Create
Notifications

बांग्लादेश को हल्के में लेना बेवकूफी होगी: मोइन अली

सोहैल आब्दी

इंग्लैंड के हरफनमौला खिलाड़ी मोइन अली ने बांग्लादेश दौरे को कठिन बताया है। अली के अनुसार वो बांग्लादेश की टीम को हल्के में नहीं लेना चाहते। साथ ही साथ अली ने ये भी कहा कि बांग्लादेश दौरे पर अपने प्रदर्शन को लेकर वो किसी दबाव में नहीं है जबकि उनका मानना है कि टीम के लिए स्पिन गेंदबाज़ी का भार उनके ही कंधों पर होगा। इंग्लैंड के पांच हफ़्तों वाले बांग्लादेश दौरे को आखिरकार हरी झंडी मिल गई और ये दौरा अपने समय पर यानी सितम्बर के आखिरी हफ्ते में शुरू होगा। इस दौरे के बारे में इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड (ECB) ने खिलाड़ियों के साथ साथ इंलैंड के टेस्ट कप्तान एलिस्टर कुक और सीमित ओवर के कप्तान इयोन मॉर्गन को भी सूचना दे दी है। इंग्लैंड क्रिकेट के निदेशक एंड्रू स्ट्रॉस के मीटिंग के बाद कहा “खिलाड़ियों की सुरक्षा हमारा पहला कर्तव्य है जिसका पूरा ध्यान रखा जायेगा। इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड (ECB) और पीसीऐ भी इस फैसले का पूरा समर्थन करते नज़र आये। इस फैसले के बाद इंग्लिश टीम बांग्लादेश दौरे के लिए 30 सितम्बर को बांग्लादेश पहुंचेगी जहां उसे तीन वनडे और दो टेस्ट मैचों की सीरीज़ खेलनी है। इंग्लैंड के कप्तान इयोन मॉर्गन ने बीबीसी को दिए गए इंटरव्यू में कहा “मुझे नहीं लगता कि किसी भी खिलाड़ी पर विदेशी दौरे पर जाने के लिए दबाव डाला जाता है”। हाल ही में इंग्लैंड को पकिस्तान के हाथों टी20 में एक करारी हार का सामना करना पड़ा है जो एक टी20 मैच में इंग्लिश टीम की बड़ी हारों में से एक है। इंग्लैंड टीम को बांग्लादेश दौरे के लिए कोच की तरफ से काफी सारी हिदायतें मिल चुकी हैं। कोच की हिदायतों के बाद इस इंग्लिश ऑलराउंडर का मानना है कि इस दौरे पर उनकी भूमिका बेहद महत्वपूर्ण होगी जिसे वो भली भांति समझते भी हैं। अली के मुताबिक आने बांग्लादेश दौरा और उसके बाद आने वाला भारतीय दौरा उनके लिए काफी कारागर साबित हो सकता है। साथ ही साथ मोइन अली ने साल 2017 में होने वाली चैंपियंस ट्रॉफी के बारे में भी इशारा करते हुए कहा कि इस टूर्नामेंट पर उनकी टीम की बड़ी नज़र है और वो इसके लिए पूरी तरह तैयार हैं।


Edited by Staff Editor

Comments

Fetching more content...