जब जीतने की ललक खत्म हो जाएगी तो मैं खेलना छोड़ दूंगा: विराट कोहली

भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली इस वक्त काफी बेहतरीन फॉर्म में हैं। टेस्ट हो या एकदिवसीय या फिर टी20 क्रिकेट, हर मैच में कोहली के बल्ले से लगातार रन निकल रहे हैं। 30 साल से भी कम उम्र में ही कोहली क्रिकेट में लगातार नई ऊंचाइयों को छू रहे हैं। हालांकि एक दिन ऐसा भी आएगा जब कोहली भी संन्यास लेंगे, लेकिन उससे पहले अभी उन्हें काफी सारा क्रिकेट खेलना है। कोहली ने एक शो के दौरान बताया कि वो कब क्रिकेट से संन्यास ले सकते हैं। विराट कोहली ने कहा कि सिर्फ जीतने की ललक से मुझे प्रेरणा मिलती है, जिस दिन ये ललक खत्म हो जाएगी उस दिन में क्रिकेट खेलना छोड़ दूंगा। जब तक मेरा शरीर साथ देगा तब तक मैं खेलुंगा, उससे ज्यादा नहीं खेलुंगा। उन्होंने कहा कि जब असफलताओं से वापसी करनी की प्रेरणा आपके अंदर से खत्म हो जाए तब एक खिलाड़ी के लिए आगे खेलना मुश्किल हो जाता है। कोहली ने कहा कि जिस दिन मुझे लगेगा कि मैं मैदान पर बिना किसी एनर्जी और जीतने की ललक के ही खेल रहा हूं और सिर्फ मैच खेल भर रहा हूं तब मैं संन्यास ले लूंगा। उन्होंने कहा कि जब मैं टीम की जीत में योगदान नहीं दे पाउंगा तो मैं खेलना छोड़ दूंगा। गौरतलब है कोहली एकदिवसीय क्रिकेट में 32 शतक लगा चुके हैं और उनसे आगे सिर्फ महान सचिन तेंदुलकर हैं जिनके नाम 49 एकदिवसीय शतक हैं। इसके अलावा कोहली वनडे क्रिकेट में 9 हजार रन भी बना चुके हैं। कोहली अपनी फिटनेस पर काफी ज्यादा ध्यान देते हैं यही वजह है कि काफी सारा क्रिकेट खेलने के बावजूद वो बहुत कम बार ही चोटिल होते हैं। अगर वो चोटिल नहीं हुए तो लगभग 10 साल तक वो और क्रिकेट खेल सकते हैं। तब तक कई रिकॉर्ड उनके नाम हो सकते हैं। भारतीय टीम को अगले साल दक्षिण अफ्रीका का दौरा करना है तब कोहली की असली परीक्षा होगी।

Edited by Staff Editor
Be the first one to comment