विराट कोहली को अभी भी पूर्व कप्तान एमएस धोनी के नेतृत्व की जरूरत है : सौरव गांगुली

भारतीय टीम के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने कहा है कि मौजूदा कप्तान विराट कोहली की अभी महेंद्र सिंह धोनी के अनुभवी लीडरशिप की जरुरत है। उन्होंने कहा कि इससे कोहली एक कप्तान के तौर पर ज्यादा परिपक्कव होंगे।साथ ही उन्होंने 2019 विश्वकप को मद्देनजर रखते हुए एमएस धोनी का टीम में बना रहना भी महत्वपूर्ण बताया है। दरअसल गांगुली का मानना है कि धोनी के नेतृत्व में कोहली मैच के अहम मौकों पर सही फैसला लेना जल्द सीखेंगे। इस तरह उनकी कप्तानी और भी ज्यादा मजबूत और बेहतरीन होगी। सौरव गांगुली ने धोनी के विश्वकप 2019 तक टीम में बने रहने और एक दिग्गज पूर्व कप्तान के रूप में कोहली को सलाह देने को लेकर कहा कि 'मुझे ऐसा लगता है धोनी को विश्वकप 2019 खेलना चाहिए और सबसे जरुरी बात ये है कि विराट कोहली धोनी को अपनी टीम में चाहते हैं। गांगुली ने कहा कि धोनी अभी 36 साल के हैं और वह 2004 में पाकिस्तान दौरे वाले नौजवान धोनी नहीं है लेकिन अब वो एक अलग खिलाड़ी हैं। विराट कोहली उन्हें अपनी टीम में ना केवल एक विकेटकीपर बल्कि एक अच्छे नेतृत्व करने वाले ख़िलाड़ी के रूप में देखना चाहते हैं। पूर्व कप्तान गांगुली ने आगे कहा कि विराट कोहली हमेशा से धोनी के खेल का आदर करते आयें है। हालांकि उनके खेलने का अंदाज़ बदल गया है, जो उम्र के साथ हर एक ख़िलाड़ी का बदलता है। सचिन तेंदुलकर का भी खेल उम्र के साथ बदल गया था। मुझे लगता है कि धोनी 2019 विश्वकप तक खेल सकते हैं। वह फिट हैं और सबसे जरुरी उनको पता है कि उनका कप्तान उनके साथ है। गौरतलब है साल 2017 शुरू होने के साथ ही महेंद्र सिंह धोनी ने भारतीय टीम के लिए सभी फॉर्मेट में कप्तानी छोड़ दी थी। उनके स्थान पर युवा ख़िलाड़ी विराट कोहली को कप्तान के रूप में चुना गया लेकिन मैदान में कोहली के हर एक जरुरी फैसले पर धोनी भी अपनी राय रखते नजर आते है। शायद इसलिए गांगुली ने 2019 विश्व कप को देखते हुए धोनी का टीम में बने रहना सही समझा है क्योंकि कप्तान कोहली का भी भरोसा अपने पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी पर अटूट बना हुआ है।

App download animated image Get the free App now