'मैं तुम्हारा कप्तान हूं, मुझे बेवकूफ मत बनाओ', जब एम एस धोनी ने मोहम्मद शमी से कही थी ये बात

मोहम्मद शमी और एम एस धोनी
मोहम्मद शमी और एम एस धोनी

एम एस धोनी कितने शांत के स्वभाव के हैं, ये बात तो सबको पता है। इसीलिए उन्हें कैप्टन कूल भी कहा जाता है लेकिन उनकी कप्तानी के दौरान जब भी खिलाड़ी कोई गलती करते थे तो वो उनके बड़े ही अनोखे ढंग से सख्त होकर समझाते भी थे। ऐसा ही एक वाकया भारतीय टीम के दिग्गज तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी ने शेयर किया है, जब एम एस धोनी ने उनसे कहा था कि मैं तुम्हारा कप्तान हूं मुझे बेवकूफ मत बनाओ। मोहम्मद शमी ने ये खुलासा दिग्गज क्रिकेटर मनोज तिवारी के साथ इंस्टाग्राम पर लाइव बातचीत के दौरान किया।

ये भी पढ़ें: इरफान पठान ने चयनकर्ताओं पर साधा निशाना, कहा संन्यास से वापस आने के लिए तैयार

भारतीय टीम के 2014 के न्यूजीलैंड दौरे का है पूरा वाकया

भारतीय टीम 2014 में न्यूजीलैंड के दौरे पर थी और वेलिंग्टन में सीरीज का दूसरा टेस्ट मैच खेला जा रहा था। इसी मैच में न्यूजीलैंड के पूर्व कप्तान ब्रैंडन मैक्कलम ने अपने टेस्ट करियर की सर्वोच्च 302 रनों की पारी खेली थी। शमी ने बताया कि मेरी गेंद पर विराट कोहली ने ब्रेंडन मैक्कलम का कैच छोड़ दिया था। वो उस वक्त मात्र 14 रन पर ही खेल रहे थे। इसकी भारी कीमत भारतीय टीम को चुकानी पड़ी और ब्रेंडन मैक्कलम ने तिहरा शतक जड़ दिया।

ये भी पढ़ें: 'आईपीएल में एडम गिलक्रिस्ट की गेंद पर आउट होने जितना शर्मनाक कुछ नहीं था'

शमी ने बताया कि जब 14 रन पर मैक्कलम का कैच छूठा तो हमने सोचा कि कोई बात नहीं हम उन्हें जल्द आउट कर लेंगे। उसके बाद उन्होंने अगले दिन लंच तक बल्लेबाजी की और फिर चायकाल तक भी खेलते रहे। जब दिन का खेल खत्म होने वाला था तो मैंने विराट कोहली से पूछा कि तुमने मैक्कलम का कैच क्यों छोड़ा।

ये भी पढ़ें: ब्रैड हॉग ने ऑल टाइम आईपीएल इलेवन का किया चयन, विराट कोहली को बनाया कप्तान

मोहम्मद शमी इस वक्त अपने खेतों में ट्रेनिंग कर रहे हैं

बाउंसर गेंद फेंकने के कारण एम एस धोनी ने मोहम्मद शमी को लगाई थी डांट

शमी ने आगे बताया कि ब्रेंडन मैक्कलम ने 300 रन जड़ दिए। इसके बाद एक और बल्लेबाज का कैच छूट गया। चौथे दिन लंच से पहले मैंने एक बाउंसर गेंद डाली और वो गेंद माही भाई के ऊपर से निकल गई। जब हम ड्रेसिंग रूम की तरफ जाने लगे तो माही भाई ने आकर मुझसे कहा कि मुझे पता है कि कैच ड्रॉप हो गया था लेकिन तुम्हें अच्छी तरह से वो गेंद डालनी चाहिए थी। मैंने उनसे कहा कि मेरे हाथ से गेंद छूट गई थी।

ये भी पढ़ें: रोहित शर्मा ने रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के आईपीएल ट्रॉफी ना जीतने को लेकर दी अहम प्रतिक्रिया

शमी ने बताया कि इसके बाद माही भाई ने मुझे थोड़ा सख्त लहजे में कहा ' देख बेटा बहुत लोग आए मेरे सामने और बहुत लोग खेल के चले गए, झूठ मत बोल। बेटे तुम्हारे सीनियर हैं हम, तुम्हारे कप्तान हैं हम, ये बेवकूफ किसी और को बनाना।

वहीं शमी ने महेंद्र सिंह धोनी की काफी तारीफ भी की। उन्होंने कहा कि मैंने धोनी की कप्तानी में तीनों ही प्रारूपों में डेब्यू किया और उनसे काफी कुछ सीखने को मिलता है।

Quick Links

Edited by सावन गुप्ता
App download animated image Get the free App now