Create
Notifications

WIvIND : विराट कोहली ने पहले टेस्ट में इस टीम को मौका देने के दिए संकेत

Abhishek Tiwary

वेस्टइंडीज दौरे पर गई भारतीय टीम एंटीगुआ में शुरू होने वाले पहले टेस्ट में आक्रामक मानसिकता के साथ मैदान संभालेगी। टेस्ट कप्तान विराट कोहली ने बुधवार को प्री मैच प्रेस कांफ्रेंस में प्लेइंग इलेवन की ज्यादा जानकारी तो नहीं दी, लेकिन यह जरुर कहा कि पांच गेंदबाज खेलेंगे और तीसरे ओपनर लोकेश राहुल को सीरीज में खेलने के लिए इंतजार करना होगा। कोहली ने पांच वर्ष पूर्व वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू किया था, उन्होंने 15 की औसत के साथ सीरीज का समापन किया था। इसके बाद अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में वह काफी आगे बढ़ चुके हैं और अब कैरीबियाई जमीन पर अपना रिकॉर्ड सुधारना चाहेंगे। विराट ने कहा, 'जब 2011 में यहां आया तो टेस्ट क्रिकेट के बारे में कोई जानकारी नहीं थी, मैंने खेल के बारे में यही सीखा। मैं यहां डेब्यू के बाद भी आया, लेकिन टेस्ट सीरीज नहीं खेली। वेस्टइंडीज में दोबारा आना अच्छा लगा, यहां का वातावरण अच्छा है, लोग क्रिकेट का समर्थन करते हैं। मैं इतने समय के बाद यहां सीरीज खेलने के लिए काफी उत्सुक हूं और टीम का हर सदस्य इसे लेकर खुश है।' उन्होंने साथ ही कहा, 'हम एक सीरीज के आधार पर किसी खिलाड़ी को बाहर नहीं कर सकते हैं। अगर आप लोकेश राहुल के बारे में बात कर रहे हैं तो उसका खेल पिछले चार महीनों में काफी सुधरा है और टेस्ट टीम में उसने खुद को तीसरे ओपनर के रूप में स्थापित किया है। वह श्रीलंका में खेला और कुछ रन भी बनाए। मगर आपको कभी-कभी कड़े निर्णय भी लेने पड़ते है।' बकौल विराट, 'जिसे भी मौका मिलेगा तो स्वाभाविक है कि अगले को इंतेजार करना होगा, लेकिन यह चार टेस्ट की सीरीज है। राहुल और शिखर में से किसी एक को चुनना बहुत मुश्किल है। शिखर ऐसे खिलाड़ी हैं जो सत्र दर सत्र हावी होकर आपके लिए टेस्ट मैच बनाते हैं। यह जानकर खुशी होती है कि हमारे पास लोकेश राहुल जैसे बल्लेबाज पवेलियन में बैठें हैं, जो विश्व क्रिकेट में किसी बल्लेबाज जैसे मजबूत हैं।' पिच बल्लेबाजों के अनुकूल नजर आ रही है : कोहली पिच का निरिक्षण करने के बाद कोहली ने कहा कि वह तेज गेंदबाजों को मदद देने से अधिक मिट्टी में मिलेगी। उन्होंने कहा, 'पिच मुलायम और सूखी है। इस पिच पर जमैका या बारबाडोस जैसा बाउंस नहीं होगा। यह बल्लेबाजी के लिए अनुकूल होगी। ऐसे में उन गेंदबाजों की सबसे ज्यादा जरुरत होगी जो तीसरे और चौथे दिन शानदार गेंदबाजी करे।' भारत और वेस्टइंडीज के बीच चार मैचों की सीरीज का पहला टेस्ट एंटीगुआ में शाम 7:30 बजे से शुरू होगा। रोहित शर्मा और लोकेश राहुल के बाहर बैठने की पूरी गुंजाईश है। भारतीय टीम तीन स्पिनरों के अलावा ईशांत शर्मा और मोहम्मद शमी की तेज गेंदबाजों की जोड़ी पर निर्भर रहती दिख सकती है।


Edited by Staff Editor

Comments

Fetching more content...