‘मैं भारत से ज्यादा इंग्लैंड टीम पर ध्यान देना चाहता हूं’

भारतीय टीम के घरेलु सीजन का दूसरा लेग जल्द ही शुरू होने वाला है। टीम इंडिया 9 नवम्बर से इंग्लैंड टीम के साथ पांच मैचों की टेस्ट सीरीज़ का आगाज़ राजकोट के मैदान से करने वाली है। इस सीरीज़ के लिए सभी खिलाड़ी अभ्यास कर काफी पसीना बहा रहे हैं खासकर टेस्ट कप्तान विराट कोहली। अपने इस दौरे के लिए इंग्लिश टीम ने भी काफी मेहनत की है और इस सीरीज़ के लिए पूरी तरह तैयार भी हैं। इंग्लिश टीम 2 नवम्बर को भारत पहुंच चुकी है। टीम के साथ टीम के कोच ट्रेवर बेलिस और पकिस्तान के पूर्व दिग्गज स्पिनर सक़लैन मुश्ताक भी मौजूद हैं। भारत आते ही कोच ट्रेवर ने टीम के हौसले को बढ़ाने के लिए मैदान में अभ्यास के साथ साथ बातों से भी उनके हौसले को बढ़ाने की कोशिश की है। इस दौरान कोच ने ये भी बयान दिया है कि वो भारतीय टीम के खिलाड़ियों पर ध्यान देने से ज्यादा अपनी टीम पर ध्यान देना ज्यादा ज़रूरी समझते हैं। “भारतीय टीम में विराट कोहली और आर अश्विन जैसे दिग्गज खिलाड़ी है जो अकेले अपने दम पर मैच को टीम की झोली में गिरा सकते हैं। लेकिन इन दोनों खिलाड़ी के अलावा भी टीम में कई ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्हें नज़रअंदाज़ नहीं किया जा सकता इसलिए मैं उनकी टीम की तैयारियों से ज्यादा अपनी टीम की तैयारियों पर अधिक ध्यान देना चाहता हूं”: ट्रेवर बेलिस इंग्लिश टीम के लिए राहत की बात ये है कि उनके अनुभवी गेंदबाज़ जेम्स एंडरसन काफी तेज़ी से रीकवर कर रहे हैं और वो दूसरे टेस्ट तक टीम के साथ जुड़ सकते हैं। इंग्लैंड क्रिकेट टीम 2 नवम्बर को भारतीय दौरे पर आ चुकी है, यहां उसे पांच टेस्ट मैच, तीन एकदिवसीय और तीन टी20 मैच की सीरीज खेलनी है। हाल ही में इंग्लैंड ने बांग्लादेश का दौरा किया था। बांग्लादेश में खेले गए दो टेस्ट मैचों की सीरीज में पहला टेस्ट मैच इंग्लैंड की झोली में गिरा पर दूसरे टेस्ट मैच में मेहमान टीम के मुह से जीत छीन कर बांग्लादेश ने इतिहास रच दिया, जबकि अपने ही घर में न्यूजीलैंड को 3-0 से मात देने के बाद टीम इंडिया के हौसले काफी बुलंद होंगे और वो इसी बुलंद हौसले के साथ सीरीज की शुरुआत करना चाहेगा।