Create
Notifications

IPL 2018: महेंद्र सिंह धोनी और विराट कोहली को अपनी पुरानी टीमों में बरकरार रखे जाने की पूरी संभावना

विनय प्रताप

इंडियन प्रीमियर लीग के अगले सत्र के लिए आज खिलाड़ियों को बरकरार रखी जाने वाली लिस्ट का ऐलान होगा। इस बात की संभावना जताई जा रही है कि रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के कप्तान विराट कोहली और चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी अपनी-अपनी टीमों द्वारा बरकरार रखे जा सकते हैं। धोनी दो साल के निलंबन के बाद वापसी कर रही अपनी पुरानी टीम चेन्नई सुपर किंग्स में फिर से लौटेंगे। वहीं रोहित शर्मा और ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या दोनों ही आईपीएल की वर्तमान विजेता मुंबई इंडियन्स के साथ जुड़े रहेंगे। रोहित शर्मा की कप्तानी में पिछले सीजन में मुंबई इंडियंस ने जीत हासिल की थी और मुंबई की टीम उनको जरुर बरकरार रखना चाहेगी। वहीं हार्दिक पांड्या एक बेहतरीन ऑलराउंडर हैं जिसकी वजह से उनको भी मुंबई नहीं खोना चाहेगी। पिछले सीजन में गुजरात लायंस की तरफ से खेलने वाले रविंद्र जडेजा चेन्नई सुपर किंग्स का एक बार फिर से हिस्सा बन सकते हैं। वहीं सनराइजर्स हैदराबाद और राजस्थान रॉयल्स की फ्रेंचाइजी अपने एक -एक खिलाड़ी डेविड वार्नर और स्टीव स्मिथ को बरकरार रख सकती है। पंजाब ने भी एक खिलाड़ी को रिटेन करने की हामी भरी है। आइये एक नज़र डालते हैं रिटेंशन के नियमों पर - प्लेयर रिटेंशन और राइट टू मैच का प्रयोग करते हुए टीम अधिकतम पांच खिलाड़ियों को अपने साथ अगले सत्र में बनाये रख सकती है। नियमों के मुताबिक टीम या तो तीन खिलाड़ियों को रिटेंशन का प्रयोग करके बरकरार रख सकती है या फिर तीन बार राइट टू मैच इस्तेमाल कर खिलाडियों को अपने साथ जोड़े रख सकती है। नियमानुसार एक टीम अधिकतम 3 अंतराष्ट्रीय स्तर के भारतीय खिलाड़ी और 2 विदेशी खिलाड़ियों को ही अपने साथ बनाये रख सकती है, या फिर 2 घरेलू खिलाड़ियों को फिर से मौका दे सकती है। इस सीजन सैलरी कैप की अधिकतम सीमा 80 करोड़ रखी गयी है। जो क्रमशः 2019 और 2020 में बढ़ाकर 82 करोड़ और 85 करोड़ कर दी जाएगी। वहीं तीन खिलाड़ी रिटेन करने पर सैलरी कैप से 33 करोड़ की कटौती की जायेगी। 2 खिलाड़ी रिटेन पर 21 करोड़ और 1 खिलाड़ी रिटेन करने पर 12.5 करोड़ की कटौती का नियम है ।


Edited by Staff Editor

Comments

Fetching more content...