Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

विराट कोहली द्वारा बनाए गए 5 अविश्वसनीय रिकॉर्ड

Modified 14 Aug 2017, 18:43 IST
Advertisement

जैसा कि हर एक खिलाड़ी मैदान में अपनी चमक दिखाने के लिए तैयार होता है और उसका एक ही सपना होता है, वो होता है दुनिया के आगे अपनी पहचान बनाना। लगातार महान खिलाड़ियों की चमकती हुई तस्वीर उसके आंखों के सामने से गुजरती है और वह इस खेल के महान लोगों के बीच अपना स्थान बनाने के लिए इंतजार कर रहा होता है।

देश के लिए खेलने के साथ ही उसके सपनों के सफर की शुरुआत होती है। पहले ही शतक से वह दुनिया के आगे अपनी काबिलियत को दिखाता है और अपने करियर में ऊंचाई तक पहुंचने के लिए एक छोटे से मील के पत्थर को सेट करता है। हालांकि कई बार लोग इस सफलताओं से खुश होकर अपना ध्यान भटका लेते हैं लेकिन वह लगातार अपनी मेहनत से आगे बढ़ता रहता है भले ही उनके आसपास की दुनिया उनके प्रयासों की सराहना ही क्यूं ना करती रहे।

उच्च शिखर के लिए आगे बढ़ते हुए ये खिलाड़ी धीरे-धीरे सभी को जीतकर अपने खुद के रिकॉर्ड को तोड़ने और बनाते रहना जारी रखता है। विरासत की कसौटी पर खरे उतरते हुए वह खिलाड़ी अपने योगदान के साथ अपना नाम इतिहास के पन्नों पर दर्ज कराता है।

ऐसे ही सफर की दास्ता है उस खिलाड़ी की जो आज भारतीय क्रिकेट टीम का कप्तान है, वह है विराट कोहली। अपनी योग्यता, अटूट मेहनत, काबिलियत और शासन के बल पर आज विराट आधुनिक युग में दुनिया के सबसे बेहतरीन क्रिकेटर हैं। कोहली ने अपने खेल के बदौलत क्रिकेट के भगवान को भी कई मायनों में पीछे छोड़ दिया है। रनों की भूख ने विराट को रन मशीन का तगमा पहना दिया है। आज के समय में विराट के नाम ऐसे कई अविश्वसनीय रिकॉर्ड दर्ज है जिन्हें तोड़ना मुश्किल ही नहीं बल्कि बेहद मुश्किल है।

आईये बात करते हैं कोहली के कुछ ऐसे ही रिकार्ड्स

Advertisement

सफल दोहरे शतक की कहानी

doublecentury

जुलाई 2016 से मार्च 2017 तक भारतीय टीम द्वारा खेले 17 मैचों में टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने आगे बढ़कर सामने से लीड करते हुए दोहरे शतकों की झड़ी लगा दी। दिल्ली के इस खिलाड़ी ने वेस्टइंडीज के खिलाफ अपनी दोहरे शतक की पारी शुरुआत की और एंटिगुआ में अपना पहला दोहरा शतक लगाया।  इस प्रकार वह अपने घर से दूर दोहरा शतक लगाने वाले पहले खिलाड़ी बन गये।

वेस्टइंडीज के खिलाफ बनाये गये दोहरे शतक को अगली सीरीज में न्यूजीलैंड के खिलाफ जारी रखते हुए एक और दोहरा शतक जड़ दिया। इंदौर में न्यूजीलैंड के खिलाफ तीसरे शतक के दौरान कप्तान कोहली ने बेहद शानदार 211 रन बनाए। कप्तान कोहली ने अपने प्रदर्शन में वहीं निरंतरता बरकरार रखते हुए इंग्लैंड के खिलाफ भी कोई चूक नहीं की और इंग्लैंड के खिलाफ मुंबई टेस्ट के दौरान एक और दोहरा शतक जमा डाला। कोहली ने मुंबई टेस्ट में अदभुत 235 रन की पारी खेली।

जब बिरादरी ने सर्वसम्मति से उन्हें वर्तमान युग के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज के रूप में करार दिया, तो उन्होंने इस सम्मान को हाथों हाथ लेते हुए इंग्लैंड की श्रृंखला के बाद बांग्लादेश के खिलाफ एकमात्र टेस्ट में 204 रन की पारी खेल कर खुद को मिले सम्मान को सही साबित कर दिया।

4 सीरीज और 4 दोहरे शतक से सर डॉन ब्रैडमैन और राहुल द्रविड़ को पीछे छोड़ दिया जिन्होंने लगातार तीन सीरीज में तीन दोहरे शतक जड़े थे। कोहली एक सत्र में 3 या उससे अधिक डबल शतक लगाने वाले पहले टेस्ट कप्तान बने।

घर में 12 मैचों में बेहतरीन 1252 रन बनाने के बाद कप्तान कोहली एक होम सीजन में सर्वाधिक रन बनाने वाले कप्तान बन गये। इसके पहले ये रिकॉर्ड ग्राहम गूच के नाम था। 28 साल के इस खिलाड़ी ने ग्राहम गूच के 1058 रन के आंकड़े को पीछे छोड़ दिया जो उन्होंने 1990 में बनाया था। हालांकि आज के समय में कोहली जिस प्रकार से खेल रहे हैं वह दिन भी अब दूर नहीं होगा जब भारत की तरफ से सबसे ज्यादा दोहरे शतक लगाने वाले विरेन्द्र सहवाग के 6 दोहरे शतक के रिकॉर्ड को तोड़ देंगे।

1 / 5 NEXT
Published 14 Aug 2017, 18:43 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now
❤️ Favorites Edit