वर्ल्ड कप 2019: 7 खिलाड़ी जो अपनी फील्डिंग से मैच का रुख पलट सकते हैं

Enter caption

जैसा कि आप सभी जानते हैं कि क्रिकेट के खेल में जितना महत्व बल्लेबाजी और गेंदबाजी का होता है उससे कहीं अधिक महत्व फील्डिंग का होता है। दक्षिण अफ्रीका के पूर्व खिलाड़ी जोंटी रोड्स ने अच्छी फील्डिंग की बदौलत कई 'मैन ऑफ द मैच अवॉर्ड जीते। भारत की ओर से मोहम्मद कैफ ने भी अपनी फील्डिंग की बदौलत ही भारतीय टीम को कई फंसे हुए मैचों में जीत दिलाई थी। इसके अलावा वर्ल्ड टी20 चैंपियनशिप में बांग्लादेश के खिलाफ आखिरी गेंद पर महेंद्र सिंह धोनी के रन आउट को भला कौन भूल सकता है।

वर्ल्ड कप 2019 की शुरुआत 30 मई से होने वाली है । इस वर्ल्ड कप में विश्व की 10 सर्वश्रेष्ठ टीमें हिस्सा ले रहीं है और सभी टीमें जबरदस्त मेहनत कर रहीं हैं। लेकिन इंग्लैंड के पिच पर यह मुकाबला आसान नहीं होगा। जो टीम बल्लेबाजी, गेंदबाजी और क्षेत्ररक्षण तीनों विभागों में चुस्त रहेगी वही टीम वर्ल्ड कप का खिताब जीत सकती है।

आज हम बात करने जा रहे हैं उन 7 फील्डर्स के बारे में जो अच्छी फील्डिंग करके अपने टीम के लिए वरदान साबित हो सकते हैं।

#7. फाफ डू प्लेसी:

Enter caption

दक्षिण अफ्रीका की ओर से पूर्व खिलाड़ी जोंटी रोड्स ने फील्डिंग का पैमाना ही बदल दिया था। उनकी विरासत को फाफ डू प्लेसी ने संभाल कर रखा है। दक्षिण अफ्रीका क्रिकेट टीम के 34 वर्षीय कप्तान फाफ डू प्लेसी जितने अच्छे बल्लेबाज हैं उतने ही अच्छे फील्डर भी हैं। उन्होंने इस साल आईपीएल में भी कई शानदार कैच लपके। चेन्नई सुपर किंग्स की ओर से खेलते हुए डू प्लेसी ने इस सीजन कुल 12 कैच लपके थे। इसके अलावा वे साल 2019 में 10 मैचों में 6 कैच लपक चुके हैं। फाफ डू प्लेसी ने अपने अंतरराष्ट्रीय करियर में134 वनडे मैचों में कुल 71 कैच लपके हैं।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्टसकीड़ा पर पाएं।

#6. ट्रेंट बोल्ट (न्यूजीलैंड):

Enter caption

कीवी तेज गेंदबाज ट्रेंट बोल्ट जितनी तेज गेंदबाजी करते हैं, उतनी ही अच्छी फील्डिंग भी करते हैं। तेज गेंदबाज होने का फायदा उनके फील्डिंग को को भी मिलता है, जिसके कारण वे गेंद को तेजी से थ्रो करते हैं। ट्रेंट बोल्ट अक्सर सीमा रेखा के पास फील्डिंग करते हुए नजर आते हैं। उन्हें पिछले साल आईपीएल में 'परफेक्ट कैच ऑफ द सीजन' का अवॉर्ड मिला था। ट्रेंट बोल्ट ने साल 2019 में 10 वनडे मैचों में 7 कैच अभी तक लपके हैं।

#5. ग्लेन मैक्सवेल:

Enter caption

ऑस्ट्रेलिया की टीम सभी विभागों में मजबूत टीम है। इस टीम में डेविड वॉर्नर, स्टीव स्मिथ और आरोन फिंच जैसे शानदार फील्डर भी मौजूद हैं । इन सबके अलावा अगर हम ग्लेन मैक्सवेल की बात करें तो उनकी फील्डिंग और भी दुरुस्त हुई है। वे अपने वनडे करियर में अब तक 61 कैच लपक चुके हैं। जबकि साल 2019 में उन्होंने 13 मैचों में 11 कैच लपके हैं।

#4. मार्टिन गप्टिल:

Enter caption

32 वर्षीय मार्टिन गप्टिल जितने ही अच्छे सलामी बल्लेबाज हैं उतने ही शानदार फील्डर भी हैं। वो अपने करियर में अब तक 169 वनडे मैच खेल चुके हैं, जिसमें उन्होंने 81 कैच लपके हैं। मार्टिन गप्टिल ने साल 2019 में 10 मैचों में हिस्सा लेते हुए 6 कैच अब तक पकड़ चुके हैं। गप्टिल अपनी शानदार फील्डिंग से मैच का रूख पलट सकते हैं।

#3. रविंद्र जडेजा:

Enter caption

भारतीय टीम के शानदार ऑलराउंडरों में शुमार रविंद्र जडेजा एक बेहतरीन फील्डर हैं। रविंद्र जडेजा डायरेक्ट हिट के लिए जाने जाते हैं जिससे बल्लेबाजों को खतरा और भी बढ़ जाता है। साल 2017 के चैंपियंस ट्रॉफी के बाद से उनके वनडे करियर में बहुत से उतार चढ़ाव आए हैं, लेकिन जब-जब मौका मिला है उन्होंने उसमें अपना शत-प्रतिशत दिया है। रविंद्र जडेजा ने अपने करियर में 161 मैच खेले हैं जिसमें उन्होंने 53 कैच लपके हैं। रविंद्र जडेजा इंग्लैंड की पिचों पर जितनी अच्छी गेंदबाजी कर सकते हैं उतनी ही अच्छी फील्डिंग भी कर सकते हैं।

#2. बेन स्टोक्स (इंग्लैंड):

Enter caption

बेन स्टोक्स इंग्लैंड के सबसे बेहतरीन फील्डरों में शुमार हैं। उन्होंने इस साल आईपीएल में भी केदार जाधव का स्लिप पर एक शानदार कैच लपका था, जिसमें वे सुपरमैन की तरह उड़ते दिखे थे। उन्होंने अब तक 81 वनडे मैचों में हिस्सा लिया है, जिसमें वे 42 कैच पकड़ चुके हैं। इसके अलावा उन्होंने इस साल 9 मैचों में 4 कैच भी लपके हैं। बेन स्टोक्स इंग्लैंड के लिए तुरुप के इक्के हैं जो तीनों विभागों में जबरदस्त प्रदर्शन करते हैं।

#1. हार्दिक पांड्या (भारत):

Enter caption

ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या इस समय भारतीय टीम के शानदार क्षेत्ररक्षकों में शुमार है। वे गेंद को पकड़ने के लिए किसी भी तरह से डाइव लगा सकते हैं। वे जितनी अच्छी गेंदबाजी और बल्लेबाजी करते हैं उससे कहीं अच्छी फील्डिंग भी करते हैं। उन्होंने इस आईपीएल में भी 11 कैच पकड़े थे। जबकि अपने करियर में खेले 45 मैचों में 19 बार कैच पकड़ चुके हैं। हार्दिक पांड्या भारतीय टीम के लिए वरदान साबित हो सकते हैं।

Quick Links

Edited by सावन गुप्ता