Create
Notifications

'वेस्टइंडीज़ के लिए डे-नाइट टेस्ट मैच खेलना मुश्किल हो सकता है'

Syed Hussain

आईसीसी ने सभी देशों से अपील की है कि टेस्ट मैचों को बढ़ावा देने के लिए डे-नाइट टेस्ट मैच कराए जाएं। जिसकी शुरुआत ऑस्ट्रेलिया और न्यूज़ीलैंड के बीच एडिलेट टेस्ट के दौरान हुई थी जिसे दर्शकों का भी भारी समर्थन हासिल हुआ था। वेस्टइंडीज़ क्रिकेट बोर्ड भी चाहता है कि डे-नाइट टेस्ट मैच खेला जाए और इसके लिए पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने वेस्टइंडीज़ के सामने पेशकश भी की है और कहा है कि UAE में एक टेस्ट दुधिया रोशनी में पिंक बॉल के साथ खेला जाना चाहिए, जब वेस्टइंडीज़ टेस्ट दौरे के लिए पाकिस्तान के दूसरे घर UAE में खेलने जाएगी। कैरेबियाई कोच फ़िल सिमंस को भी पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड की ये पहल सही लग रही है लेकिन साथ ही साथ उन्हें अपनी टीम से डर भी लग रहा है। एक क्रिकेट वेबसाइट से बातचीत के दौरान सिमंस ने कहा, "हमारे लिए आसान नहीं होगा क्योंकि UAE में हमने ज़्यादा डे-नाइट क्रिकेट नहीं खेली और हमें नहीं पता कि रात में वहां गेंद किस तरह गुल खिलाएगी, लेकिन जब ICC ने कहा है और वह चाहती है तो फिर हमारे पास दूसरा कोई विकल्प भी नहीं।" "हमें इतंज़ार करना होगा और देखना होगा कि आगे क्या होता है, मैंने ऐडिलेड में ऑस्ट्रेलिया-न्यूज़ीलैंड के बीच हुआ डे-नाइट टेस्ट नहीं देखा था, लेकिन ख़बरों के मुताबिक़ भीड़ काफ़ी हुई थी जो टेस्ट क्रिकेट के लिए अच्छी बात है। हालांकि खिलाड़ियों ने ये भी कहा कि अभी भी कई चीज़ें हैं जिनपर ध्यान देने और सही करने की ज़रूरत है। जैसे कि गुलाबी गेंद जल्दी ही ख़राब हो जाती है, मुझे उम्मीद है ICC इन चीज़ों को ध्यान में रखते हुए ही कोई फ़ैसला लेगी।" : फ़िल सिमंस ऑस्ट्रेलिया और न्यूज़ीलैंड के बीच हुए उस ऐतिहासिक टेस्ट मैच के बाद अब तक फिर कोई भी टेस्ट दुधिया रोशनी और पिंक गेंद से नहीं खेला गया है।


Edited by Staff Editor

Comments

Fetching more content...