Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

वर्ल्ड कप 2019: सेमीफाइनल बारिश से धुलने पर अनोखे नियम से कोई एक टीम फाइनल में जाएगी

  • पढ़िए किस अनोखे नियम का इस्तेमाल वर्ल्ड कप सेमीफाइनल और फाइनल में होगा
Naveen Sharma
FEATURED WRITER
फ़ीचर
Modified 20 Dec 2019, 23:25 IST

Enter caption

वर्ल्ड कप 2019 के लीग मैच इस समय चल रहे हैं और कई टीमों को हार और जीत का स्वाद चखने को मिला है। ख़ास बात यह है कि लीग मैचों में बारिश से धुलने वाले मैचों के बाद टीमों में 1-1 अंक बांटा जा रहा है। कहने का मतलब यह है कि अगले दिन रिजर्व डे नहीं है। हालांकि लीग मैचों के बाद आने वाले मैचों में कई चीजें बदलेगी और आईसीसी ने इसके लिए तमाम तरह के नियमों की जानकारी भी दी है। इन नियमों से बारिश की स्थिति में सेमीफाइनल और फाइनल में किस तरह टीमों को फायदा होगा इस बारे में आईसीसी के नियम इस तरह हैं।

1. सुपर ओवर-

सेमीफाइनल और फाइनल मैच टाई रहने की स्थिति में सुपर ओवर से नतीजा निकाला जाएगा। लीग मैचों में यह नियम नहीं है।

2. अंक तालिका में समान अंक होने की स्थिति आने पर-

इस स्थिति में लीग मैचों में जीते गए मैच, नेट रनरेट, हेड टू हेड मैचों का परिणाम और टूर्नामेंट से पहले टीमों की स्थिति के बारे में जानने के बाद जो टीम श्रेष्ठ होगी वही सेमीफाइनल में जाएगी।

3. रिजर्व डे-

सेमीफाइनल और फाइनल मैच में बारिश होने की स्थिति में अगला दिन रिजर्व रखा गया है, मुकाबला अगले दिन खेला जा सकेगा। हालांकि लीग मैचों में इसकी व्यवस्था नहीं है।

4. सेमीफाइनल दोनों दिन बारिश से धुलेगा तब-

लीग मैचों में जो भी टीम अंक तालिका में ऊपर थी उसे फाइनल के लिए क्वालिफाई माना जाएगा।

Advertisement

5. फाइनल के दोनों दिन बारिश आ गई तब-

ऐसी स्थिति में दोनों टीमों को संयुक्त विजेता घोषित किया जाएगा। 2002 की चैम्पियंस ट्रॉफी के दोनों दिन बारिश ने खेल नहीं होने दिया था तब भारत और श्रीलंका दोनों को विजेता घोषित किया गया था।

Hindi Cricket Newsसभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं।

Published 11 Jun 2019, 16:18 IST
Advertisement
Fetching more content...