Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

INDvSL: क्या विराट कोहली को वनडे और टी20 सीरीज़ में दिया जाएगा आराम ?

CONTRIBUTOR
Modified 21 Sep 2018, 20:28 IST
Advertisement
श्रीलंका के खिलाफ चल रही टेस्ट सीरीज की समाप्ति के बाद शुरू हो होने वाली वन डे और टी20 सीरीज में किस-किस खिलाड़ी को खेलने का मौका मिल सकता है और कौन-कौन से खिलाड़ी टीम में जगह बनाने में नाकाम रह सकते हैं? वास्तव में ये रोचकता का विषय है, क्योंकि पिछली कुछ श्रृंखलाओं में टीम इंडिया के शानदार प्रदर्शन को देखते हुए लगता तो यही है कि टीम में बहुत ज्यादा फेरबदल देखने को नहीं मिलेंगे। वहीं दूसरी ओर टीम का चयन करते समय चयनकर्ताओं के दिमाग में ये बात भी रहेगी कि आने वाले समय में विश्व कप से पूर्व प्रयोग करने का ये सम्भवतः अंतिम अवसर है,  क्योंकि फिर भारत को अधिकांश समय घर से बाहर ही खेलना है। आगामी समय में भारत को कई देशों के महत्वपूर्ण दौरे करने हैं। उसे दक्षिण अफ्रीका, इंग्लैंड, न्यूजीलैंड और ऑस्ट्रेलिया जैसी टीमों के खिलाफ उन्हीं के घर में जाकर खेलना है। इसमें संदेह नहीं है कि इन विदेशी दौरों पर टीम इंडिया की कड़ी अग्निपरीक्षा होने वाली है। इन दौरों पर टीम को प्रयोग करने का कोई मौका नहीं मिलने वाला है, इसके बाद विश्व कप 2019 भी बहुत दूर नहीं है, इसलिए टीम में यदि कुछ नए कॉम्बिनेशन ट्राई करने हैं तो इसके लिए यही सही अवसर होगा। इसके अतिरिक्त आगामी कठिन दौरों को देखते हुए भी अगर कुछ खिलाड़ियों को विश्राम देना है तो उसके लिए भी यही उचित समय रहेगा। आने वाले दक्षिण अफ्रीका के महत्वपूर्ण दौरे को ध्यान में रखते हुए कुछ खिलाड़ियों को इस सीरीज में आराम भी दिया जा सकता है। इनमें जबरदस्त फॉर्म में चल रहे और अगले दौरे के दो "की प्लेयर्स" (अतिमहत्वपूर्ण खिलाडी) कप्तान विराट कोहली और ऑलराउंडर भुवनेश्वर कुमार का नाम प्रमुख है। क्योंकि श्रीलंका के खिलाफ वन डे और टी20 सीरीज में श्रीलंकाई टीम के मौजूदा फॉर्म को देखते हुए आसार तो यही नज़र आ रहे हैं कि भारत को ज्यादा कड़ी चुनौतियों का सामना नहीं करना पड़ेगा। लगातार क्रिकेट खेल रही टीम इंडिया के लिए अपने महत्वपूर्ण खिलाड़ियों को अफ्रीकी दौरे से पूर्व उन्हें तरोताजा रखना और चोटिल होने से बचाना ज्यादा बेहतर रहेगा। चयनकर्ता जब टीम चयन के लिए बैठेंगे तो सम्भवतः इसी बात को ध्यान में रखकर टीम चुनेंगे, वैसे भी अगले विश्व कप के मद्देनजर टीम में कुछ प्रयोग करने का ये सबसे बढ़िया मौका होगा। अगर चयनकर्ताओ ने कुछ चौकाने की नहीं सोची तो अधिकांश वही टीम रहने की सम्भावना है जो हाल ही में न्यूजीलैंड के खिलाफ खेली थी। अगर बल्लेबाजी की बात की जाए तो लम्बे समय से सभी फॉर्मेट में लगातार खेल रहे कप्तान विराट कोहली को अफ्रीका के दौरे से पूर्व विश्राम देना ही बेहतर रहेगा। इसके अलावा पूरी सम्भावना यही है कि रोहित शर्मा और शिखर धवन ओपनिंग के लिए टीम की पहली पसंद बने रहेंगे और अजिंक्य रहाणे टीम में बतौर वैकल्पिक ओपनर रहेंगे। पिछली सीरीज में मध्यम क्रम में शामिल रहे दिनेश कार्तिक, केदार जाधव, मनीष पांडे, श्रेयस अय्यर के भी टीम बने रहने की पूरी सम्भावना है। अगर चयनकर्ता विराट कोहली को आराम देने का निर्णय करते हैं तो उनके स्थान पर किसी युवा खिलाड़ी को खेलने का अवसर मिल सकता है। आसार तो यही हैं कि इस स्थान के लिए ऋषभ पंत चयनकर्ताओं की पहली पसंद रहेंगे, वैसे संजू सैमसन, मंदीप सिंह, नीतीश राणा या करुण नायर में से भी किसी को टीम में जगह बनाने का मौका मिल सकता है। अनुभवी युवराज सिंह, सुरेश रैना और के एल राहुल की हालिया खराब फॉर्म को देखते हुए उनके टीम में वापसी के आसार नज़र नहीं आ रहे हैं। निचले मध्यम क्रम में नंबर 6-7 पर फिनिशर के तौर पर ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या और एम एस धोनी टीम का हिस्सा रहे रहेंगे, ये भी लगभग तय ही है। अगर बात गेंदबाजी के बारे में की जाए तो पूरी सम्भावना है कि पिछली सीरीजों में स्पिन की बागडोर सम्भालने वाले तीनों स्पिनर यजुवेंद्र चहल, कुलदीप यादव और अक्षर पटेल का टीम में स्थान बरकरार रहेगा। सीमित ओवर की टीम से बाहर चल रहे अनुभवी स्पिनरों आर अश्विन और रविन्द्र जडेजा को अभी टीम से बाहर ही रहना पड़ेगा लगता तो यही है। वैसे भी यदि चयनकर्ताओ ने स्पिन विभाग में अगर कुछ प्रयोग करना चाहा तो फिर कर्ण शर्मा या विपुल शर्मा के नाम पर भी विचार किया जा सकता है। वैसे क्वालिटी ऑलराउंडर होने के कारण हार्दिक पांड्या के भाई और आईपीएल में शानदार प्रदर्शन करने वाले क्रुणाल पांड्या की भी लॉटरी लग सकती है। तेज गेंदबाजों में लगातार टीम का हिस्सा बने हुए भुवनेश्वर कुमार को आराम दिया जा सकता है। यदि चयनकर्ता उन्हें आराम देने का निर्णय नहीं लेते हैं तो फिर टीम मैनेजमेंट को चाहिए कि वो जसप्रीत बुमराह और भुवनेश्वर कुमार को रोटेट करके 'प्लेइंग इलेवन' में जगह दें। इनके अलावा तेज गेंदबाजी में युवा मौहम्मद सिराज और शार्दुल ठाकुर को भी टीम में शामिल किया जा सकता है। यदि इन दोनों युवा तेज गेंदबाजों को मौका मिला और साथ ही भुवनेश्वर कुमार को भी आराम नहीं दिया गया, तो एक बार फिर से अनुभवी तेज गेंदबाजों मोहम्मद शमी और उमेश यादव को टीम से बाहर रहना पड़ सकता है। इशांत शर्मा की सीमित ओवर क्रिकेट में वापसी भी आसान नज़र नहीं आ रही है, वैसे अपने निर्णय से पहले भी कई बार चौंकाने वाले चयनकर्ता एक बार फिर यदि कोई चौकाने वाला निर्णय लेते हैं तो किसी को भी आश्चर्यचकित नहीं होना चाहिए।   Published 26 Nov 2017, 18:04 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now
❤️ Favorites Edit