Create
Notifications

SAvIND: हम अभी सीरीज से बाहर नहीं हुए हैं-कगिसो रबाडा

सावन गुप्ता

भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच 6 मैचों की एकदिवसीय श्रृंखला का तीसरा मैच आज केपटाउन में खेला जाएगा। भारतीय टीम श्रृंखला के पहले दोनों मैच जीतकर सीरीज में 2-0 की बढ़त बना चुकी है। अगर आज का मैच वो जीत लेती है तो उसके सीरीज जीतने के चांस काफी ज्यादा बढ़ जाएंगी क्योंकि इसके बाद उसे बाकी बचे 3 मैचो में से सिर्फ 1 मैच ही जीतना होगा। ऐसे में इस सीरीज में भारतीय टीम के जीतने के मौके ज्यादा हैं। वहीं दूसरी तरफ दक्षिण अफ्रीका के तेज गेंदबाज कगिसो रबाडा ने तीसरे वनडे से पहले बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि उनकी टीम अभी सीरीज हारी नहीं है और वो जोरदार वापसी कर सकती है। रबाडा ने कहा कि टीम में जरुर कुछ कमियां हैं लेकिन उनकी टीम वापसी करने में सक्षम है। रबाडा ने कहा कि टीम में कुछ दिक्कतें जरुर हैं, मैं इस बारे में ज्यादा कुछ नहीं कहुंगा। कभी-कभी ऐसा होता है कि जब आप अच्छा प्रदर्शन नहीं करते हैं तो लगता है कि सब कुछ गलत हो रहा है। कई दफा आप बार-बार असफल होते हैं लेकिन सबसे जरुरी चीज है सही दिशा में अपना फोकस बनाए रखना, क्योंकि खेल में कुछ भी हो सकता है। रबाडा ने कहा हमें बस एक मोमेंटम की जरुरत है और हम अभी सीरीज से बाहर नहीं हुए हैं। आगे के मैचों में हमारे पास वापसी के पूरे मौके हैं। गौरतलब है युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव की स्पिन जोड़ी को अभी तक दक्षिण अफ्रीका के बल्लेबाज ठीक तरह से खेल नहीं पाए हैं। दोनों ही गेंदबाजों ने अपनी पहले दो मैचों में काफी विकेट निकाले। इस बारे में रबाडा ने कहा कि दक्षिण अफ्रीका के बल्लेबाजों का बार-बार इस तरह से आउट होना ठीक नहीं है। भारत एक मजबूत टीम है, हाल ही में अपनी घरेलू सीरीज में उन्होंने ऑस्ट्रेलिया को आसानी से हराया था। मुझे पता है कि उन्होंने अपने सारे मैच अपने होम ग्राउंड पर खेले लेकिन उन्होंने अच्छी क्रिकेट खेली। वहीं दक्षिण अफ्रीका के दिग्गज खिलाड़ियों के चोटिल होकर बाहर होने के सवाल पर उन्होंने कहा कि इससे टीम पर असर तो पड़ता है लेकिन दूसरे खिलाड़ियों को मौका भी मिलता है। उन्होंने कहा कि टीम में ऐसे भी खिलाड़ी हैं जिन्होंने अपनी फ्रेंचाइजी टीमों के लिए शानदार प्रदर्शन किया था लेकिन उन्हें खेलने का मौका नहीं मिल रहा था। इससे विश्व कप 2019 की तैयारियों का भी मौका मिलेगा। रबाडा ने कहा इससे नए खिलाड़ियों को अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में खेलने का अनुभव मिलेगा जो कि टीम के लिए आगे चलकर काफी काम आएगा। गौरतलब है कि दक्षिण अफ्रीका की टीम लगातार चौटों से जूझ रही है। सीरीज से पहले ही विस्फोटक बल्लेबाज एबी डीविलियर्स चोट की वजह से पहले 3 वनडे मैचों के लिए बाहर हो गए। फिर कप्तान फाफ डू प्लेसी भी पहला मैच खेलने के बाद सीरीज के बाकी बचे मैचों से बाहर हो गए। तीसरा झटका प्रोटियाज टीम को क्विंटन डी कॉक के रुप में लगा जो कि दूसरे वनडे के दौरान चोटिल हो गए। हालांकि डि कॉक इस वक्त उतनी अच्छी फॉर्म में नहीं हैं लेकिन अपना दिन होने पर वो किसी भी गेंदबाजी आक्रमण को ध्वस्त करने की क्षमता रखते हैं। हालांकि दक्षिण अफ्रीका के लिए अच्छी खबर ये है कि एबी डीविलियर्स चौथे वन-डे से टीम में वापस लौट सकते हैं। प्रिटोरिया कंट्री क्लब में एबी ने गोल्फ खेलने का फैसला किया, जिसे दक्षिण अफ्रीका के मेडिकल अधिकारी डॉ. शोएब मंजरा ने सकारात्मक कदम बताया। भारत के खिलाफ जोहान्सबर्ग टेस्ट में विराट कोहली का कैच लेते वक्त एबी डीविलियर्स चोटिल हो गए थे।एबी डीविलियर्स के टीम में लौटने से मेजबान थोड़े मजबूत जरुर होंगे और उनके लिए वे लाभदायक साबित होंगे। दक्षिण अफ्रीका ने टेस्ट श्रृंखला 2-1 से अपने नाम की थी लेकिन वनडे सीरीज की शुरुआत अच्छी नहीं रही है। इस सीरीज के बाद दोनों टीमों के बीच टी20 श्रृंखला भी खेली जाएगी।


Edited by Staff Editor

Comments

Fetching more content...