Create
Notifications

Vijay Hazare Trophy 2018: दिल्ली की टीम में गौतम गंभीर की वापसी

Naveen Sharma

विजय हजारे ट्रॉफी के नॉकआउट मुकाबलों से पहले दिल्ली के लिए अच्छी खबर है। भारतीय टीम के खिलाड़ी गौतम गंभीर टखने की चोट से ठीक होकर वापस लौट आए हैं। नॉकआउट मैचों की शुरुआत 21 फरवरी से हो रही है। गंभीर के आने से दिल्ली के अवसर बढ़ गए हैं। दिल्ली का क्वार्टरफाइनल मैच 22 फरवरी को आन्ध्र प्रदेश के साथ है। दिल्ली का बल्लेबाजी क्रम पहले से काफी अच्छी फॉर्म में है, ऐसे में गंभीर के आने से इसे और अधिक मजबूती मिलेगी। टॉप क्रम में गंभीर के साथ उन्मुक्त चंद, हितेन दलाल हैं। उनके अलावा मनजोत कालरा भी अंडर 19 विश्वकप में जबरदस्त फॉर्म दर्शा चुके हैं। आन्ध्र प्रदेश के लिए इन सबसे मुकाबला करना इतना आसान नहीं होने वाला है। दिल्ली के लिए गंभीर का टीम में लौटना अच्छी खबर है, वहीँ कर्नाटक के कप्तान विनय कुमार बाहर हो चुके हैं। कर्नाटक की टीम का कप्तान करुण नायर को बनाया जा चुका है। मुंबई की टीम में भी एक बदलाव देखने को मिला है। दक्षिण अफ्रीका में वन-डे सीरीज खेलकर लौटे श्रेयस अय्यर को टीम में मुंबई में वापस लिया गया है, वहीँ अजिंक्य रहाणे ने छुट्टी का अनुरोध किया था जिसे मुख्य चयनकर्ता अजित अगरकर ने स्वीकार कर लिया। दिल्ली की टीम विजय हजारे ट्रॉफी के इस सीजन में काफी शानदार खेली है। ऋषभ पन्त के बल्ले से कुछ ताबड़तोड़ पारियां देखने को मिली है। इसमें हिमाचल के खिलाफ उनकी 93 गेंदों पर 135 रनों की पारी भी लाजवाब रही है। पन्त के अलावा नितीश राणा भी जबरदस्त फॉर्म में हैं और अब गौतम गंभीर के आने से टीम की मजबूती काफी बढ़ गई है। दिल्ली चौथे क्वार्टरफाइनल में आन्ध्र प्रदेश के खिलाफ 22 फरवरी को खेलेगी। यह देखना दिलचस्प रहेगा कि गंभीर का बल्ला इस मैच में चलता है या फिर खामोश रहता है। दर्शकों को उनसे उम्मीदें हमेशा रहती है।


Edited by Staff Editor

Comments

Fetching more content...