Create
Notifications

अंडर 19 विश्व कप से मेरे क्रिकेट करियर की दिशा बदल गई: युवराज सिंह

Rahul
visit

आईसीसी अंडर 19 क्रिकेट विश्व कप का अगला संस्करण न्यूज़ीलैंड में खेला जाना है। इस टूर्नामेंट ने विश्व क्रिकेट को अनेक बेहतरीन ख़िलाड़ी दिए और भविष्य में वह अपनी टीम के सबसे अहम ख़िलाड़ी भी साबित हुए, जिसमें भारत की तरफ से विराट कोहली, युवराज सिंह, मोहम्मद कैफ जैसे शानदार ख़िलाड़ी शामिल हैं। भारत की तरफ से अंडर 19 विश्वकप के विजेता रहे युवराज सिंह ने एक इंटरव्यू के दौरान कहा कि उनके क्रिकेट करियर की दिशा इस टूर्नामेंट से ही बदल गई थी। युवराज सिंह ने आगामी अंडर 19 विश्व कप के लिए भारतीय टीम को शुभकामनाएं देते हुए और साथ ही अपने अनुभव को भी साझा करते हुए कहा कि मैंने पहली बार इस टूर्नामेंट के जरिए क्रिकेट को बहुत से दर्शकों के बीच खेला और उस समय मैं बहुत दबाव में था। इस दबाव के कारण ही मेरे अंदर से एक अच्छा क्रिकेटर देखने को मिला और अंडर 19 विश्व कप का अनुभव मेरे लिए अंतरराष्ट्रीय में भी काम आया। युवराज सिंह ने इस विश्व कप के लिए भारत के साथ घरेलू टीम न्यूज़ीलैंड को ट्रॉफी का दावेदार माना है। उनका कहना यह भी रहा कि बाकी टीमें भी अच्छा खेल रही है और उनको परख पाना भी मुश्किल होगा, जिसमें अफगानिस्तान और नेपाल का खेल सबसे शानदार रहा है। भारतीय टीम को शुभकामनाएं देते हुए युवराज ने कहा कि भारतीय टीम इस टूर्नामेंट को एन्जॉय करके खेले, क्योंकि वहां की परिस्थितियाँ बिलकुल अलग होगी। राहुल द्रविड़ जैसे महान ख़िलाड़ी का कोच होना भी भारतीय टीम के लिए सबसे शानदार है। साल 2000 में मोहम्मद कैफ की कप्तानी में भारतीय टीम ने अंडर 19 विश्व कप अपने नाम किया था। उस समय युवराज सिंह टीम का अहम हिस्सा थे और उन्होंने अपने ऑलराउंड खेल से भारत और यह टूर्नामेंट जीताने में महत्वपूर्ण योगदान दिया था। युवराज सिंह को इस विश्व कप में 'मैन ऑफ़ द टूर्नामेंट' के अवार्ड से भी नवाज़ा गया था। न्यूज़ीलैंड में 13 जनवरी से अंडर 19 विश्व कप की शुरुआत होगी


Edited by Staff Editor
Article image

Go to article
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now