Create
Notifications

'विराट कोहली इस पीढ़ी के संपूर्ण बल्लेबाज हैं और वह टेस्ट में सभी रिकॉर्ड्स तोड़ेंगे'

Abhishek Tiwary

वन-डे और टी20 अंतर्राष्ट्रीय में अपने आप को भरोसेमंद बल्लेबाज के रूप में विकसित कर चुके विराट ने टेस्ट में अभी तक अपनी क्षमता के मुताबिक प्रदर्शन नहीं किया है। भारतीय टीम इस समय क्रिकेट के पारंपरिक प्रारूप पर सबसे ज्यादा ध्यान दे रही है। और ऐसे में भारतीय टेस्ट कप्तान को उस बल्लेबाज का समर्थन मिला है जो टेस्ट क्रिकेट में अद्भत पारी खेलने के लिए जाना जाता हैं। मुंबई में दिलीप सरदेसाई की स्मृति में एक लेक्चर मेमोरियल के दौरान वीवीएस लक्ष्मण ने विराट कोहली के सभी प्रारूपों में परिस्थिति के मुताबिक ढलने की तारीफ करते हुए विश्वास जताया कि 27 वर्षीय जल्द ही टेस्ट स्तर पर बेहतर प्रदर्शन करेंगे। लक्ष्मण का मानना है कि, 'विराट के बारे में इतना इसलिए कह रहा हूं क्योंकि वह अपनी मजबूती को जानते हैं और उसे समर्थन देना जानते हैं। वह एक पारंपरिक बल्लेबाज हैं जिनके बेसिक्स काफी मजबूत हैं। मुझे लगता है कि विराट टेस्ट क्रिकेट में काफी आगे तक जाएगा और सभी रिकॉर्ड्स तोड़ेगा। उसकी औसत बिलकुल उतनी नजदीक पहुंच जाएंगी जितनी वन-डे और टी20 में है। विराट कोहली इस पीढ़ी के संपूर्ण बल्लेबाज हैं।' 46 टेस्ट में कोहली ने 44.21 की औसत से 3272 रन बनाए हैं जिसमें 12 शतक शामिल हैं। हालांकि वन-डे में उनका प्रदर्शन शानदार रहा जहां उन्होंने 171 मैच में 51.51 की औसत से 7000 रन पूरे किए। विराट कोहली की कप्तानी का भी अच्छा दौर चल रहा है। उनके नेतृत्व में टीम ने में पिछले 15 में से 8 टेस्ट जीते हैं। इसके साथ ही लक्ष्मण ने भारतीय टीम के प्रमुख स्पिनर रविचंद्रन अश्विन की भी जमकर तारीफ की। उन्होंने कहा, ' इसमें कोई संदेह नहीं है कि अश्विन से बेहतर कोई खिलाड़ी नहीं है। मेरी नजर में अश्विन ऐसे खिलाड़ी बन चुके हैं जो अपने बल पर गेंद या बल्ले किसी से मैच का रुख बदल जाता है। उन्होंने कई मैच भारतीय टीम को जिताए और कई बार अकेले के दम और विरोधियों का कड़ा विरोध जरुर होगा।'


Edited by Staff Editor

Comments

Fetching more content...