Create
Notifications

टेस्ट क्रिकेट में महिलाओं के मैचों में एक दिन में 100 ओवर क्यों डाले जाते हैं?

England Women v India Women - LV= Insurance Test Match: Day One
England Women v India Women - LV= Insurance Test Match: Day One
Naveen Sharma
visit

टेस्ट क्रिकेट की बात आती है, तो कुछ चीजें दिमाग में आती है और उनमें से एक होती है दिन के खेल में होने वाले ओवर। टेस्ट क्रिकेट में लोगों के दिमाग में यही होता है कि दिन के खेल में 90 ओवर होते हैं। हालांकि कुछ मौकों पर दिन का खेल समाप्त होने से पहले 90 ओवर होने पर संख्या 90 से बाहर भी चली जाती है क्योंकि निर्धारित समय तक खेलना होता है। इन सबके बीच महिला क्रिकेट के टेस्ट मैच में ऐसा नहीं होता है।

महिलाओं के टेस्ट मैच को पांच दिन के बजाय 4 दिनों का किया गया है। महिला टीमों के टेस्ट मैचों में दिन के ओवर भी ज्यादा होते हैं। 90 के बजाय 100 ओवर हर दिन के निर्धारित होते हैं। हालांकि निर्धारित समय तक इतने ओवर नहीं होने पर खेल समाप्ति की घोषणा होती है। इसमें जरूरी नहीं होता कि पूरे 100 ओवर डालने है।

पुरुष टेस्ट मैच में 90 ओवर के हिसाब से पांच दिनों में 450 ओवरों का खेल निर्धारित होता है जबकि महिला क्रिकेट में 4 दिन का खेल 100 ओवर प्रति दिन के हिसाब से 400 ओवरों का होता है। देखा जाए तो यहाँ महज 50 ओवरों का अंतर होता है लेकिन महिलाएं एक दिन कम खेलती हैं। इसमें एक खास बात और भी और वह है फॉलोऑन के लिए निर्धारित सन संख्या। महिला क्रिकेट चार दिनों का ही होता है इसलिए फॉलोऑन के लिए निर्धारित लीड 150 रन की गई है। पांच दिनों के टेस्ट में यह लीड 200 रन होती है।

महिला क्रिकेट में अगर पहले दिन टॉस नहीं हो और मैच दूसरे दिन से ही शुरू हो, तब मुकाबले में तीन दिन ही शेष रह जाते हैं, ऐसे में फॉलोऑन के लिए निर्धारित लीड के रन और कम हो जाते हैं क्योंकि अब मुकाबला तीन दिवसीय रह जाता है। अगर पहले दिन कुछ ओवरों का खेल भी हो जाता है, तो इसे चार दिनों में ही काउंट किया जाता है।


Edited by Naveen Sharma
Article image

Go to article
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now