Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

वेस्टइंडीज द्वारा दूसरा टेस्ट ड्रॉ कराने के बाद कप्तानों ने इस प्रकार दी अपनी प्रतिक्रियाएं

ANALYST
Modified 11 Oct 2018, 13:43 IST
Advertisement

रॉस्टन चेज़ के करियर की सर्वश्रेष्ठ पारी की मदद से वेस्टइंडीज ने भारत के खिलाफ अपनी साख बचाते हुए दूसरा टेस्ट ड्रॉ करा लिया। जमैका में खेले गए इस टेस्ट में भारत को अंतिम दिन 6 विकेट लेने की दरकार थी, लेकिन वेस्टइंडीज के निचले मध्यक्रम ने यह सुनिश्चित कर दिया कि मेहमान टीम तीसरे टेस्ट में 1-0 की बढ़त के साथ ही जाएगी। टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी वेस्टइंडीज की पहली पारी 196 रन पर ही सिमट गई थी। तब से पांचवें दिन तक भारत ही इस टेस्ट मैच में नजर आ रहा था। मेहमान टीम के लोकेश राहुल और अजिंक्य रहाणे ने शतक जड़े और भारत ने 9 विकेट पर 500 रन बनाकर अपनी पहली पारी घोषित की। भारत ने 300 रन की विशाल बढ़त हासिल की थी। चौथे दिन बारिश के कारण पूरा खेल नहीं हो सका, लेकिन भारत ने चार विकेट हासिल कर लिए थे जो उसकी जीत का मजबूत पक्ष था। मगर पांचवें दिन वेस्टइंडीज का रहा और चेज़ ने शानदार शतक जड़ते हुए टीम की साख पर बट्टा लगने से बचा लिया। वेस्टइंडीज ने कुछ खास किया : विराट कोहली भारतीय टेस्ट कप्तान विराट कोहली ने तुरंत स्वीकार किया कि उनकी टीम के लिए परीक्षा का दिन था। टेस्ट क्रिकेट में ऐसा होता है। बुरा लगा कि हमें अंतिम दिन ज्यादातर शिकस्त झेलना पड़ी। इसके लिए कोई बहाना नहीं दे सकते। वेस्टइंडीज ने जिस तरह आज खेला, उसका पूरा श्रेय उन्हें जाता है। जब आप टेस्ट हार चुके होते हो और दूसरे टेस्ट में भी पिछड़ रहे हो तो टेस्ट बचाना विशेष होता है। मैच के बाद विराट ने कहा, 'हमारे गेंदबाजों ने सर्वश्रेष्ठ प्रयास किया। हमने कुछ मौके बनाए, लेकिन चीजें हमारे पक्ष में नहीं गई। पहले चार दिन विकेट बहुत सक्रीय था। गेंद की मजबूती बड़ा पहलू था। जिस तरह हमारे लड़कों ने प्रदर्शन किया वह काबिलेतारीफ है।' उन्होंने आगे कहा, 'चायकाल के बाद सभी को आखिरी प्रयास करना था। हमारे पाँचों गेंदबाजों ने पूरी मेहनत की, लेकिन अफ़सोस कि परिणाम हमारे पक्ष में नहीं आया।' वेस्टइंडीज के कप्तान जेसन होल्डर ने कहा, 'पिछले टेस्ट के मुकाबले काफी सुधार हुआ। इसका पूरा आनंद उठाया। हमें जिम्मेदारी उठाने के लिए कहा गया था। रॉस्टन और ब्लैकवुड के बीच अच्छी साझेदारी हुई। इसके बाद डॉरिच आये और मैच सुरक्षित करने में अहम भूमिका अदा की। हमने शानदार बल्लेबाजी की। प्रशंसकों का समर्थन भी हमारे लिए काफी कारगर साबित हुआ। हमें हर बार ज्यादा फाइट करना होगी ताकि परिणाम सुखद आएं।' 'खुशी कैसे बयां करूं' मैन ऑफ द मैच रॉस्टन चेज़ ने बताया कि वेस्टइंडीज की साख बचाने में कामयाब होने के बाद मैं बहुत अच्छा महसूस कर रहा हूं। उन्होंने कहा, 'मुझे खुशी है कि दोहरा प्रदर्शन करके टीम के लिए टेस्ट सुरक्षित कर पाया। मेरा लक्ष्य बल्लेबाजी और गेंदबाजी दोनों ही बेहतर करना है, लेकिन बल्लेबाजी मेरी प्राथमिकता है।' चेज़ ने बताया, 'कप्तान ने खिलाड़ियों से कहा कि लड़ाई दिखाने की जरुरत है। हम उस मानसिकता के साथ गए कि एक युद्ध में जहां हम आज मर नहीं सकते। पिछली रात मेरे और डॉरिच के बीच बात हुई थी कि हम दोनों में से किसी एक ने भी शतक बनाया तो टेस्ट सुरक्षित कर लेंगे। हमने अंत तक लड़ाई की। दुर्भाग्यवश डॉरिच जल्दी आउट हो गए, लेकिन मैं ड्रॉ के साथ खुश हूं। इसे जीत की तरह मां रहा हूं। इस मैच के बाद ट्विटर पर रॉस्टन चेज़ की जमकर तारीफ हुई, चलिए कुछ दिग्गजों के ट्वीट पर नजर डालते हैं :

(वेस्टइंडीज के लिए रॉस्टन चेज़ की शानदार उपलब्धि।) (वेस्टइंडीज ने कुछ लोगों को आश्चर्यचकित कर दिया (मैं भी शामिल हूं)। रॉस्टन चेज़ के लिए शानदार दिन।) Published 04 Aug 2016, 11:58 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now
❤️ Favorites Edit