Create

टी20 वर्ल्ड कप 2021 में भारत के निराशाजनक प्रदर्शन को लेकर वसीम अकरम का बड़ा बयान

वसीम अकरम ने भारतीय खिलाड़ियों को लेकर अहम सुझाव दिया
वसीम अकरम ने भारतीय खिलाड़ियों को लेकर अहम सुझाव दिया

हाल ही में समाप्त हुए टी20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup 2021) में भारत का खराब प्रदर्शन सबकी समझ के बाहर था और टीम के खराब प्रदर्शन को लेकर काफी ज्यादा चर्चा भी हुयी। भारतीय टीम के प्रदर्शन को लेकर पूर्व पाकिस्तानी दिग्गज तेज गेंदबाज वसीम अकरम ने भी अपने विचार व्यक्त किये हैं। अकरम के मुताबिक टीम के खिलाड़ियों को दुनिया भर में होने वाली टी20 लीगों में खेलने की अनुमति मिलनी चाहिए, ताकि उन्हें अलग-अलग परिस्थितियों में खेलने का अनुभव हो।

टी20 वर्ल्ड कप में भारत को अपने पहले ही मैच में पाकिस्तान के खिलाफ दस विकेट से बड़ी हार मिली थी। इस मैच में शाहीन अफरीदी ने नई गेंद के साथ कमाल की गेंदबाजी की। अफरीदी की गेंदबाजी की वजह से रोहित शर्मा और केएल राहुल सस्ते में पवेलियन लौट गए और भारतीय बल्लेबाज पूरी पारी में खुलकर नहीं खेल पाए। अकरम के अनुसार, पहले मैच के बाद मेन इन ब्लू ठीक रिकवर नहीं कर पाई और उनके लिए चीजें बदल गयीं।

इसके बाद दूसरे मैच में न्यूजीलैंड ने भारतीय टीम को मात दी। बड़ी टीमों के खिलाफ हार के बाद भारतीय टीम को नुकसान उठाना पड़ा और सेमीफाइनल के पहले ही बाहर होना पड़ा।

वसीम अकरम का मानना है कि भारत 2021 आईसीसी टी20 वर्ल्ड कप जीतने के लिए फेवरिट था और लेकिन उनका पहले ही बाहर हो जाना, निराशाजनक प्रदर्शन को दर्शाता है।

खिलाड़ियों को दुनिया भर में एक या दो लीग खेलने की अनुमति देनी होगी - वसीम अकरम

पाकिस्तान क्रिकेट के दिग्गज ने कारण दिया कि इंडियन प्रीमियर लीग दुनिया में सबसे महत्वपूर्ण टी20 घरेलू प्रतियोगिता है, लेकिन यह भी एक सही तथ्य कि भारतीय खिलाड़ियों को अन्य प्रतिस्पर्धी लीगों में खेलने की अनुमति नहीं है, इससे राष्ट्रीय टीम को नुकसान हो सकता है। स्पोर्ट 360 के द्वारा साझा किये गए वीडियो में अकरम ने कहा,

जब आप अलग-अलग देशों में लीग खेलते हैं - एक या दो, मैं यह नहीं कह रहा हूं कि हर लीग खेलें - कम से कम आपके खिलाड़ियों को अन्य गेंदबाजों, अलग-अलग पिचों, अलग-अलग टीमों, अलग-अलग परिस्थितियों के खिलाफ खेलने का अनुभव मिलता है।
इसलिए मुझे लगता है कि भारत को वापस सोचने की जरूरत है ... आईपीएल नंबर1 लीग है, हां, पैसे के लिहाज से, प्रतिभा के लिहाज से लेकिन उन्हें खिलाड़ियों को दुनिया भर में कम से कम एक या दो और लीग की अनुमति देनी होगी।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment