भारत ने अगर ज़िम्बाब्वे का व्हाइटवॉश भी कर दिया तो क्या बदलेगी रैंकिंग ?

वैसे तो महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में भारतीय टीम ने बहुत सारे टूर्नामेंट अपने नाम किए हैं जिसमें आईसीसी की सभी बड़ी प्रतियोगिताएं भी शामिल है। टी-20 में भी टीम इंडिया का प्रदर्शन कमाल का रहा है, और वर्ल्ड टी-20 के सेमीफ़ाइनल तक भारत पहुंचा था। लेकिन वनडे में अपनी पिछली सीरीज़ में ऑस्ट्रेलिया के हाथों 4-1 से हारने के बाद भारत की आईसीसी रैंकिंग मे गिरावट आई है। ऑस्ट्रेलिया से हार के बाद भारत ने अभी तक कोई एकदिवसीय सीरीज़ नहीं खेली है पर अब वो 11 जून से ज़िम्बाब्वे दौरे पर होगी। आईसीसी एकदिवसीय रैंकिंग मे भारत फिलहाल 109 अंकों के साथ चौथे स्थान पर काबिज़ है।आंकड़े ये बताते हैं कि अगर भारत ज़िम्बाब्वे को व्हाइटवॉश भी कर देता है तब भी उसकी रैंकिंग मे कोई बदलाव नहीं आएगा। आईसीसी रैंकिंग में ज़िम्बाब्वे के 11वें स्थान पर होने के कारण भारत अगर उसे 3-0 से भी हारा देता तो भारत की झोली में मात्र एक ही अंक जुड़ पाएगा जिससे उसकी रैंकिंग में कोई सुधार नहीं आएगा। भारत फिलहाल श्रीलंका से पांच पॉइंट ही आगे है मगर उससे ऊपर ऑस्ट्रेलिया(124),न्यूजीलैंड(113)और दक्षिण अफ़्रीका(112)अंकों के साथ पहले दूसरे और तीसरे स्थान पर काबिज हैं। समीकरण ये भी बताते हैं कि अगर भारत ज़िम्बाब्वे से 2-1 से भी जीतता है तब उसके अंकों में गिरावट अजाएगी और वो 109 से 108 अंकों पर पहुंच जाएगा। वहीं ज़िम्बाब्वे को इस स्थिति में एक अंक मिल जाएगा और वो 47 से बढ़कर 48 अंकों पर पहुंच जाएगा। हालांकि धोनी की कप्तानी में ज़िम्बाब्वे दौरे पर जा रही भारतीय टीम युवाओं से भरी है अब देखना ये है विराट कोहली की ग़ैर मौजूदगी में क्या भारतीय टीम ज़िम्बाब्वे का व्हाइटवॉश करने में कामयाब रहेगी।

Edited by Staff Editor