गेंदबाज)

साल 2018 में खेले गए अंडर-19 विश्व कप विजेता टीम के कमलेश नागरकोटी हिस्सा रहे हैं। इस टूर्नामेंट में नागरकोटी का प्रदर्शन बेहतरी रहा है। अब आईपीएल में चुने जाने वाले अपने विश्व कप टीम के साथियों के बीच नागरकोटी सबसे महंगे खिलाड़ी हैं। अंडर-19 विश्व कप में भारत के लिए 140 किलोमीटर/ घंटे की गति गेंदबाजी करने वाले नागरकोटी को आईपीएल में कोलकाता नाइट राइडर्स ने 3.2 करोड़ रुपये में अपने साथ शामिल किया है।

# 9 जोफ़रा आर्चर (गेंदबाज)

बारबाडोस में पैदा हुए तेज गेंदबाजी सनसनी जोफ़रा आर्चर साल 2013 में अंडर-19 विश्व कप में विंडिज टीम का हिस्सा थे। आर्चर पिछले कुछ सालों से काउंटी चैंपियनशिप में ससेक्स के लिए खेल रहे हैं। इसके अलावा 22 वर्षीय आर्चर ने इस साल के बीबीएल सीजन में शानदार प्रदर्शन करते हुए 11 मैचों में 15 विकेट हासिल किए हैं। आईपीएल में राजस्थान रॉयल्स ने उन्हें 7.2 करोड़ रुपये की रकम पर अपने साथ शामिल किया है।

#10 जेसन बेहरनडोर्फ़ (गेंदबाज)

न्यू साउथ वेल्स के बाएं हाथ के गेंदबाज जेसन बेहरनडोर्फ़ शानदार तरीके से स्विंग गेंदबाजी करने के लिए जाने जाते हैं। जेसन बेहरनडोर्फ़ टी20 क्रिकेट में नई गेंद के साथ सबसे किफायती गेंदबाज के रूप में अपनी पहचान कायम किए हुए हैं। इस आईपीएल सीजन के लिए जेसन बेहरनडोर्फ़ को मुंबई इंडियंस ने 1.5 करोड़ रुपये में खरीदा है।

#11 खलील अहमद (गेंदबाज)

खलील अहमद ने भारत के लिए पिछला अंडर-19 विश्व कप खेला था। वह पहले दिल्ली डेयरडेविल्स टीम का हिस्सा थे, लेकिन वहां उन्हें मौका नहीं मिला। वहीं राजस्थान के लिए घरेलू टी-20 टूर्नामेंट खेलते हुए खलील दूसरा सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज रहे। आईपीएल नीलामी में किंग्स इलेवन पंजाब और दिल्ली डेयरडेविल्स के बीच घमासान के बाद सनराइजर्स हैदराबाद ने 3 करोड़ रुपये की बोली लगाकर खलील को अपने साथ शामिल किया। लेखक: मोहित कालरा अनुवादक: हिमांशु कोठरी

Edited by Staff Editor

Comments

Fetching more content...