Create
Notifications

गेंद के हेलमेट पर लगने के बाद बल्लेबाज के दिमाग में क्या चल रहा होता है

CONTRIBUTOR
Modified 21 Jan 2017

किसी भी बल्लेबाज के लिए सबसे मुश्किल चुनौती तेज गेंदबाज की बाउंसर को झेलना है। हालांकि, हेलमेट के आने से बल्लेबाज को चोट लगने की चिंता कम जरुर हुई है, लेकिन फिर भी जो झटका उसके सिर पर लगता है उसका दर्द बयां करना मुश्किल है। जैसे ही गेंद हेलमेट की ग्रिल पर आकर लगती है तो बल्लेबाज के मन में कई तरह के ख्याल आने लगते हैं जो काफी मजेदार भी हो सकते हैं। हमने ऐसे ही मजेदार विचार तैयार किये हैं जो गेंद के हेलमेट लगने के बाद बल्लेबाज के दिमाग में आ सकते हैं। (नोट : लेखक ने क्लब क्रिकेट खेला है और कई बार उसके हेलमेट पर गेंद लग चुकी है (मध्यम तेज गेंदबाजों की गेंद पर)। इसलिए वह कुछ तक बल्लेबाज की परेशानी को समझता है जब शॉर्ट गेंद हेलमेट पर आकर लगती है। यह लेख गंभीरता से अलग हटकर मस्ती के लिए लिखा गया है। इसे बिलकुल भी गंभीरता से लेने की जरुरत नहीं है।)


#5 रुकिए, क्या मैंने इसके लिए करार किया है?

stokes helmet

जैसे ही मेरे हेलमेट पर आकर गेंद लगी (जी हां, अब से मैं पहले मिडिल स्टंप गार्ड लूंगा) मेरे दिमाग में रेस शुरू हो गई। सबसे पहले मुझे अनंत सितारे दिखने लगे और थोड़े चक्कर आए। इन सभी विचारों के बीच मुझे एक बात का ख्याल आया कि क्या सिर में गेंद लगने के लिए मैंने करार किया है। वह कहते हैं कि गेंद लगने के कुछ समय में ही आपको पूरी जिंदगी दिख जाती है। इस मामले में ऐसा नहीं है, क्योंकि मेरा पूरा ध्यान उन वर्षों पर चला गया जब किसी चीज से घबराहट नहीं होती थी। मैंने अपने जीवन में जो कुछ भी किया हो, लेकिन ऐसी तरफ क्यों जाऊ जहां गति के साथ खून बहने का खतरा हो। ऐसा ख्याल भी आया कि गार्डनिंग या फिर एयर-कंडीशन वाला ऑफिस जॉब ही बेहतर विकल्प होता।
1 / 5 NEXT
Published 21 Jan 2017
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now