Create
Notifications

जब एम एस धोनी ने आकाश चोपड़ा की बात ना मानकर दिनेश कार्तिक को गेंदबाजी की थी 

एम एस धोनी और दिनेश कार्तिक
एम एस धोनी और दिनेश कार्तिक
सावन गुप्ता
visit

पूर्व क्रिकेटर आकाश चोपड़ा ने एम एस धोनी (MS Dhoni) से जुड़ा एक बड़ा खुलासा किया है। उन्होंने बताया कि 2004 में किस तरह धोनी ने दिनेश कार्तिक (Dinesh Karthik) को नेट्स में गेंदबाजी की थी। जबकि ये दोनों ही खिलाड़ी उस वक्त भारतीय टीम में विकेटकीपर बल्लेबाज के लिए कंपीट कर रहे थे।

दरअसल भारत की ए टीम 2004 में केन्या और जिम्बाब्वे के खिलाफ मैच खेलने गई हुई थी। एम एस धोनी और दिनेश कार्तिक दोनों ही इस टूर का हिस्सा थे। जबकि आकाश चोपड़ा एम एस धोनी के रूममेट थे। यू-ट्यूब पर बातचीत के दौरान आकाश चोपड़ा ने दिनेश कार्तिक को बताया,

मैं आपको 2004 के केन्या और जिम्बाब्वे के ए टूर पर लेकर जाना चाहता हूं। एम एस धोनी भी उस टूर का हिस्सा थे और मुझे अभी भी याद है कि उन्होंने आपको बॉलिंग की थी। धोनी मेरे रूममेट थे और मैंने उनसे कहा कि कार्तिक को गेंदबाजी ना करो वो तुम्हारे कंपटीटर हैं। अगर आप गेंदबाजी करना चाहते हैं तो कम से कम बैटिंग तो कीजिए। लेकिन धोनी ने कहा कि नहीं - नहीं मैं गेंदबाजी करना चाहता हूं।

एम एस धोनी और दिनेश कार्तिक ने अपना डेब्यू 2004 में किया था

एम एस धोनी ने उस ट्रांयगलर टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा 362 रन बनाए थे जिसमें दो शतक शामिल थे। वहीं दिनेश कार्तिक ने भी जिम्बाब्वे में तीन फर्स्ट क्लास मैचों में 160 रन बनाए थे। कार्तिक और धोनी दोनों ने ही 2004 में अपना इंडिया डेब्यू किया था। दिनेश कार्तिक को पहले खेलने का मौका मिला था। उन्होंने लॉर्ड्स में इंग्लैंड के खिलाफ अपना वनडे डेब्यू किया था। वहीं धोनी ने अपना वनडे डेब्यू इसी साल के आखिर में बांग्लादेश के खिलाफ किया था।

भले ही धोनी को बाद में डेब्यू का मौका मिला लेकिन उसके बाद उन्होंने टीम में अपनी जगह पुख्ता कर ली और इसी वजह से कार्तिक को नियमित तौर पर मौके नहीं मिले और वो टीम से अंदर-बाहर होते रहे।

दिनेश कार्तिक ने कहा कि जब एम एस धोनी ने एक बार टीम में अपनी जगह पक्की कर ली तब उनके लिए टीम में शामिल होना काफी मुश्किल हो गया।


Edited by सावन गुप्ता
Article image

Go to article

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now