Create
Notifications

World Cup 2019: 5 बड़े खिलाड़ी जिन्होंने इस टूर्नामेंट में निराश किया है

क्रिस गेल अपना आखिरी विश्व कप खेल रहे हैं
क्रिस गेल अपना आखिरी विश्व कप खेल रहे हैं
Ryan Sharma
visit

आईसीसी विश्व कप 2019 के ग्रुप स्टेज में अब सिर्फ चार मैच बचे हैं। ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड और भारत की टीमें नॉक-आउट के लिए क्वालीफाई कर चुकी है तो वहीं न्यूजीलैंड का भी सेमीफाइनल में पहुँचना लगभग तय है। सबसे बड़े मंच पर अपने स्टार खिलाड़ियों के खराब प्रदर्शन के कारण कई टीमों ने इस विश्व कप में काफी संघर्ष किया है। डिफेंडिंग चैंपियन ऑस्ट्रेलिया और पिछले विश्व कप के रनर्स न्यूजीलैंड में बल्लेबाजी एक समस्या है तो वहीं कई टीमें अपने स्टार गेंदबाजों के खराब फॉर्म के चलते टूर्नामेंट से बाहर भी हो चुकी हैं।

आइये नजर डालते हैं उन 5 खिलाड़ियों पर जिन्होंने अब तक इस विश्व कप में निराश किया है।


#5. मार्टिन गप्टिल, न्यूजीलैंड

मार्टिन गप्टिल
मार्टिन गप्टिल

विश्व कप इतिहास में न्यूजीलैंड का दूसरा सबसे अच्छा जीत प्रतिशत है। न्यूजीलैंड ने मार्टिन गप्टिल से बहुत उम्मीद की होगी लेकिन उन्होंने अब तक निराश ही किया है। वह शुरुआती पावरप्ले में रन बनाने में नाकाम रहे हैं और तो और वह सात में से चार बार पहले पॉवरप्ले में ही आउट हो चुके हैं।

विश्व कप 2015 में सबसे अधिक रन बनाने वाले बल्लेबाज गप्टिल ने अब तक 8 मैचों में 27 से भी कम की औसत से केवल 166 रन बनाए हैं। दो बार तो वह बिना खाता खोले पहली ही गेंद पर आउट हो गये थे।

वह हमेशा अपने देश के लिए मैच जिताने वाले खिलाड़ी रहे हैं और प्रशंसकों को उम्मीद थी कि गप्टिल उसी तरह का प्रदर्शन करेंगे। न्यूजीलैंड की टीम इस प्रतियोगिता में बैटिंग की समस्या से जूझ रही है और गप्टिल कीवी टीम की इस समस्या को सुलझाने में विफल रहे हैं।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्टसकीड़ा पर पाएं।

#4. आंद्रे रसेल, वेस्ट इंडीज

आंद्रे रसेल
आंद्रे रसेल

वेस्टइंडीज ने 'डार्क हॉर्सेज' के रूप में इस विश्व कप में प्रवेश किया था। पाकिस्तान के खिलाफ बड़ी जीत के साथ उन्होंने टूर्नामेंट में धमाकेदार शुरुआत की थी। जमैका में जन्मे ऑल-राउंडर आंद्रे रसेल के कंधों पर 'मेन इन मरून' की ज़िम्मेदारी थी।

रसेल, जो आईपीएल 12 में 'मोस्ट वैल्युएबल प्लेयर' थे, इस विश्व कप में फिटनेस से जूझते रहे और घुटने की चोट के कारण टूर्नामेंट के बीच में ही बाहर हो गए। 'द्रे रस' ने आईपीएल 2019 में केकेआर की बल्लेबाजी का भार अपने कंधों पर उठाया था और अनगिनत मौकों पर अपनी टीम को मुसीबत से निकाला था। लेकिन, विश्व कप में 12 की साधारण औसत के साथ उन्होंने सिर्फ 21 रन बनाये।

भले ही रसेल ने बल्ले के साथ संघर्ष किया, लेकिन उनका गेंद के साथ प्रदर्शन ठीक-ठाक था। 21 से भी कम की औसत और 6 से भी कम की इकॉनमी के साथ रसेल ने 4 मैचों में 5 विकेट झटके

#3. हाशिम अमला, दक्षिण अफ्रीका

हाशिम अमला
हाशिम अमला

हाशिम अमला पिछले कुछ समय से फॉर्म से बाहर रहे हैं। विश्व कप 2019 से पहले दक्षिण अफ्रीकी टीम की प्लेइंग इलेवन में उनकी जगह को लेकर बहुत सारे सवाल थे। लेकिन शीर्ष क्रम पर विश्वसनीय विकल्पों की कमी ने दक्षिण अफ्रीकी टीम प्रबंधन को अमला के साथ जाने के लिए मजबूर कर दिया। यह 36 वर्षीय दिग्गज बल्लेबाज इस विश्व कप में 65 से भी कम की बेहद खराब स्ट्राइक रेट के साथ 203 रन ही बना पाया।

दक्षिण अफ्रीका के सबसे सफल सलामी बल्लेबाज हाशिम अमला इस विश्व कप में केवल दो अर्धशतक जमाने में सफल रहे हैं जो उन्होंने अफगानिस्तान और श्रीलंका के खिलाफ बनाए थे।

इस वर्ल्ड कप में दक्षिण अफ्रीका का कोई भी खिलाड़ी शतक नहीं लगा पाया है। डरबन में जन्मे अमला भी एक बड़ी पारी खेलने में नाकाम रहे हैं।

#2. कगिसो रबाडा, दक्षिण अफ्रीका

कगिसो रबाडा
कगिसो रबाडा

कगिसो रबाडा इस सूची में दूसरे दक्षिण अफ्रीकी खिलाड़ी हैं, जो पूरी तरह से विश्व कप 2019 में नाकाम रहे हैं। रबाडा ने आईपीएल 2019 में काफी सुर्खियां बंटोरी थीं। डेल स्टेन की चोट और अन्य गेंदबाजों के लचर प्रदर्शन के चलते रबाडा पर 'प्रोटियाज' टीम के गेंदबाजी आक्रमण का नेतृत्व करने की पूरी जिम्मेदारी थी।

रबाडा, जो विश्व कप 2015 के बाद से दक्षिण अफ्रीका के लिए सर्वाधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज हैं, इस विश्व कप में केवल 8 विकेट लेने में सफल रहे हैं। उनका औसत (42.62) और स्ट्राइक-रेट (51) भी कुछ खास नहीं है। यह 24 वर्षीय गेंदबाज बांग्लादेश और पाकिस्तान के विरुद्ध एक भी विकेट लेने में असफल रहा। नतीजतन दक्षिण अफ्रीका दोनों मैच हार गई थी।

दक्षिण अफ्रीका पहले ही सेमीफाइनल की दौड़ से बाहर हो चुकी है और वह 6 जुलाई को मैनचेस्टर में टेबल-टॉपर्स ऑस्ट्रेलिया के साथ भिड़ेगी।

#1. ग्लेन मैक्सवेल, ऑस्ट्रेलिया

ग्लेन मैक्सवेल
ग्लेन मैक्सवेल

स्टार खिलाड़ी ग्लेन मैक्सवेल क्रिकेट विश्व कप से पहले अच्छे फॉर्म में थे और उन्होंने द्विपक्षीय एकदिवसीय श्रृंखला में पाकिस्तान के खिलाफ तीन अर्धशतक भी जमाये थे। इस विध्वंसक बल्लेबाज ने बांग्लादेश और श्रीलंका के खिलाफ छोटे -छोटे कैमियो खेले हैं, लेकिन उन्हें टूर्नामेंट में अभी भी एक बड़ी पारी खेलना बाकी है।

विक्टोरिया में जन्मे इस बल्लेबाज ने केवल एक पारी में ही 25 से अधिक गेंदों का सामना किया है। हालांकि वह बल्ले के साथ 190.67 की स्ट्राइक रेट से रन बना रहे है, लेकिन औसत 24 से भी कम है। अब तक 39 ओवर की गेंदबाजी करने के बावजूद, यह ऑफ ब्रेक गेंदबाज एक भी विकेट को लेने में नाकाम रहा है और 6 से अधिक की इकॉनमी से रन दिए हैं।

Edited by सावन गुप्ता
Article image

Go to article

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now