Create
Notifications

वर्ल्ड कप 2019: एमएस धोनी के अनुभव का विराट कोहली को विश्वकप में मिलेगा फायदा- सुनील गावस्कर

Enter caption
Richa Gupta
ANALYST

30 मई से इंग्लैंड में शुरू होने वाले क्रिकेट के महासमर में अब एक महीने से भी कम समय बचा है। सभी टीमों ने वर्ल्डकप की तैयारी तेज कर दी है। टूर्नामेंट के प्रमुख दावेदारों में भारत को भी अहम माना जा रहा है। ऐसे में पूर्व भारतीय खिलाड़ी सुनील गावस्कर टीम इंडिया के तीसरी बार विश्वकप जीतने के अभियान में महेंद्र सिंह धोनी की भूमिका को अहम मान रहे हैं। उन्होंने कहा कि धोनी टूर्नामेंट में भारत को बड़े स्कोर तक पहुंचाने में अहम भूमिका निभा सकते हैं।

पूर्व भारतीय कप्तान सुनील गावस्कर ने कहा कि विश्वकप में टीम इंडिया के प्रमुख खिलाड़ी के तौर पर महेंद्र सिंह धोनी होंगे। वह क्रिकेट के हर पहलू से वाकिफ हैं। यह उनके खेल की समझ तक ही सीमित नहीं है। हमारे पास शुरुआत में तीन बेहतरीन बल्लेबाज हैं। अगर वो किसी मैच में नहीं चल सके तो धोनी चौथे या पांचवें नंबर पर टीम को मजबूत स्थिति में ले जाने का भरपूर दमखम रखते हैं। वे विपक्षी टीम के खिलाफ शुरुआती झटकों के बाद भी बड़ा अंतर पैदा कर सकते हैं। धोनी की अगुआई में टीम इंडिया 2011 का विश्वकप जीत चुकी है। इससे उनका अनुभव और कीमती हो जाता है।

चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान की अगुआई में भारत ने सिर्फ 2011 का विश्वकप ही नहीं बल्कि 2007 का टी-20 विश्वकप और 2013 में पहली बार चैंपियंस ट्रॉफी भी जीती थी। धोनी इस वक्त आईपीएल में भी शानदार फॉर्म में नजर आ रहे हैं। उनकी टीम लीग मुकाबलों में टॉप पर है। गावस्कर ने आगे कहा कि हमने धोनी की विकेटकीपिंग की काबिलियत देखी है। वह विकेट के पीछे से गेंदबाज को यह तक बताते हैं कि कहां पर गेंद डालनी है और कहां पर नहीं। किस तरह का क्षेत्ररक्षण उस गेंदबाज के मुताबिक लगवाना है। इसमें कोई शक नहीं कि कप्तान विराट कोहली का आधे से ज्यादा काम धोनी आसान कर देंगे। क्योंकि जब वह लॉन्ग ऑन या लॉन्ग ऑफ में लगे होंगे तो उन्हें बल्लेबाज को बारीकी से समझने में दिक्कत होगी। धोनी के अनुभव का कोहली को विश्वकप में भरपूर फायदा मिलेगा।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्टसकीड़ा पर पाएं

Edited by Naveen Sharma
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now