क्रिकेट न्यूज: विदर्भ के साथ अपने करियर का समापन करना चाहता हूं-वसीम जाफर

Ankit
Eकेई

वसीम जाफर भारतीय घरेलू क्रिकेट में बहुत जाना पहचाना नाम है। उम्र 40 वर्ष, मगर क्रिकेट के प्रति उनकी लगन निरन्तर बनी हुई है। वह घरेलू क्रिकेट में एक अलग स्तर के बल्लेबाज हैं। उनके रिकॉर्ड उनकी प्रतिभा की कहानी बयां करते हैं। उन्होंने अब तक 253 प्रथम श्रेणी मैचों में 51.19 की औसत से 19147 रन बनाए हैं।

उम्र के इस पड़ाव में भी जाफर निरन्तरता से बल्लेबाजी करते हैं। उन्होंने क्रिकेट के प्रति अपनी दीवानगी के लिये कहा "मैं बल्लेबाजी करना पसंद करता हूं। इसका कारण यही है कि मैं अभी भी क्रिकेट का लुत्फ उठा रहा हूं। बल्लेबाजी करते हुए जो नशा होता है, उस जुनून की तलाश मुझे अभी भी रहती है। मैं अभी भी अपनी बल्लेबाजी में सुधार करना चाहता हूं। मैं अभी भी पहले से अच्छा करना चाहता हूं। किसने सोचा था कि मैं 40 की उम्र में जाकर दो रणजी ट्रॉफी, दो ईरानी कप जीतूंगा और एक सीजन में 1000 से अधिक रन बनाऊंगा।"

वसीम घरेलू क्रिकेट में बल्ले से लगातार रन बनाते रहे हैं। लेकिन उन्हें राष्ट्रीय टीम में वापसी नहीं कर पाने का कोई दुख नहीं है। वसीम किस्मत पर भरोसा करते है। वह अपने अंतर्राष्ट्रीय करियर से संतुष्ट हैं और अपने वर्तमान का आनंद उठा रहे हैं।

दिग्गज बल्लेबाज ने कहा कि जब आप अच्छा खेलते हैं, आप उस पल को जीना चाहते हैं। हमने हाल ही में रणजी ट्रॉफी जीती है। यह जीत मुझे आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करती है। मुझे मालूम है कि मेरा करियर अब ज्यादा बचा नहीं है। मैं अपने करियर को विदर्भ के साथ ही समाप्त करना चाहूंगा। मैं अगले साल भी विदर्भ को विजेता बनाने का प्रयास करूंगा। मैं अपने कोच चंद्रकांत पंडित के साथ विदर्भ को खिताब की हैट्रिक जिताना चाहता हूं।

सीमित रहा है अंतर्राष्ट्रीय करियर

घरेलू क्रिकेट के दिग्गज खिलाड़ी वसीम जाफर का अंतर्राष्ट्रीय करियर सीमित रहा है। उन्होंने भारत के लिए 31 टेस्ट खेले, जिनकी 58 पारियों में उन्होंने 34.11 की औसत से 1944 रन बनाए हैं। इस बीच उन्होंने 5 शतक व 11 अर्धशतक भी अपने नाम किये हैं। उन्होंने 2 एकदिवसीय मैच भी खेले, जिसकी 2 पारियों में 10 रन बनाए।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं।

Quick Links

App download animated image Get the free App now