Ashes 2017: एडिलेड टेस्ट में काली पट्टी बांध कर मैदान में उतरे इंग्लैंड के ख़िलाड़ी

Rahul

ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच चल रही एशेज 2017-18 का दूसरा टेस्ट एडिलेड के मैदान पर डे-नाईट टेस्ट मैच के रूप में खेला जा रहा है। यह एशेज इतिहास का पहला डे-नाईट टेस्ट मैच है। सीरीज के पहले मैच में इंग्लैंड को मिली ऑस्ट्रेलिया से करारी 10 विकेट की हार के बाद आज मेजबान इंग्लैंड जब मैदान पर उतरी, तो सभी खिलाड़ियों के हाथ पर काले रंग की पट्टी बांधी हुई थी। इंग्लैंड के खिलाड़ियों ने यह काली पट्टी प्रथम श्रेणी स्तर के अंपायर और पूर्व काउंटी क्रिकेटर रिचर्ड इवांस के निधन पर उन्हें श्रद्धांजलि देने के लिए अपने हाथ पर बांधी। 52 वर्ष की आयु में रिचर्ड का देहांत हो गया। रिचर्ड ने काउंटी क्रिकेट में नाटिंघमशायर की तरफ से 6 प्रथम श्रेणी मैच खेले हैं। वह दाएं हाथ के बल्लेबाज थे और साथ ही उन्होंने प्रथम श्रेणी स्तर पर क्रिकेट डिसिप्लिन कमीशन में एक रिप्रेजेन्टेटिव के तौर पर कार्य किया। हाल ही में वह इंग्लैंड की महिला टीम के मुकाबलों में एकदिवसीय और टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच में अंपायरिंग भी करते हुए नजर आए थे। दरअसल किसी भी खेल में या खासतौर पर क्रिकेट में किसी भी ख़िलाड़ी के देहांत होने पर क्रिकेट मैदान में उस ख़िलाड़ी को श्रद्धांजलि देने के लिए काले रंग की पट्टी को बांध कर मौजूदा ख़िलाड़ी मैदान पर उतरते हैं। इस साल सितंबर महीने में ऑस्ट्रलियाई टीम ने भी भारत के खिलाफ वनडे सीरीज के मुकाबले में पूर्व स्पिनर बॉब हॉलैंड के निधन पर इस प्रकार की श्रद्धांजलि दी थी। भारतीय टीम के खिलाड़ियों ने भी इस वर्ष अंडर 19 टीम के ट्रेनर राजेश सावंत और भारतीय टीम के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी के पिता के देहांत पर काली पट्टी बांध कर श्रद्धांजलि के भाव प्रकट किये थे। एशेज सीरीज के एडिलेड टेस्ट में पहला दिन बारिश से प्रभावित रहा और मुकाबला केवल 81 ओवरों का ही हो पाया। पहले दिन का खेल खत्म होने पर ऑस्ट्रेलिया का स्कोर 4 विकेट पर 209 रन रहा। ऑस्ट्रेलिया की तरफ से उस्मान ख्वाजा ने सबसे ज्यादा 53 रन बनाएं, तो इंग्लैंड की तरफ से जेम्स एंडरसन, क्रिस वोक्स और क्रेग ओवरटन ने एक-एक विकेट अपने नाम किया।

Edited by Staff Editor
Be the first one to comment