COOKIE CONSENT
Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

डेविड वॉर्नर बुरे इंसान नहीं हैं: केन विलियमसन

SENIOR ANALYST
39   //    29 Mar 2018, 11:27 IST

बॉल टेंपरिंग (गेंद से छेड़छाड़) की घटना के बाद हर तरफ स्टीव स्मिथ और डेविड वॉर्नर को आलोचनाओं का सामना करना पड़ रहा है। पूर्व क्रिकेटर से लेकर क्रिकेट फैंस तक सभी उनकी इस हरकत को गलत ठहरा रहे हैं। हालांकि इन सब के बीच डेविड वॉर्नर को न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन का साथ मिला है जिन्होंने वॉर्नर को अच्छा इंसान बताया है।

क्राइस्टचर्च में इंग्लैंड के खिलाफ आखिरी टेस्ट मैच की तैयारी कर रहे विलियमसन ने पत्रकारों से बातचीत में ये बात कही। उन्होंने कहा कि डेविड वॉर्नर किसी भी तरह से बुरे इंसान नहीं हैं। उन्होंने गलती की और उसे स्वीकार भी किया और अब वे उससे निराश भी हैं। विलियमसन ने कहा कि इंसान हमेशा गलतियों से सीख लेता है और मुझे उम्मीद है कि वॉर्नर और स्मिथ भी अपनी गलतियों से सबक लेंगे। हालांकि विलियमसन ने ये भी कहा कि इतने बड़े खिलाड़ियों का इस तरह की हरकत करना शर्मनाक है। ऑस्ट्रेलियाई टीम के कोच डेरेन लेहमैन ने कहा था कि उनकी टीम न्यूजीलैंड के खेल भावना से सबक ले सकती है। इस बारे में विलियमसन ने कहा कि इसका पूरा श्रेय पूर्व कप्तान ब्रेंडन मैकलम को जाता है जिन्होंने टीम का पूरा माहौल बदल दिया।

गौरतलब है दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीसरे टेस्ट मैच के दौरान ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी कैमरन बैनक्रोफ्ट ने बॉल टेंपरिंग की थी। स्टीव स्मिथ ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में इस बात को कबूल भी किया था कि उन्हें इस बारे में पहले से पता था और ये उनकी योजना का एक हिस्सा था। बाद में पता चला कि इस घटना के अहम सूत्रधार डेविड वॉर्नर थे और उन्होंने ही ऐसा करने के लिए कहा था। ये घटना सामने आने के बाद पूरे क्रिकेट जगत में हड़कंप मच गया और स्मिथ और वॉर्नर को तुरंत मैच के बीच में ही कप्तानी और उपकप्तानी छोड़नी पड़ी। इसके बाद क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने स्मिथ और वॉर्नर पर 1 साल का बैन और कैमरन बैनक्रोफ्ट पर 9 महीने का बैन लगा दिया। इसके अलावा वॉर्नर और स्मिथ की कप्तानी पर भी दो साल के लिए प्रतिबंध लगाया गया है। विश्व कप से ठीक पहले ये दोनों खिलाड़ी वापसी कर सकेंगे।

 

SENIOR ANALYST
Advertisement
Fetching more content...